S M L

अंडर 19 वर्ल्ड कप 2018: गुरु द्रविड़ के यह पांच शिष्य दिलाएंगे वर्ल्ड कप!

भारत अपना चौथा अंडर 19 वर्ल्ड कप खिताब जीतने के लिए शनिवार को ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगा

Updated On: Feb 02, 2018 08:00 PM IST

FP Staff

0
अंडर 19 वर्ल्ड कप 2018:  गुरु द्रविड़ के यह पांच शिष्य दिलाएंगे वर्ल्ड कप!

भारतीय टीम अपना चौथा अंडर 19 वर्ल्ड कप खिताब जीतने शनिवार को मैदान पर उतरेगी. सामने तीन बार की ही चैंपियन ऑस्ट्रेलिया होगा. अब तक इस टूर्नामेंट में एक भी मैच ना हारने वाली भारतीय टीम ने अब तक शानदार खेल दिखाया है.

पृथ्वी शॉ भारतीय टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ ने कप्तान के अलावा एक बल्लेबाज के तौर पर भी शानदार प्रदर्शन किया है. पृथ्वी ने टूर्नामेंट की चार पारियों में 98.72 की स्ट्राइक रेट से 232 रन बनाए हैं. एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर उन्होंने हर बार टीम को ठोस शुरुआत दी है. उनकी पारी से आगे आने वाले बल्लेबाजों पर ज्यादा दबाव नहीं होता. वह दो बार अर्धशतकीय पारी खेल चुके हैं. पृथ्वी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में टूर्नामेंट में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 94 रनों की पारी खेली थी. टीम एक बार फिर से उनसे ऐसी ही उम्मीद रखेगी.

कमलेश नागरकोटी

भारत के इस तेज गेंदबाज ने विराधी बल्लेबाजों को बहुत परेशान किया है. इनकी रफ्तार के सामने बल्लेबाजों का टिकना मुश्किल हो जाता है. 149 किमी तक की रफ्तार से गेंद पेंकने वाले नागरकोटी भारतीय गेंदबाजी का अहम हिस्सा होंगे. पांच मैचों में नागरकोटी ने सात विकेट लिए हैं.

kamlesh nagarkoti

उनकी ताकत सिर्फ रफ्तार नहीं है. वह सही समय पर रनों की गति पर अंकुश लगाते हैं. पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में भले ही उन्होंने कोई विकेट हासिल नहीं किया हो लेकिन उन्होंने पांच ओवर में सात ही रन दिए और एक मेडन ओवर भी डाला. ऐसे में एक बार पिर उनपर अहम जिम्मदारी होगी.

शुभमन गिल

भारतीय बल्लेबाजों में सबसे सफल बल्लेबाज बनकर उभरे हैं शुभमन. पिछले लगातार तीन मैचों में मैन ऑफ द मैच का खिताब हासिल करने वाले गिल सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे नंबर पर हैं. शुभमन ने पाकिस्तान के खिलाफ भारत की ओर से पहला शतक लगाया था. गिल को जिम्बाब्वे के खिलाफ ओपनर के तौर पर उतारा गया था. गिल इस रोल में बी हिट रहे और उन्होंने 90 रनों की पारी खेली थी. शुभमन के पास टीम के उप-कप्तान के तौर पर अतिरिक्त भार भी हैं.

शिवम मावी

डेल स्टेन को अपना आदर्श मानने वाले शिवम में उन्हीं के जैसा अग्रेशन भी दिखता. वह बल्लेबाज के दिमाग में डर बिठाने का काम बखूबी करते हैं. भारत के 5’9’’ का यह  गेंदबाज भले ही दिखने में तेज गेंदबाज जैसा नहीं लतगता लेकिन विरोधी बल्लेबाजों के दिमाग में रफ्तार से डर पैदा करना जरूर जानते हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में शिवम ने तीन विकेट लिए थे. ऐसे में टीम को उनसे और उम्मीदें होंगी.

अनुकूल रॉय

भारतीय टीम के इस खिलाड़ी ने अपने ऑलराउंड प्रदर्शन से अब तक टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है. अनुकूल अब तक टूर्नामेंट में 12 विकेट ले चुके हैं. पापुआ न्यू गिनी के खिलाफ उन्होंने पांच विकेट लिए थे जिसकी बदौलत पूरी टीम 67 रनों पर ऑलआउट हो गई थी.

anukul roy

इसके बाद जिम्बाब्वे के खिलाफ भी उन्होंने चार विकेट लिए थे. इसके बाद सेमीफाइनल में उन्होंने सही समय पर 33 रनों की अहम पारी खेली थी. उम्मीद है कि फाइनल में भी वह गेंद और बल्ले दोनों से टीम के लिए जिम्मेदारी निभाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi