S M L

अंडर19 वर्ल्ड कप: आखिरी भिड़ंत से पहले जानें कैसा रहा भारत-ऑस्ट्रेलिया का अबतक का सफर

दोनों टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ अभियान की शुरुआत की थी अब दोनों फाइनल में आमने सामने हैं

FP Staff Updated On: Feb 02, 2018 02:25 PM IST

0
अंडर19 वर्ल्ड कप: आखिरी भिड़ंत से पहले जानें कैसा रहा भारत-ऑस्ट्रेलिया का अबतक का सफर

शनिवार को न्यूजीलैंड के माउंट मौंगानुई में भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें अपना चौथा अंडर19 वर्ल्ड कप खिताब जीतने उतरेंगी. इस बार भारतीय टीम ने पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन क्रिकेट खेलते हुए फाइनल में जगह बनाई है. भारत ने सभी मैचों में बड़ी जीत हासिल  की हैं. अब उसका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से है जो पूरे टूर्नामेंट में सिर्फ भारत से ही हारी है. दोनों टीमों ने अपने टूर्नामेंट की शुरुआत एक दूसरे के खिलाफ ही की थी और अब दोनों एक बार फिर एक दूसरे के सामने हैं. दोनों टीमों के फाइनल तक के सफर पर एक नजर

भारत का सफर

भारत को ग्रुप बी में रखा गया था. भारत ने 14 फरवरी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभियान की शुरुआत की थी. भारत के लिए ग्रुप का यही मैच मुश्किल हो सकता था. भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. भारत की सलामी जोड़ी कपतान पृथ्वी शॉ और मनजोत कालरा के आलवा शुभमन की पारियों की मदद से भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 329 रनों का लक्ष्य दिया. ऑस्ट्रेलिया की टीम ने अच्छी शुरुआत की लेकिन कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी की गेंदबाजी के आगे ऑस्ट्रेलिया कमाल नहीं कर पाई और 228 रनों पर ऑलआउट हो गई. भारत ने मैच 100 रनों से जीता. कप्तान पृथ्वी शॉ को 94 रनों की पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया जाएगा.

इसके बाद भारत का सामना पापुआ न्यू गिनी से हुआ. पापुआ न्यू गिनी को पहले बल्लेबाजी करने का मौका मिला. मैन ऑफ द मैच रहे अनुकूल रॉय के साथ मिलकर भारतीय गेंदबाजों ने पापुआ न्यू गिनी को 64 रनों पर ही समेट दिया. भारत ने यह लक्ष्य बिना कोई विकेट खोए पृथ्वी के नाबाद 57 रनों की मदद से आठ ओवर में ही हासिल कर लिया.

भारत का आखिरी लीग मैच जिम्बाब्वे के खिलाफ था. भारत ने यह मैच भी 10 विकेट से जीता. भारत को 155 रनों का लक्ष्य मिला था. हार्विक देसाई और शुभमन गिल की सलामी जोड़ी ने यह लक्ष्य 21.4 ओवर में ही हासिल कर लिया. क्वार्टरफाइनल में भारत को सामना बांग्लादेश से हुआ. भारत ने टॉस जीता और बांग्लादेश को 266 रनों का लक्ष्य दी. हालांकि बांग्लादेश की पूरी टीम 134 रन ही बना सकी और भारत 131 रनों से मैच जीत लिया.

shubhman gill

भारत को सेमीफाइनल में चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान की चुनौती मिली. भारत ने यहां भी खुद को साबित किया. भारत ने शुभमन गिल की 86 रनों का पारी की बदौलत 273 रनों का लक्ष्य पाकिस्तान को दिया. पाकिस्तान बल्लेबाज भारतीय तेज गेंदबाजों के कहर से नहीं बच पाए और पूरी टीम बस 64 रन ही बना पाई. भारत ने 203 रनों से बड़ी जीत के साथ फाइनल में प्रवेश किया.

ऑस्ट्रेलिया का सफर

भारत से पहले मुकाबले में हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने कोई और मैच नहीं हारा. ऑस्ट्रेलिया ने पापुआ न्यू गिनी को 311 रन से हराया वहीं जिम्बाब्वे को सात विकेट से मात दी. पापुआ गिनी के खिलाफ जेसन राल्सटन ने सात विकेट लेकर नया रिकॉर्ड कायम किया.

ऑस्ट्रेलिया का क्वार्टरफाइनल में सामना हुआ इंग्लैंड से. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की लेकिन पूरी टीम 127 रनों पर ही ऑलआउट हो गई. बल्लेबाजों के फ्लॉप रहने पर जिम्मा संभाला गेंदबाजों ने और इंग्लैंड को 96 रनों पर ही ऑलआउट हो कर दिया. ऑस्ट्रेलिया ने मैच 31 रन से अपने नाम किया. ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल में आसान विरोधी मिला.

u19 aus

मजबूत ऑस्ट्रेलिया का सामना अफगानिस्तान से था. अफगानिस्तान ने 181 रन बनाकर ऑलआउट हो गई वहीं ऑस्ट्रेलिया ने यह लक्ष्य चार विकेट खोकर 37.3 ओवर में हासिल किया और फाइनल में जगह बनाई.

भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ने सबसे ज्यादा तीन-तीन बार खिताब अपने नाम किया है. पिछड़ी भिड़ंत और आंकड़ों के दम पर भारत ऑस्ट्रेलिया पर भारी पड़ता दिखता है. दोनों के बीच की फाइनल भिड़ंत तीन फरवरी को माउंट मौंगानुई में होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi