Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

आईपीएल 10: ये हैं चैंपियन हैदराबाद के मजबूत और कमजोर फैक्टर्स

हैदराबाद की टीम है संतुलित, वॉर्नर के सुरक्षित हाथों में कप्तानी

Lakshya Sharma Updated On: Apr 05, 2017 04:09 PM IST

0
आईपीएल 10: ये हैं चैंपियन हैदराबाद के मजबूत और कमजोर फैक्टर्स

इंटरनेशनल क्रिकेट के लंबे सीजन के बाद अब बारी है आईपीएल की. भारत की इस फटाफट लीग की शुरुआत 5 अप्रैल से होगी. रोमांच और रफ्तार से भरपूर इस टूर्नामेंट में 8 टीमें हिस्सा ले रही हैं. पिछले साल सनराइजर्स हैदराबाद ने खिताब जीता था. हैदराबाद ने फाइनल में बेंगलुरु को हराकर पहली बार खिताब जीता. केन विलितो जानते है कि इस साल क्या है हैदराबाद की ताकत और क्या है कमजोरी

दुनिया का सबसे खतरनाक ओपनर है टीम का कप्तान

जिस ओपनर के बल्ले का डंका दुनिया में बजता है वह इस टीम का कप्तान है. उसका नाम है डेविड वॉर्नर. वॉर्नर की कप्तानी में ही हैदरबाद ने पिछले साल खिताब जीता था. पिछले साल इस खिलाड़ी ने बता दिया था कि वह अच्छे ओपनर के साथ शानदार कप्तान भी हैं

वॉर्नर का बल्ला भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भले ही न चला हो लेकिन आईपीएल में उनका बल्ला खूब चलता है. पिछले सीजन उन्होने कई मैच अपने बलबूते जिताए थे. अब तक वॉर्नर ने आईपीएल के 100 मैचों में 38 की औसत से 3373 रन बनाए हैं, इस दौरान उनके नाम 2 शतक और 32 अर्धशतक शामिल हैं.

हैदराबाद की बल्लेबाजी में है दम

इस टीम के पास हर परिस्थिति के हिसाब से बल्लेबाज है. वॉर्नर के साथ भारतीय गब्बर शिखर धवन ओपनिंग करते दिखाई देंगे. वहीं मिडिल ऑर्डर में सिक्सर किंग युवराज सिंह, ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर मोएसिज हेनरिकेस, न्यूजीलैंड की रन मशीन केन विलियम्सन, ऑस्ट्रेलिया के तूफानी फिनिशर बेन कटिंग शामिल हैं. भारत के युवा बल्लेबाज दीपक हुड्डा भी मिडिल ऑर्डर में अहम भूमिका निभाते आएं हैं.

गेंदबाजी में हैं संतुलन

गेंदबाजी में भी ये टीम काफी संतुलित नजर आ रही है. हैदराबाद के पास तेज गेंदबाजी में आशीष नेहरा का अनुभव है. वहीं भुवनेश्वर की स्विंग और डेथ ओवर में उनकी कजूंसी भरी गेंदबाजी हैदराबाद के लिए काफी काम आएगी. इनके अलावा बांग्लादेश के सुपरस्टार गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहीम भी इस टीम का तुरुप का इक्का है. हालांकि वह सीजन में खेलेंगे या नहीं इस पर अभी संशय बना हुआ है. तेज गेंदबाज बरिंदर सरां भी तेज गेंदबाजी के महत्वपूर्ण स्तंभ हैं.

स्पिन की जिम्मेदारी 43 साल के प्रवीण तांबे और बिपुल शर्मा के कंधे पर होगी. दोनों ही स्पिनर्स का अब तक का आईपीएल सफर अच्छा रहा है.

अफगानी खिलाड़ियों पर किया भरोसा

हैदराबाद की टीम ने इस बार अफगानिस्तान के दो खिलाड़ी मोहम्मद नबी और रशीद खान पर भरोसा दिखाया है. मोहम्मद नबी अच्छी स्पिन गेंदबाजी के साथ तूफानी बल्लेबाजी के लिए भी माहिर हैं. वहीं लेग स्पिनर रशीद खान की फिरकी को समझना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं होगा. रशीद खान के नाम इंटरनेशनल टी20 मैचों में बेस्ट गेंदबाजी का रिकॉर्ड है. रशीद ने हाल में ही आयरलैंड के खिलाफ 3 रन देकर 5 विकेट लिए थे.

खिलाड़ियों की खराब फिटनेस है टीम की बड़ी कमजोरी

हैदराबाद की बड़ी परेशानी है उसके खिलाड़ियों की खराब फिटनेस. आशीष नेहरा कितने मैच खेलेंगे ये शायद उन्हे भी नहीं पता. वह कब चोटिल हो जाएं कोई नहीं जानता. वहीं मुस्ताफिजुर अगर खेलते है तो भी उनकी फिटनेस पर सबकी निगाहें होगी क्योंकि वह भी लगातार चोटिल हो रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया के हेनरिकेस का फिटनेस स्तर भी ज्यादा अच्छा नहीं हैं.

टीम - डेविड वॉर्नर (कप्तान), तन्मय अग्रवाल, रिकी भुई, बिपुल शर्मा, बेन कटिंग, शिखर धवन, एकलव्य द्विवेदी, मोइजेज हेनरिकेस, दीपक हुड्डा, क्रिस जॉर्डन, सिद्धार्ध कौल, भुवनेश्वर कुमार, बेन लॉफलिन, अभिमन्यु मिथुन, मोहम्मद नबी, मोहम्मद सिराज, मुस्तफिजुर रहमान, आशीष नेहरा, नमन ओझा, राशिद खान, विजय शंकर, बरिंदर सरां, प्रवीण ताम्बे, केन विलियमसन, युवराज सिंह.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi