S M L

बीसीसीआई के अध्यक्ष को पता ही नहीं चला और अफगानिस्तान के पहले टेस्ट का ऐलान हो गया

टीम इंडिया के साथ अफगानिस्तान के पहले टेस्ट की जगह और तारीख तय करने के फैसले में बोर्ड के कई आला अधिकारियों को शामिल नहीं किया गया

Updated On: Jan 17, 2018 01:46 PM IST

FP Staff

0
बीसीसीआई के अध्यक्ष को पता ही नहीं चला और अफगानिस्तान के पहले टेस्ट का ऐलान हो गया

बीसीसीआई और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आपसी सहमति से अफागानिस्तान के टेस्ट क्रिकेट के आगाज की तारीख और जगह का ऐलान तो कर दिया लेकिन इस ऐलान से बीसीसीआई के अधिकारियों के बीच के मतभेद भी उजागर हो गे हैं. खबर है कि जब अफगानिस्तान के खिलाफ ऐतिहासित टेस्ट के कार्यक्रम को लेकर कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी और वरिष्ठ सदस्य राजीव शुक्ला से किसी तरह का सलाह मशविरा नहीं किया गया.

बीसीसीआई सचिव अमिताभ चौधरी और सीईओ राहुल जौहरी ने मंगलवार को घोषणा की कि भारत और अफगानिस्तान के बीच 14 से 18 जून तक टेस्ट मैच खेला जाएगा जो अफगानिस्तान का पहला टेस्ट होगा.

बीसीसीआई के संविधान के अनुसार सामान्य परंपरा यह है इंटरनेशनल मैच के आयोजन स्थल और तारीख को लेकर कोई भी फैसला दौरा और कार्यक्रम उप समिति करती है.

अध्यक्ष, सचिव और कोषाध्यक्ष इस समिति के पदेन सदस्य होते हैं जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शुक्ला भी इस समिति में शामिल हैं.

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘हां, किसी ने भी इस फैसले को लेकर पदाधिकारियों से सलाह मशविरा नहीं किया क्योंकि किसी ने भी प्रोटोकाल के अनुसार उप समिति की बैठक नहीं बुलाई. अफगानिस्तान से खेलने का फैसला आम सभा (दिसंबर में एसजीएम में) में किया गया और अब तारीख और मैदान  की घोषणा के दौरान सदस्यों की अनदेखी की गई.’

जौहरी भी प्रतिक्रिया के लिए अनुपलब्ध थे लेकिन सचिव चौधरी के करीबी अधिकारी ने बताया कि फिलहाल दौरा और कार्यक्रम समिति से स्वीकृति लेने की कोई जरूरत नहीं है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi