विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

बीसीसीआई अध्यक्ष के लिए मेरा नाम लेना जल्दबाजी: गांगुली

गांगुली ने कहा, अच्छा होगा कि इसके लिए मेरा नाम न दिया जाए.

IANS Updated On: Jan 04, 2017 07:12 PM IST

0
बीसीसीआई अध्यक्ष के लिए मेरा नाम लेना जल्दबाजी: गांगुली

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बीसीसीआई का अगला अध्यक्ष पद बनने की अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि इस संबंध में किसी निर्णय पर पहुंचना अभी जल्दबाजी होगी.

सर्वोच्च न्यायालय ने बीसीसीआई के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सचिव अजय शिर्के को लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू न करने के कारण बर्खास्त कर दिया है.

गांगुली ने कहा, ‘अच्छा होगा कि इसके लिए मेरा नाम न दिया जाए. मेरा नाम लेने के पीछे कोई वजह नहीं है. अभी ऐसा कहना जल्दबाजी होगी.’

सर्वोच्च न्यायालय ने बीसीसीआई के शीर्ष पदाधिकारियों को बर्खास्त करने के बाद बोर्ड के कामकाज के संचालन के लिए अंतरिम व्यवस्था करने के साथ एमिकस क्यूरी गोपाल सुब्रमण्यम और जाने माने वकील अनिल दीवान को पदाधिकारियों के नामों का सुझाव देने के लिए कहा है.

सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा कि लोढ़ा समिति की सिफारिशों को अपनाने को लेकर अड़ियल रुख रखने वाले संबद्ध राज्य संघों के पदाधिकारियों को भी पद छोड़ना होगा. इसके अलावा लोढ़ा समिति की सिफारिशों के प्रतिकूल अधिकारियों को भी बाहर जाना होगा.

गांगुली ने इस पर कहा कि किसी के पास लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू करने के सिवा कोई विकल्प नहीं है.

गांगुली ने कहा, ‘हमारे सामने कोई और विकल्प नहीं है. इसे लागू करने के सिवा किसी के पास कोई विकल्प नहीं है. अभी भी मेरा दो वर्ष का कार्यकाल बचा हुआ है. लोढ़ा समिति की सिफारिशों के अनुसार कोई अधिकारी एक बार में सर्वाधिक तीन वर्ष पद पर बना रह सकता है.’

लेकिन गांगुली के अलावा सीएबी के कई अन्य अधिकारियों को बाहर जाना पड़ सकता है, जो लोढ़ा समिति की अनुशंसाओं पर खरे नहीं उतरते

गांगुली ने कहा, ‘मैंने बुधवार को शाम 5.0 बजे सभी अधिकारियों की एक बैठक बुलाई है. हम कोई रास्ता निकालेंगे. ऐसा नहीं है कि हमारे पास विकल्प नहीं है. हमें फिर से इसे लागू करना होगा, इसके सिवा कोई उपाय नहीं है.’

गावस्कर ने गांगुली का किया था समर्थन

दरअसल, महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने अनुराग ठाकुर को बर्खास्त करने के बाद बोर्ड के अंतरिम अध्यक्ष के रूप में पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली के नाम का समर्थन किया था.

गावस्कर से जब यह पूछा गया कि बीसीसीआई अध्यक्ष पद के लिए उन्हें कौन सा व्यक्ति उपयुक्त लगता है तो उन्होंने कहा कि बड़ी भूमिका निभाने के लिए बीसीसीआई के पास काफी अच्छे लोग हैं और मेरे दिमाग में जो एक नाम आता है वह सौरव गांगुली का है.

गावस्कर ने कहा कि याद कीजिए जब 1999-2000 में भारतीय क्रिकेट मैच फिक्सिंग प्रकरण में घिरा था, तब गांगुली को भारतीय टीम की कप्तानी सौंपी गई थी और उसने सब कुछ बदल दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi