S M L

अंडर-19 विश्व कप रोमांचक चुनौती और सभी खिलाड़ियों के लिए अच्छा मौका है- द्रविड़

कोच राहुल द्रविड़ का लक्ष्य कुछ खिलाड़ियों का अगले छह से आठ महीने में भारत ए टीम में चयन कराना है

FP Staff Updated On: Dec 27, 2017 09:05 PM IST

0
अंडर-19 विश्व कप रोमांचक चुनौती और सभी खिलाड़ियों के लिए अच्छा मौका है- द्रविड़

भारत के अंडर-19 कोच राहुल द्रविड़ को प्रतिभाओं को तलाशने के फन में माहिर माना जाता है. द्रविड़ का अगला लक्ष्य विश्व कप खेलने जा रही जूनियर टीम के कुछ खिलाड़ियों का अगले छह से आठ महीने में भारत ए टीम में चयन कराना है.

द्रविड़ ने अंडर-19 टीम की रवानगी से पहले मुंबई में प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘विश्व कप रोमांचक चुनौती है और इन सभी के लिए अच्छा मौका है. भारतीय अंडर-19 क्रिकेट में अब यह प्रक्रिया है कि अंडर-19 से प्रथम श्रेणी क्रिकेट और फिर भारत ए और अंत में भारतीय टीम में चयन का मौका. मैं इन खिलाड़ियों से दूसरे प्रारूपों के बारे में भी बात कर रहा हूं. यदि वे अगले छह- आठ महीने में भारत ए टीम में जगह बना सके तो बहुत अच्छा होगा. यह मील का पत्थर साबित होगा.’ भारत के मौजूदा अंडर 19 कप्तान पृथ्वी शॅा न्यूजीलैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में भारत ए के लिए खेल चुके हैं.

द्रविड़ ने यह कयास लगाने से इनकार किया कि मौजूदा खिलाड़ियों में से कौन सीनियर स्तर पर जगह बना सकता है. उन्होंने कहा, ‘अंडर-19 और भारत ए टीम का कोच होने के नाते मैंने इतने वर्षों में बहुत कुछ सीखा है. ये सभी खिलाड़ी अलग पीढी के हैं और इनकी सोच अलग है. इन्हें तीनों प्रारूपों के अनुरूप खुद को ढालना है. यह बड़ी चुनौती है. खेल अब काफी बदल गया है. मैं नहीं कह सकता कि कौन जाएगा और कौन नहीं. सभी में अपने राज्य और भविष्य में भारत की नुमाइंदगी करने का जज्बा है.’

न्यूजीलैंड में 13 जनवरी से शुरू हो रहे अंडर-19 विश्व कप में भारत की संभावना के बारे में पूछने पर द्रविड़ ने कहा कि उन्हें अच्छे प्रदर्शन का पूरा यकीन है. उन्होंने कहा, ‘न्यूजीलैंड में हालात काफी चुनौतीपूर्ण होंगे और इस टीम में से कोई भी पहले वहां नहीं खेला है. हालात के अनुरूप ढलना अहम होगा. हमने बेंगलुरु में शिविर में वैसे ही हालात बनाकर अभ्यास किया है, लेकिन पूरी तरह से ऐसा नहीं किया जा सकता.’ तीन बार की चैंपियन भारतीय टीम पिछली बार उपविजेता रही थी. उसे इस बार जिंबाब्वे और पूर्वी एशिया से क्वालीफायर पापुआ न्यू गिनी के साथ ग्रुप में रखा गया है.

भारतीय टीम के कई सदस्य प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल चुके हैं जिनमें कप्तान शॉ, पंजाब के शुभम गिल, हरियाणा के हिमांशु राणा, बंगाल के ईशान पोरेल शामिल हैं. द्रविड़ ने कहा, ‘टीम में ऐसे खिलाड़ियों का होना हमेशा अच्छा रहता है जिनके पास प्रथम श्रेणी का अनुभव हो. इस टीम में भी कुछ ऐसे हैं. हमारे पास अच्छा तेज और स्पिन आक्रमण और बल्लेबाजी क्रम है,’

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi