S M L

बिहार के क्रिकेटरों के आए अच्छे दिन, अब रणजी ट्रॉफी में दिखेगी बिहार की टीम

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद 18 साल बाद अगले सीजन से सभी घरेलू टूर्नामेंट्स में बिहार की टीम आएगी नजर

Updated On: Jan 04, 2018 04:51 PM IST

FP Staff

0
बिहार के क्रिकेटरों के आए अच्छे दिन, अब रणजी ट्रॉफी में दिखेगी बिहार की टीम

देश की सबसे बड़ी अदालत यानी सुप्रीम कोर्ट से बिहार के लिए गुरुवार को अच्छी खबर आई है. करीब 18 साल बाद अब एक बार फिर से बिहार की क्रिकेट टीम, रणजी ट्रॉफी जैसे देश के घरेलू मुकाबलों में भागीदारी करती दिखेगी. सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई को निर्देश जारी किया है कि अगले सीजन से बिहार की टीम को घरेलू टूर्नामेंट्स में हिस्सा लेने की मंजूरी दी जाए.

साल 2000 के बाद से बीसीसीआई की फुल मेंबरशिप ना होने की वजह से बिहार की टीम रणजी ट्रॉफी में भागीदारी नहीं रह रही थी. अदालत का कहना था कि बिहार के क्रिकेटरों के हित में यह जरूरी है कि उन्हें रणजी ट्रॉफी जैसे बड़े टूर्नामेंट्स में भागीदारी करने दी जाए. हालांकि बिहार क्रिकेट ऐसोसिएशन की फुल मेंबरशिप का फैसला सुप्रीम कोर्ट के बनाई प्रशासकों का समिति यानी सीओए करेगी जिसके मुखिया विनोद राय है.

बीसीसीआई ने बिहार के जूनियर क्रिकेटरों और महिला क्रिकेट टीम के बोर्ड के सभी टूर्नामेंट्स में भागीदारी करने की मंजूरी दे दी थी और इसके लिए साल 2017-18 के मौजूदा सीजन के शेड्यूल में भी बदलाव किया गया था. अब अदालत के इस आदेश के बाद बिहार के मुख्य टीम को भी रणजी ट्रॉफी में हिस्सा लेना सुनिश्चित हो गया है.

साल 2001 में जब बिहार के निकलकर झारखंड नया राज्य बना था तब बीसीसीआई ने बिहार की जगह झारखंड के बोर्ड की फुल मेंबरशिप दी थी जिसके बाद से ही बिहार की टीम रणजी ट्रॉफी में भाग नहीं ले पा रही थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi