S M L

जिसे पूरा ऑस्ट्रेलिया समझता है विलेन, उसे क्रिकेट का हीरो क्यों मानते हैं शेन वॉर्न

शोन वॉर्न ने की अपनी किताब में इंग्लैंड के इस विवादास्पद कप्तान की तारीफ

Updated On: Oct 05, 2018 06:17 PM IST

FP Staff

0
जिसे पूरा ऑस्ट्रेलिया समझता है विलेन, उसे क्रिकेट का हीरो क्यों मानते हैं शेन वॉर्न

क्रिकेट के इतिहास में ऐसी कई घटनाएं हुईं जिन्हें इस खेल को शर्मसार करने वाली हरकत मना जाता रहा है. 1932-33  की एशेज सीरीज के दौरान भी ऐसी ही घटना हुई जब ऑस्ट्रलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रेडमेन को रोकने के लिए इंग्लिश गेंदबाजों ने उनके शरीर को निशाना बनाकर गेंदबाजी की थी. क्रिकेट के इतिहास में यह सीरीज ‘बॉडीलाइन सीरीज’ के नाम से बदनाम है.

लेकिन ब्रेडमेन के ही देश ऑस्ट्रेलिया के महान स्पिनर शेन वार्न ने इस ब़ॉडीलाइन गेंदबाजी की ईजाद करने वाले क्रिकेट के इतिहास के सबसे विवादास्पद व्यक्तियों में इंग्लैंड के कप्तान रहे डगलस जार्डिन का समर्थन किया है. दुनिया के दूसरे सबसे कामयाब टेस्ट गेंदबाज वॉर्न ने 708 विकेट लिए हैं. उन्होंने इस सप्ताह प्रकाशित अपनी किताब ‘नो स्पिन ’ में जर्डिन की तारीफ की है. वार्न ने कहा कि उनका मानना है कि जॉर्डिन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से हैं. उन्होंने लिखा, ‘ डगलस जार्डिन ने ब्रैडमेन के सामने कामयाबी हासिल की और खेल के मानदंड बदलने का साहस उनमें था.’ जॉर्डिन को आस्ट्रेलियाई क्रिकेट जगत में खलनायक के रूप में देखा जाता है.

हैरॉल्ड लॉरवुड की अगुवाई में उनके तेज गेंदबाज बल्लेबाजों के शरीर को निशाना बनाते थे. उनका लक्ष्य ब्रैडमैन के बल्ले पर अंकुश लगाना होता था और उस समय ऑस्ट्रेलिया में इसे लेकर खासी नाराजगी थी. इंग्लैंड ने इसी रणनीति के चलते 4-1 से सीरीज जीती लेकिन इससे ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के क्रिकेट संबंधों में तल्खी आ गई थी.

(Input- PTI)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi