S M L

‘अगर मेरे नाम से उनकी खबरें बिकती हैं... तो शुभकामनाएं’

मुझे कोई अफसोस नहीं, क्योंकि मैं हमेशा सही बात करता हूं : कोहली

Bhasha Updated On: Mar 24, 2017 07:38 PM IST

0
‘अगर मेरे नाम से उनकी खबरें बिकती हैं... तो शुभकामनाएं’

विराट कोहली का मानना है कि उनका मन साफ है और ऐसी चीज का पक्ष लेने में कुछ भी गलत नहीं है जिसे वह सही मानते हैं. ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का एक वर्ग अपनी क्रिकेट टीम के बदले में भारतीय कप्तान से भिड़ा हुआ है. उनके लिए ‘शेषनाग’ जैसे शब्द का उपयोग किया गया और उनकी तुलना अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से की गई.

ये सब आलोचनाएं स्टीव स्मिथ के डीआरएस को लेकर ‘भूलवश’ टिप्पणी और बाद में ऑस्ट्रेलियाई क्षेत्ररक्षकों द्वारा भारतीय फिजियो पैट्रिक फारहार्ट के मजाक उड़ाने के आरोपों से शुरू हुई. कोहली से पूछा गया कि वह अपनी भावनाओं पर कैसे काबू पाते हैं तो उन्होंने थोड़ा व्यंग्यात्मक लहजे में जवाब दिया.

भारतीय कप्तान ने उनकी आलोचना करने वाले ऑस्ट्रेलियाई मीडिया और पूर्व खिलाड़ियों के संदर्भ में कहा, ‘मैं हमेशा सही चीजों का पक्ष लेता हूं. हमेशा सही काम करता हूं और हमेशा वह बात करता हूं जो मुझे लगता है कि सही है. मुझे इसको लेकर खेद नहीं है. मेरे पास पीछे लौटकर बदलने के लिये कुछ भी नहीं है. मुझे केवल इतनी हैरानी है कि एक व्यक्ति से इतने अधिक लोग प्रभावित हो गए इसलिए उन्हें शुभकामनाएं. अगर इससे उनकी खबरें बिकती हैं तो शुभकामनाएं.’

कोहली ने कहा कि उनके लिए यह अधिक मायने रखता है कि उनकी टीम के साथी उनके बारे में क्या सोचते हैं. उन्होंने कहा, ‘ये सब बाहरी दुनिया में हो रहा है. मैं अंदरूनी चीजों पर गौर करने की कोशिश करता हूं कि एक क्रिकेटर और एक व्यक्ति के रूप में मुझमें क्या सुधार करने की जरूरत है. मेरे साथी और करीबी व्यक्ति मेरे बारे में क्या सोचते हैं. ये चीजें (आलोचनाएं) मेरे लिए कोई मायने नहीं रखती. मैंने अपने करियर के शुरू में भी ऐसी आलोचनाएं झेली थी. मैं पहले भी इनका सामना कर चुका हूं.’

स्टीव स्मिथ का मानना है कि पिछला मैच ड्रॉ कराकर उनकी टीम का मनोबल बढ़ा है. लेकिन कोहली की सोच अलग तरह की है. कोहली ने कहा, ‘हर किसी की अपनी सोच है. पहली पारी में 450 रन के स्कोर का पीछा करते हुए जीत की स्थिति में पहुंचना, निश्चित तौर पर हम इस तरह से सोचेंगे कि हमने चीजों को अच्छी तरह से बदला क्योंकि उन्हें ड्रॉ के लिए खेलना पड़ा. हम कल भी ऐसा प्रदर्शन करना चाहेंगे. हमारे लिए उस मैच में नकारात्मक के बजाय काफी सकारात्मक पक्ष रहे.’ लेकिन उन्होंने माना है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने इस पूरी श्रृंखला में गंभीर चुनौती पेश की है. कोहली ने कहा, ‘उन्होंने वास्तव में अच्छी क्रिकेट खेली है. मैं इसको गलत नहीं कहता. मैं यह नहीं कहूंगा कि उन्होंने चुनौती पेश नहीं की है. जहां जरूरी है आपको श्रेय देना चाहिए.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi