S M L

क्या आंध्र प्रदेश में डिप्टी कलेक्टर बनना पीवी सिंधु को पड़ा महंगा!

तेलंगाना सरकार ने CWG 2018 में मेडल जीतने पर नहीं दिया नगद पुरस्कार

FP Staff Updated On: May 18, 2018 12:46 PM IST

0
क्या आंध्र प्रदेश में डिप्टी कलेक्टर बनना पीवी सिंधु को पड़ा महंगा!

2016 में रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने पर सिंधु को तेलंगाना और आंध्र प्रदेश, दोनों राज्यों की ओर से पुरस्कार मिला था लेकिन अब कॉमनवेल्थ खेलों में मेडल जीतने पर सिंधु को तेलंगाना राज्य ने पुरस्कार नहीं दिया है.

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में ही पली-बढ़ी सिंधु के पिछले साल आंध्र प्रदेश की सरकार ने डिप्टी कलेक्टर के पद पर नियुक्त किया था लिहाजा अब तलंगाना सरकार ने पुरस्कार देने के मामले में उन्हें नजरअंदाज कर दिया है.

समाचार पत्र डेक्कन क्रॉनिकल की खबर के मुताबिक तेलंगाना सरकार ने हाल ही में गोल्ड कोस्ट में मेडल जीतने वाले सूबे के एथलीट्स को पुरस्कार देते वक्त पीवू सिंधु को नजरअंदाज कर दिया है. सरकार की ओर से महिला सिंगल्स में गोल्ड मेडल और टीम इंवेंट में गोल्ड जीतने वाली सायना नेहवाल को 50 लाख रुपए, एन सिक्की रेड्डी को 30 लाख रुपए और ऋत्विका शिवानी को 20 रुपए का पुरस्कार दिया.

56 किलोग्राम की कैटेगरी में ब्रॉन्ड मेडल जीतने वाले बॉक्सर हसामुद्दीन को 25 लाख रुपए को इनाम दिया गया लेकिन महिला सिंगल्स में सिल्वर मेडल विजेता पीवी सिंधु को इनाम पाने वाले एथलीट्स की लिस्ट से बाहर कर दिया गया है.

रियो ओलिंपिक में मेडल जीतने पर तेलंगाना सरकार से सिंधु को 5 करोड़ रुपए और हैदराबाद में एक प्लॉट इनाम के तौर पर मिले थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi