S M L

सिंधु और सायना को 'कीमती हीरे' मानते हैं गुरु गोपीचंद

सायना ने ओलिंपिक में ब्रॉन्ज (2012) अपने नाम किया तो वहीं सिंधु ने रियो ओलिंपिक में रजत पदक हासिल किया है

Updated On: May 05, 2018 08:41 PM IST

Bhasha

0
सिंधु और सायना को 'कीमती हीरे' मानते हैं गुरु गोपीचंद

भारतीय बैडमिंटन के मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद ने पीवी सिंधु और सायना नेहवाल उनकी सबसे सफल दो शिष्या को ‘कीमती हीरे’ करार दिया.

पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में में सायना ने विश्व रैंकिंग में तीसरे स्थान पर काबिज सिंधु को 21-18, 23-21 से हराकर मेडल जीता था.

गोपीचंद ने कहा , ‘कोच के तौर पर मैं सायना और सिंधु को कीमती हीरे के समान मनाता हूं. हैदराबाद की एकाडमी में जीत और हार रोज की बात है. जीत और हार खिलाड़ी को अपने खेल का स्तर ऊंचा करने के लिए प्रोत्साहित करती है.’

फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन ( एफएलओ ) के कार्यक्रम में पहुंचे गोपीचंद ने कहा , ‘प्रतियोगिता के दौरान और आने वाले मैचों से पहले मैं सायना और सिंधु का मोबाइल फोन ले लेता हूं और उनके रूम की जांच करता हूं कि उनके पास लैपटॉप या फ्रिज में चॉकलेट तो नहीं है.’

उन्होंने कहा , ‘उनके जीतने के लिए जरूरी है कि मैं सख्ती से पेश आऊं. मेरा सपना है कि मेरे शिष्य ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीते.’

सायना ने ओलिंपिक में ब्रॉन्ज (2012) अपने नाम किया तो वहीं सिंधु ने रियो ओलिंपिक में रजत पदक हासिल किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi