S M L

क्या इस बार कोई नई टीम बनेगी रणजी ट्रॉफी की चैंपियन!

लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के अमल में आने के बाद सात नई टीमों को मिलेगा मौका, रिकॉर्ड 37 टीमें लेगी हिस्सा

Updated On: Oct 31, 2018 04:44 PM IST

Bhasha

0
क्या इस बार कोई नई टीम बनेगी रणजी ट्रॉफी की चैंपियन!
Loading...

देश के घरेलू क्रिकेट का नया सीजन यानी रणजी ट्रॉफी  गुरुवार से शिरू हो रही है, लोढ़ा कमेटी की सिफीरिशों के अमल में आने के बाद इसमें 37 टीमें भाग लेगी जो अपना आप में एक रिकॉर्ड है. इसमें नॉर्थईस्ट की सात टीमें ऐसी हैं जो डेब्यू कर रही है.यह टूर्नामेंट क्रिकेट बोर्ड के लिए बड़ी चुनौती साबित हो सकता है जो प्रशासनिक उथलपुथल के दौर से गुजर रहा है मणिपुर, अरूणाचल प्रदेश, मिजोरम, उत्तराखंड, सिक्किम, नगालैंड, मेघालय, बिहार और पुडुचेरी की नई टीमों ने हाल में 50 ओवर के विजय हजारे ट्राफी टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था लेकिन लाल गेंद से क्रिकेट खेलना अधिक बड़ी चुनौती होगी.

कुछ लोगों का तर्क था कि टीमों को देश के शीर्ष प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट रणजी ट्राफी में धीरे-धीरे प्रगति करते हुए जगह दी जानी चाहिए थी जिसकी शुरुआत आयु वर्ग क्रिकेट से होती।

सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति ने हालांकि उन्हें सीधे इस टॉप टूर्नामेंट में जगह दी और इन नई नवेली टीमों के सामने अब बड़ी चुनौती है. ये नौ टीमें प्लेट ग्रुप में एक दूसरे के खिलाफ भिड़ेंगी जैसा कि उन्होंने हाल में विजय हजारे ट्राफी में किया था जहां 18 साल बाद घरेलू क्रिकेट में वापसी कर रहे बिहार ने अच्छा प्रदर्शन किया था. इनमें से अधिकांश टीमें हालांकि इस सत्र में अपने बाहरी खिलाड़ियों पर निर्भर हैं.

टूर्नामेंट के दौरान 50 से अधिक मैदानों का इस्तेमाल किया जाएगा जो साजो सामान की दृष्टि से बड़ी चुनौती होगी लेकिन बीसीसीआई के क्रिकेट संचालन महाप्रबंधक सबा करीम ने कहा है कि उनकी टीम इसके लिए तैयार है. करीम ने कहा है ‘हम तैयार हैं और हमने रणजी ट्राफी से पहले घरेलू टूर्नामेंटों (विजय हजारे ट्राफी, दलीप ट्राफी, देवधर ट्राफी) के सफल आयोजन से इसे साबित किया है.’

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi