S M L

तेंदुलकर ने ब्लाइंड क्रिकेट को मान्यता देने के लिए बीसीसीआई को लिखा पत्र

कहा उनकी वित्तीय सुरक्षा के लिए उन्हें बीसीसीआई पेंशन स्कीम के तहत लाने पर विचार किया जाना चाहिए.

Updated On: Feb 07, 2018 03:26 PM IST

FP Editors

0
तेंदुलकर ने ब्लाइंड क्रिकेट को मान्यता देने  के लिए बीसीसीआई को लिखा पत्र

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने बीसीसीआई को एक पत्र लिखकर भारतीय ब्लाइंड क्रिकेट एसोसिएशन (CABI) को मान्यता देने को कहा और साथ ही उन्हें बोर्ड की पेंशन स्कीम के अंदर लाने को भी कहा. तेंदुलकर ने पाकिस्तान को भारत ब्लाइंड विश्व कप जीतने के सप्ताह भर बाद प्रशासक कमेटी के चेयरमैन विनोद राय को पत्र लिखकर कहा कि उन्हें सीएबीआई को मान्यता देने के लिए विचार करना चाहिए.

गौरतलब है कि 20 जनवरी को भारतीय टीम ने पाक्स्तिान को दो विकेट से हराकर लगातार चौथी बार ब्लाइंड वर्ल्ड कप (दो बार टी20 और दो बार 40 ओवर) जीता. तेंदुलकर ने कहा कि ब्लाइंड वर्ल्ड कप में हम लोगा लगातार चौथी बार भारतीय टीम का जश्न मना रहे हैं. मै बीसीसीआई से उन्हें मान्यता देने के लिए निवेदन करता हूं. क्रिकेट आइकन भारतीय ब्लाइंड क्रिकेट टीम के संघर्ष  की भावना से काफी प्रभावित हुए हैं और उन्होंने कहा कि ये लोग दूसरे लोगों के लिए उदाहरण हैं.

उनकी ये जीत हमेशा ही प्रेरणा देती है और लंबे समय तक हमें याद रहेगी.उन्होंने कहा कि ब्लाइंड क्रिकेट को मान्यता देना ही वास्तव में क्रिकेट के प्रति उनके जुनून की स्वीकृति होगी. अपने पत्र में मास्टर ब्लास्टर ने ये भी लिखा कि लंबे समय तक इनकी वित्तीय सुरक्षा के लिए चैंपियंस को बीसीसीआई पेंशन स्कीम के तहत लाने पर विचार किया जाना चाहिए.

हालांकि राय ने जीत के बाद कहा था कि वर्ल्ड कप विजेता टीम को बीसीसीआई की ओर से इनामी राशि दी जाएगी. तेंदुलकर ने कहा कि बीसीसीआई से इन्हें मान्यता मिलने पर ये भारत के खेल जगह में शारीरिक रूप से विकलांग खिलाड़ियों के लिए ये नया युग कायम करेगी, जहां हर एक खिलाड़ी सुरक्षित  महसूस करेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi