S M L

गेंद से छेड़खानी के मामले में श्रीलंकाई कप्तान, कोच और मैनेजर चार वनडे और दो टेस्ट के लिए निलंबित

तीनों को खेल भावना के विपरीत आचरण का दोषी पाया जाने के बाद प्रतिबंध लगाया गया

Updated On: Jul 16, 2018 06:37 PM IST

FP Staff

0
गेंद से छेड़खानी के मामले में श्रीलंकाई कप्तान, कोच और मैनेजर चार वनडे और दो टेस्ट के लिए निलंबित

श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल, कोच चंदिका हथुरुसिंघे और मैनेजर असांका गुरुसिंघा पर इस साल की शुरुआत में वेस्टइंडीज दौरे पर गेंद से छेड़खानी प्रकरण को लेकर साउथ अफ्रीका दौरे के पहले चार वनडे और दो टेस्ट का प्रतिबंध लगा दिया गया है. तीनों को खेल भावना के विपरीत आचरण (कोड ऑफ कंडक्ट) का दोषी पाया जाने के बाद ये प्रतिबंध लगाया गया.

स्वतंत्र न्यायिक आयुक्त माइकल बेलोफ ने तीनों पर आठ निलंबन अंक लगाए जिसके मायने हैं कि वे साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले चार वनडे और दोनों टेस्ट से बाहर रहेंगे. तीनों को आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन ने 19 जून को आईसीसी आचार संहिता की धारा 2.3.1 के उल्लंघन का दोषी पाया जो खेल भावना के विपरीत आचरण से संबंधित है.

आईसीसी के बयान में कहा गया, ‘आठ निलंबन अंक के मायने दो टेस्ट, चार वनडे या आठ वनडे और टी-20 से निलंबन है. न्यायिक आयुक्त द्वारा दी गई व्यवस्था के तहत दोनों सहयोगी स्टाफ भी निलंबित रहेंगे.’ इन तीनों पर छह डिमेरिट अंक भी लगाए गए हैं.

दरअसल वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगा. जब अंपायर ने उन पर आरोप लगाया तो पूरी श्रीलंका टीम तीसरे दिन मैच पर उतरने के लिए राजी नहीं हुई. इसके बाद मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ और अंपायर इयान गाउल्ड और अलीम दार के समझाने पर टीम मैदान में खेलने उतरी. इसके बाद इन तीनों ने आइसीसी के सामने अपनी गलती मान ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi