S M L

अलविदा 2016: वर्ल्ड क्रिकेट के टॉप 10 यादगार लम्हे

साल 2016 में वर्ल्ड क्रिकेट में आए कई उतार चढ़ाव वाले पल

Updated On: Dec 27, 2016 04:07 PM IST

Lakshya Sharma

0
अलविदा 2016: वर्ल्ड क्रिकेट के टॉप 10 यादगार लम्हे

साल 2016 में क्रिकेट की दुनिया में कई बड़े कारनामे हुए. श्रीलंका ने ऑस्ट्रेलिया से टेस्ट सीरीज जीती तो दक्षिण अफ्रीका वनडे सीरीज 5-0 से जीता लेकिन इन सब के बीच ये साल वेस्टइंडीज क्रिकेट के लिए यादगार साल रहा. यहां हम ऐसे ही उन 10 पलों की बात कर रहे हैं जिनके नतीजों ने साल 2016 में क्रिकेट के मैदान पर क्रिकेटरों के हैरतअंगेज कारनामों की बानगी लिखी.

वेस्टइंडीज का वर्ल्ड क्रिकेट पर कब्जा

west indies

साल 2016 वेस्टइंडीज क्रिकेट के लिए यादगार साल रहा, इस साल वेस्टइंडीज की अंडर 19 टीम ने वर्ल्डकप जीता. उसके बाद भारत में हुए टी20 वर्ल्डकप में भी वेस्टइंडीज की पुरुष टीम और महिला ने टीम खिताब पर कब्जा जमाया. बांग्लादेश में हुए अंडर 19 वर्ल्डकप में वेस्टइंडीज ने फाइनल में भारत को हराकर खिताब जीता.

वहीं पुरुष टीम ने इंग्लैंड को हराकर दूसरी बार टी20 कप पर कब्जा जमाया. फाइनल के आखिरी ओवर में वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर ब्रेथवेट ने लगातार 4 छक्के लगाकार वेस्टइंडीज को हारा हुआ मैच जीता दिया. इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज को आखिरी ओवर में 19 रन चाहिए थे, और सामने गेंदबाज के बेन स्टोक्स.  ब्रेथवेट ने ओवर की चार बॉल पर 4 छक्के लगा कर वेस्टइंडीज को एतेहासिक जीत दिला दी. इस पारी के बाद ब्रेथवेट पूरी दुनिया में छा गए.

पुरुष की तरह वेस्टइंडीज की महिला टीम ने भी शानदार प्रदर्शन किया और फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर खिताब जीता. क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी देश की सभी टीमों ने एक ही साल में वर्ल्डकप जीता हो.

अपने आखिरी मैच में मैकलम का तूफान

macculam

अपने पूरे करियर में ही ब्रेंडन मैकलम ने कई तूफानी खेली.  कई बार उन्होंने आतिशी पारियां खेल अपनी टीम को यादगार जीत दिलाई.  लेकिन साल 2016 की शुरुआत में मैकलम ने अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला.  जब वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेल रहे थे तो वैसे ही वह मैच यादगार बन गया था.

मैकलम तो मैकलम ठहरे. अपने आखिरी मैच में उन्होंने टेस्ट क्रिकेट का सबसे तेज शतक लगाया. मैकलम ने केवल 54 गेंद पर शतक ठोंककर मिस्बाह उल हक और सर विवियन रिचर्ड्स के 56 गेंदों पर बनाए गए शतक का रिकॉर्ड तोड़ दिया. मैकलम ने अपने आखिरी मैच में 145 रन बनाए. इस पारी में उन्होंने 21 चौके और 6 छक्के लगाए. हालांकि इस पारी के बावजूद न्यूजीलैंड की टीम ये टेस्ट मैच 7 विकेट से हार गई थी.

दो सीरीज में ऑस्ट्रेलिया का वाइट वॉश

smith

एक समय था जब वर्ल्ड क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया का डंका बजता था. ऑस्ट्रेलिया को हराने में किसी भी टीम के पसीने छूट जाते थे. लेकिन साल 2016 ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट के लिए किसी बुरे सपना की तरह रहा. इस साल ऑस्ट्रेलिया का प्रदर्शन बद से बतर रहा. साल 2016 ऑस्ट्रेलिया के लिए वाइट वॉश का साल रहा. लेकिन जीत का नहीं हार का.

इस साल ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 3-0 से गंवा दी. उसके बाद वनडे क्रिकेट में भी उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज 5-0 से गंवा दी. ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट इतिहास में यह पहली बार हुआ था कि कंगारू टीम पर एक साल में दो बार वाइट वॉश से हार का कलंक लगा हो.

सिमंस ने भारत को किया टी20 वर्ल्डकप से बाहर

simmos

इस साल टी20 वर्ल्डकप भारत में हुआ. मेजबान होने के कारण भारत इस खिताब का प्रबल दावेदार था. भारतीय टीम का विजय रथ सेमीफाइनल तक पहुंचा लेकिन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भारत वेस्टइंडीज से भिड़ा. भारत ने विराट कोहली के शानदार 89 रन की पारी बदौलत वेस्टइंडीज के सामने 193 रन का लक्ष्य रखा. बड़े स्कोर के बाद बुमराह ने अपने पहले ही ओवर में क्रिस गेल को आउट कर भारत के फाइनल में पहुंचने की राह आसान कर दी.

वेस्टइंडीज के एक खिलाड़ी लेंडल सिंमस के इरादे उस दिन कुछ और ही थे. लेंडल ने 51 गेंद पर 82 रन बनाकर भारत को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया. हालांकि सच में वो दिन सिंमस का ही था क्योंकि इस दिन इस खिलाड़ी को 3 जीवनदान मिले. इस मैच में सिंमस प्लेचर की जगह टीम में शामिल हुए थे, और सिर्फ एक दिन पहले ही वेस्टइंडीज से इंडिया पहुंचे थे.

बांग्लादेश का स्वर्णिम साल

bangladesh

बांग्लादेश के क्रिकेट फैंस साल 2016 को कभी नहीं भूल सकते. क्योंकि वर्ल्ड टी20 से पहले एशिया कप टूर्नामेंट पहली बार इसी फॉर्मेट में खेला गया और सभी को चौंकाते हुए मेजबान बांग्लादेश इसके फाइनल में पहुंच गया. मशरफे मुर्तजा के नेतृत्व में टीम ने इसके लिए पूर्व चैंपियन श्रीलंका और पाकिस्तान को हराया. हालांकि फाइनल में भारतीय टीम बांग्लादेश पर भारी पड़ी.

इसके बाद टेस्ट क्रिकेट में कमजोर बांग्लादेश ने अपने ही घर में इंग्लैंड को ना केवल कड़ी टक्कर दी बल्कि दो टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर की. बांग्लादेश ने पहली बार इंग्लैंड को टेस्ट मैच में मात दी. इंग्लैंड ने 19 साल के स्पिनर मेंहदी हसन के आगे घुटने टेक दिए थे

इंग्लैंड ने वनडे इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर बनाया

england

इंग्लैंड को वैसे तो वनडे क्रिकेट की अच्छी टीम नहीं माना जाता. लेकिन इस साल उसके वनडे प्रदर्शन में शानदार निखार आया. इंग्लैंड की वनडे टीम इस समय काफी मजबूत लगती है. इसी वजह से इंग्लैंड ने पाकिस्तान के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण के सामने वनडे इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया.

इंग्लैंड ने हेल्स की शानदार 171 रन की पारी के बदौलत 444 रन का स्कोर बना डाला. इससे पहले यह रिकॉर्ड श्रीलंका के नाम था. श्रीलंका ने साल 2006 में नीदरलैंड्स के खिलाफ 443 रन का स्कोर बनाया था.

पाकिस्तानी खिलाड़ियों का जीत के बाद पुशअप

pak

पाकिस्तान के लिए साल 2016 मिलाजुला रहा, लेकिन पाकिस्तान टीम की साल की सबसे बड़ी उपलब्धि रही. इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में टेस्ट मैच जीतना. ये जीत तो मशहूर हो ही गई लेकिन जीत के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों का अनोखा जश्न भी पूरी दुनिया ने देखा.

टेस्ट मैच जीतने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ी जीत का जशन मनाते हुए पुशअप करने लगे. पुशअप करने का सिलसिला यूनुस खान ने शुरू किया. इसके बाद कप्तान मिस्बाह भी इसका हिस्सा बन गए और देखते ही देखते पूरी पाकिस्तानी टीम पुशअप करनी लगी. हालांकि इसके बाद पाक बोर्ड ने पाकिस्तान टीम पर ऐसा करने के लिए बैन लगा दिया.

शफीक की साहसिक पारी से हारते हारते बचा ऑस्ट्रेलिया

shafiq

साल के अंत में पाकिस्तान के बल्लेबाज अशद शफीद से एक यादगार पारी देखने को मिली. पाकिस्तान ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 329 रन बना. इसके जवाब में पाकिस्तान की टीम केवल 142 रन पर सिमट गई, इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी 202 रन पर घोषित कर पाक सामने 490 रन का पहाड़ जैसा लक्ष्य रखा.

पहली पारी के घटिया प्रदर्शन के बाद क्रिकेट जानकार मान रहे थे कि ऑस्ट्रेलिया आसानी से टेस्ट मैच जीत जाएगी. लेकिन ऐसा हुआ नहीं. पाकिस्तान ने जबरदस्त संघर्ष दिखाया. खासकर शफीक ने शानदार 137 रन की पारी खेली.

पाकिस्तान एक बार यह टेस्ट मैच जीत सकता था. उसे 41 रन की जरुरत थी और उसके 2 विकेट बचे थे.  लेकिन गलत वक्त पर शफीक आउट हो गए. जिसके कारण पाक टीम 450 रन पर ऑलआउट होकर 39 रन से टेस्ट मैच हार गई. हार के बावजूद शफीक की पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला.

बेन स्टोक्स के तूफान में उड़ा साउथ अफ्रीका

stokes

बेन स्टोक्स. इस गेंदबाज को आप शायद इसलिए भी जानते हो क्योंकि टी20 वर्ल्डकप में ब्रेथवेट ने इन्ही की गेंद पर लगातार 4 छक्के जड़े थे. जिस कारण से इंग्लैंड टूर्नामेंट नहीं जीत पाया था. लेकिन स्टोक्स वर्ल्ड क्लास बल्लेबाज भी है. इसकी झलक उन्होंने दिखाई साल की शुरुआत में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में. स्टोक्स ने दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका के गेंदबाजों की ऐसी हालत की जिसे भूल पाने उनके लिए आसान नहीं होगा.

दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड एक समय 223 रन पर 5 विकेट गंवा कर मुश्किल में थी. लेकिन इसके बाद बेन ने आतिशी बल्लेबाजी की. मोर्कल और रबाड़ा जैसे गेंदबाजों को भी उन्होंने नहीं बक्शा.

उस मैच में स्टोक्स ने 258 रन की पारी खेली. उन्होंने ना केवल दोहरा शतक लगाया बल्कि इंग्लैंड की तरफ से सबसे तेज और टेस्ट इतिहास का दूसरा सबसे तेज दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया. स्टोक्स ने केवल 163 गेंद पर अपना पहला दोहरा शतक लगाया. 258 रन की पारी में उन्होंने 30 चौके और 11 छक्के लगाए थे.

मोहम्मद आमिर की इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी        

aamir

साल 2016 ने स्पॉट फिक्सिंग में फंसे पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर के लिए क्रिकेट करियर को एक नया जीवनदान दिया. आमिर पर साल 2010 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगा. जिस वजह से उन पर 6 साल का प्रतिबंध लगा था.

प्रतिबंध खत्म होने के बाद भी उनकी पाकिस्तान की टीम में वापसी आसान नहीं थी. एक बार तो पाकिस्तान के ओपनर मोहम्मद हफीज ने ट्रेनिंग सेशन में हिस्सा लेने से सिर्फ इसलिए मना कर दिया क्योंकि आमिर को भी उस सेशन में हिस्सा लेने की इजाजत दी गई थी. उस समय आमिर ने रोते हुए हफीज से अपनी पिछली गलती की माफी मांगी. जिसके बाद हफीज ने उसे माफ कर दिया.

इसके बाद मोहम्मद आमिर की पाकिस्तान टीम में वापसी भी शानदार रही. एशिया कप में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया. भारत के खिलाफ उनका बॉलिंग स्पैल लंबे वक्त तक याद किया जाएगा. वहीं विराट कोहली ने भी मैच शुरू होने से पहले आमिर को अपना बैट गिफ्ट किया. इस पल ने भी खूब सुर्खिया बटोरी.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi