S M L

पल्लेकले टेस्ट जीतते ही 'विराट ब्रिगेड' के नाम होगा ये बड़ा रिकॉर्ड

तीसरा टेस्ट जीतते ही पहली बार भारतीय टीम विदेशी सरजमीं पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करेगी.

FP Staff Updated On: Aug 09, 2017 05:10 PM IST

0
पल्लेकले टेस्ट जीतते ही 'विराट ब्रिगेड' के नाम होगा ये बड़ा रिकॉर्ड

अपने 85 साल के टेस्ट इतिहास में अब तक सिर्फ एक बार विदेशी सरजमीं पर किसी सीरीज में तीन टेस्ट मैच जीतने वाली भारतीय टीम को अब श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में न सिर्फ लगभग 50 साल बाद यह उपलब्धि दोहराने बल्कि विदेश में पहली बार लगातार तीन टेस्ट मैच जीतने का सुनहरा मौका मिला है.

12 अगस्त से है तीसरा टेस्ट

विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम ने श्रीलंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले दोनों मैच आसानी से जीते हैं और अगर वह पल्लेकले में 12 अगस्त से शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में भी अपना विजयी अभियान बरकरार रखती है तो फिर यह पहला अवसर होगा जबकि भारतीय टीम विदेशी सरजमीं पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करेगी.

भारत ने इससे पहले सिर्फ एक बार विदेशी धरती पर किसी सीरीज में तीन टेस्ट मैच जीते. मंसूर अली खां पटौदी की अगुवाई वाली टीम ने फरवरी, मार्च 1968 में न्यूजीलैंड को चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-1 से हराया था. इस दौरान हालांकि टीम ड्यूनेडिन में पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद क्राइस्टचर्च में दूसरा टेस्ट मैच हार गयी थी. इसके बाद भारत ने वेलिंगटन और ऑकलैंड टेस्ट जीते थे

1986 में भी मिला था ऐसा मौका

मौजूदा सीरीज से पहले भारत को 1986 में इंग्लैंड में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज़ जीतने का मौका मिला था लेकिन कपिल देव की टीम पहले दोनों टेस्ट मैच जीतने के बाद तीसरे टेस्ट को ड्रॉ करा बैठी थी. पाकिस्तान के खिलाफ 2004 में पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद भारत दूसरा मैच हार गया था लेकिन उसने तीसरा टेस्ट जीतकर सीरीज अपने नाम की थी.

विदेश में इन दो टीमों को कर चुके हैं क्लीन स्वीप

अगर हम विदेशों में क्लीन स्वीप की बात करें तो भारत अब तक सिर्फ बांग्लादेश और जिम्बाब्वे के खिलाफ ही यह करिश्मा कर पाया है लेकिन तब सीरीज एक या फिर दो टेस्ट मैचों तक सीमित थी. भारत ने बांग्लादेश को 2000 में एक टेस्ट, 2004 और 2010 में दो-दो टेस्ट मैचों की सीरीज में हराया था. इस बीच उसने ज़िम्बाब्वे को उसकी धरती पर दो मैचों में 2-0 से हराया था.

भारत हालांकि अपनी सरज़मीं पर इससे पहले तीन या इससे अधिक टेस्ट मैचों में क्लीन स्वीप कर चुका है. भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को चार मैचों की सीरीज में 4-0 से हराया था. मोहम्मद अजहरूद्दीन की टीम ने 1993-94 में इंग्लैंड और श्रीलंका का तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में सूपड़ा साफ किया था.

कोहली की अगुवाई में टीम ने पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ यही करिश्मा दोहराया था. पिछले साल ही भारतीय टीम ने इंग्लैंड को पांच मैचों की सीरीज में 4-0 से हराया था जबकि 2015 में उसने दक्षिण अफ्रीका को चार मैचों की सीरीज में 3-0 से शिकस्त दी थी.

पहले दो टेस्ट में भारत को मिली आसान जीत

मौजूदा सीरीज़ में भारत ने गॉल में खेले गए पहले टेस्ट मैच में श्रीलंका को 304 रन और कोलंबो में दूसरे टेस्ट मैच में पारी और 53 रन से पराजित किया था. भारतीय टीम की बेहतरीन फॉर्म को देखते हुए पल्लेकल में भी वह जीत के प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगी.

भारत इससे पहले कभी पल्लेकले में टेस्ट मैच नहीं खेला है जबकि श्रीलंका ने यहां जो पांच टेस्ट मैच खेले हैं उनमें से एक में उसे हार और एक में जीत मिली है जबकि बाकी तीन मैच ड्रॉ रहे हैं. भारत ने पल्लेकल में हालांकि एक वनडे और एक टी20 मैच खेला है और दोनों में उसने जीत दर्ज की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi