S M L

क्या है क्रिकेट पर स्टार स्पोर्ट्स के एकछत्र राज का मतलब

स्टार ने लगातार तीन बड़ी डील करके आने वाले पांच सालों के लिए ज्यादातर क्रिकेट मीडिया और ब्रॉडकास्टिंग राइट्स हासिल कर लिए

Updated On: Apr 07, 2018 08:10 PM IST

Neeraj Jha

0
क्या है क्रिकेट पर स्टार स्पोर्ट्स के एकछत्र राज का मतलब

स्टार इंडिया ने भारतीय क्रिकेट टीम के घरेलू सीरीज और साथ ही घरेलू क्रिकेट के मीडिया अधिकारों को अगले पांच साल के लिए 6138.1 करोड़ देकर अपने नाम कर लिया. इस तरह से भारतीय क्रिकेट पर अपना एक वास्तविक एकाधिकार पूरा कर लिया. पिछली दफा 2012 में स्टार को ये अधिकार करीब 3851 करोड़ रुपये में मिला था. इस बार इसकी कीमत करीब 40 प्रतिशत अधिक है.

लगातार तीसरी बड़ी क्रिकेट डील

स्टार के लिए क्रिकेट अधिग्रहण की यह एक हैट-ट्रिक है - कुछ महीने पहले ही सोनी को पीछे छोड़ उन्होंने आईपीएल अधिकार भी करीब 16000 करोड़ में जीता था.  इसके अलावा  2023 तक उनके पास आईसीसी क्रिकेट राइट्स भी हैं. इसका मतलब यह हुआ कि अगले पांच साल के लिए अगर आपको भारतीय क्रिकेट का मैच देखना है, तो आपके पास स्टार स्पोर्ट्स का कनेक्शन होना चाहिए. यानी स्टार अब बन गया है भारतीय क्रिकेट का वन स्टॉप डेस्टिनेशन.

स्टार के लिए अब तक की सबसे बड़ी जीत है. इसके साथ ही इनका हॉटस्टार ओटीटी प्लेटफॉर्म भी डिजिटल स्पेस में सबसे ऊपर है - स्पोर्ट्स में तो इनकी बराबरी ही नहीं है. फेसबुक और गूगल जैसे प्रतियोगियों को इस बार अधिकारों के लिए प्रतिस्पर्धा करने की उम्मीद की थी लेकिन स्टार के बोली के सामने सारे फीके पड़ गए.

हालांकि यह खबर विज्ञापनदाताओं के लिए उतनी अच्छी नहीं है. कम्पटीशन के कमी की वजह से वो बाजार में अब डिवाइड एंड रूल पालिसी नहीं अपना सकेंगे. यानी स्टार जो मूल्य तय करेगा उसे उन्हें मानना ही पड़ेगा.

इस पूरी रणनीति के पीछे टीवी उद्योग के सबसे बड़े मास्टरमाइंड स्टार के सीईओ उदय शंकर का हाथ है. उनके नेतृत्व में स्टार के पास आज की तारीख़ में सिर्फ क्रिकेट की अगर हम बात करे तो करीब 34,365 करोड़ का अधिकार है जिसमे 2015 से 2023 तक आईसीसी की ऑडियो विज़ुअल राइट्स, 2018 -2022 तक का आईपीएल अधिकार और इस हफ्ते मिली बीसीसीआई के अगले पांच सालों का टीवी और डिजिटल अधिकार.

uday_shankar

उदय का मानना है कि क्रिकेट देश का सबसे बड़ा खेल है, और इसे और भी बड़ा किया जा सकता है. उदय कहते है की जब स्टार ने खेल प्रसारण में कदम रखा तो हमारी रणनीति स्पष्ट थी कि क्रिकेट को और भी बड़ा और अच्छा करना है. स्टार स्पोर्ट्स को हमें क्रिकेट का गढ़ बनाना है. इसके साथ ही हम कुछ अन्य खेलों को विकसित करने का प्रयास करेंगे. अभी तक हमने अपने उद्देश्यों को हासिल करने में सफलता पाई है.

क्रिकेट की दीवानगी का फायदा स्टार को

भारत में क्रिकेट की दीवानगी दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है. स्टार के पास एक विशाल और बढ़ती दर्शकों की संख्या के साथ साथ अब इस खेल पर एकाधिकार भी है. आईपीएल पर नज़र डालें तो पिछले दो साल में इसको देखनेवाले लोगों की संख्या दोगुनी हो गई और 2017 आईपीएल तक ये आंकड़ा 40 करोड़ तक पहुंच गया था.। टेलीविजन पर इसकी संख्या बढ़ती ही जा रही है. जैसे-जैसे मोबाइल डेटा सस्ता हो रहा है और स्मार्टफोन की संख्या बढ़ रही है -   काउंटरपॉइंट रिसर्च के अनुमान को अगर हम मानें तो 2022 तक 65 करोड़ भारतीय इंटरनेट से जुड़ चुके होंगे जो डिजिटल व्यूअरशिप में वृद्धि को बढ़ावा देगा. इसका फायदा कही न कही हॉटस्टार को मिलेगा.

बीसीसीआई के आगे पांच साल होने वाले घर में होने वाले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर नज़र डालें तो इस साल कुल 18 मैच होने हैं- दूसरे साल के कैलेंडर में 26 मैच हैं जबकि तीसरे साल सिर्फ 14. एफटीपी में चौथे साल अभी तक 23  मैच है और आखिरी साल इनकी संख्या 21 है. पूरे पांच साल में 102 मैच होने हैं. उस हिसाब से स्टार को औसतन करीब 60 करोड़ हर मैच के लिए देना होगा. यहां ये जानना जरूरी है कि बोर्ड ने ई ऑक्शन में  पहले साल के लिए अपना बेस प्राइस प्रति मैच 43 करोड़ रखा था, और अगले चार सालों के लिए 40 करोड़ पर मैच था.

ipl2

स्टार के इस रणनीति ने भले ही सोनी और दूसरे प्रतिद्वंद्वियों को पीछे छोड़ दिया हो, लेकिन सवाल ये है की क्या स्टार क्रिकेट में करीब 35000 करोड़ से ज्यादा के निवेश को बाज़ार से निकाल पाएगा? ये काम इतना आसान नहीं होगा और इसकी पहली परीक्षा इस साल की आईपीएल होगी, जो स्टार पहली बार दिखाएगा. दबाव तो है और यही वजह है कि स्टार आईपीएल का प्रसारण 6 भाषाओं में कर रहा है.

उधर पब्लिक ब्रॉडकास्टर दूरदर्शन के साथ आईपीएल फीड शेयर करने की समस्या अलग. स्टार के सामने ये एक बहुत बड़ी चुनौती होगी. लेकिन उदय शंकर एक बाज़ीगर हैं जो हर चुनौती को अभी तक सफलता में बदलने में कामयाब रहे हैं. उदय के इस मास्टर स्ट्रोक ने एक बात तो तय कर दी है की भारत में क्रिकेट अगर देखना है तो आपके पास स्टार का कनेक्शन होना जरूरी है - इसे ही कहते है बाज़ार पर एकछत्र राज.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi