विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल : विनय कुमार की हैट्रिक से कर्नाटक ने मुंबई को 173 रन पर समेटा

कर्नाटक के कप्तान की यह प्रथम श्रेणी में दूसरी हैट्रिक

FP Staff Updated On: Dec 07, 2017 07:21 PM IST

0
रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल : विनय कुमार की हैट्रिक से कर्नाटक ने मुंबई को 173 रन पर समेटा

काफी समय से टीम इंडिया से बाहर चल रहे तेज गेंदबाज आर विनय कुमार ने रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल में मुंबई के खिलाफ हैट्रिक ले डाली. नागपुर में खेले रहे इस मैच में कर्नाटक के कप्तान विनय ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और 41 बार के चैंपियन मुंबई को 173 रन पर ढेर कर दिया.

विनय ने यह हैट्रिक दो अलग-अलग ओवरों में पूरी की. उन्होंने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर पृथ्वी शॉ को आउट किया. इसके बाद अगले ओवर की पहली दो गेंदों पर जय बिस्टा और आकाश पारकर को आउट किया. विनय कुमार ने 34 रन देकर कुल छह विकेट झटके. विनय कुमार के अलावा एस अरविंद ने दो तथा अभिमन्यु मिथुन और के गौतम ने एक-एक विकेट लिया.

रणजी ट्रॉफी में यह विनय कुमार की दूसरी हैट्रिक है. इससे पहले विनय कुमार ने महाराष्ट्र के खिलाफ 2007 में हैट्रिक ली थी. वह जोगिंदर राव (3), अनिल कुंबले और प्रीतम गंधे (दोनों 2-2) के बाद रणजी ट्रॉफी में दो या अधिक हैट्रिक लेने वाले चौथे गेंदबाज हैं.

कर्नाटक ने इसके बाद अपनी पहली पारी में अच्छी शुरुआत की और पहले दिन का खेल खत्म होने तक एक विकेट पर 115 रन बनाए. इस तरह से कर्नाटक अब मुंबई से केवल 58 रन पीछे है और उसके नौ विकेट बचे हुए हैं. मयंक अग्रवाल ने अपनी शानदार फॉर्म जारी रखी और वह 62 रन बनाकर खेल रहे हैं. उन्होंने आर समर्थ (40) के साथ पहले विकेट के लिए 83 रन जोड़े. स्टंप उखड़ने के समय मयंक के साथ मीर काउनैन अब्बास 12 रन पर खेल रहे थे.

दिल्ली के खिलाफ मध्य प्रदेश के छह विकेट पर 223 रन

सलामी बल्लेबाज अंकित दाने के अर्धशतक तथा नमन ओझा और हरप्रीत सिंह की उपयोगी पारियों की मदद से मध्य प्रदेश ने कुछ विषम पलों से गुजरने के बावजूद दिल्ली के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मैच के पहले दिन गुरुवार को छह विकेट पर 223 रन बनाए. मध्यप्रदेश ने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए. दाने (59), ओझा (49) और हरप्रीत (नाबाद 47) अभी तक कुछ योगदान दे पाए हैं. दिल्ली के लिए बाएं हाथ के स्पिनर विकास मिश्रा ने 40 रन देकर तीन विकेट लिए हैं, जबकि विकास टोकस, नवदीप सैनी और मनन शर्मा को एक-एक विकेट मिला है.

ईश्वरन ने बंगाल को शुरुआती झटकों से उबारा

सलामी बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन के शतक (129) और पांचवें विकेट के लिए अनुस्तूप मजूमदार (94) के साथ 175 रन की साझेदारी ने बंगाल को जयपुर में खेले जा रहे क्वार्टर फाइनल में गुजरात के खिलाफ शुरूआती झटकों से उबार लिया. दिन का खेल खत्म होने तक बंगाल ने छह विकेट पर 261 रन बनाए.

गुजरात ने मैच के 18वें ओवर में 59 रन बंगाल के चार विकेट चटका दिए. जिसके बाद ईश्वरन का साथ देने आए मजूमदार ने पारी को संवारा और दोनों स्कोर को 250 रन के पार ले गए. गुजरात की ओर से ईश्वर चौधरी ने तीन और चिंतन गजा को दो सफलता मिलीं. मजूमदार ने अपनी पारी में 11 चौके लगाए. उनके आउट होने के बाद ईश्वरन भी ज्यादा देर बल्लेबाजी नहीं कर सके और दिन के 83वें ओवर गजा ने उन्हें आउट किया. उन्होंने अपनी शतकीय पारी में 17 चौके जड़े. स्टंप के समय क्रीज पर बोद्दुपल्लि अमित (08 और आमिर गनी (06) मौजूद हैं.

केरल ने विदर्भ को झटके दिये

बाएं हाथ के स्पिनर केसी अक्षय के दो विकेट की मदद से केरल ने सूरत में क्वार्टर फाइनल के खराब मौसम से प्रभावित पहले दिन विदर्भ को तीन करारे झटके दिए. खराब मौसम के कारण दिन भर में केवल 24 ओवर का खेल हो पाया जिसमें विदर्भ ने तीन विकेट पर 45 रन बनाए. विदर्भ ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बेहद धीमी शुरूआत की. कप्तान फैज फजल केवल दो रन बना पाए और आठवें ओवर की अंतिम गेंद पर एमडी निधीश के शिकार बने. अक्षय ने अनुभवी वसीम जाफर (12) के रूप में अपना पहला विकेट लिया और फिर सलामी बल्लेबाज संजय रामास्वामी (17) को भी पवेलियन भेजा. उन्होंने अब तक 14 रन देकर दो विकेट लिए हैं. स्टंप उखड़ने के समय गणेश सतीश और कर्ण शर्मा दोनों सात-सात रन पर खेल रहे थे.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi