S M L

सीनियर टीम में सेलेक्शन ना होने से प्रदर्शन पर पड़ता है असर - श्रेयस अय्यर

अय्यर ने कहा कि कप्तानी से उन्हें दबाव के हालात में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की प्रेरणा मिलती है

Updated On: Aug 14, 2018 03:16 PM IST

Bhasha

0
सीनियर टीम में सेलेक्शन ना होने से प्रदर्शन पर पड़ता है असर - श्रेयस अय्यर

भारत ए के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा है कि लगातार अच्छे प्रदर्शन के बावजूद सीनियर राष्ट्रीय टीम में नहीं चुने जाने से कभी कभार उनके प्रदर्शन पर असर पड़ता है. अय्यर ने पत्रकारों से कहा ,‘सब्र बनाए रखना बहुत मुश्किल होता है. जब आप लगातार अच्छा खेल रहे हैं, रन बना रहे हैं और फिर भी सीनियर टीम में नहीं है तो यह आपके जेहन में कौंधता रहता है. जब आप शीर्ष स्तर पर अच्छे गेंदबाजों का सामना करते हैं तो आपके प्रदर्शन में उतार चढाव आता रहता है. आपको फोकस करना पड़ता है लेकिन कई बार असर पड़ ही जाता है.’

घरेलू सर्किट में अच्छे प्रदर्शन के बाद अय्यर को वनडे टीम में जगह मिली थी. उसने इस साल फरवरी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत के लिए आखिरी वनडे खेला था. पिछले साल अय्यर ने न्यूजीलैंड ए के खिलाफ भारत ए के लिए 317 रन बनाए थे. तीन साल पहले उन्हें आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स ने चुना और दो सत्र बाद वह कप्तान बने.

अय्यर ने कहा कि कप्तानी से उन्हें दबाव के हालात में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की प्रेरणा मिलती है.

उन्होंने कहा ,‘मुझे कप्तानी पसंद है. कप्तानी से मेरा रवैया बिल्कुल बदल जाता है और मैं दबाव के हालात में अपने और टीम की ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की कोशिश करता हूं.’भारतीय स्क्वाश टीम ने 2014 एशियाई खेलों में पुरूष टीम के गोल्ड समेत चार पदक जीते थे. भारत स्क्वॉश में मलेशिया के बाद दूसरे स्थान पर रहा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi