S M L

Ranji Trophy 2018-19 : उत्तराखंड की लगातार छठी जीत, क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई

वह प्लेट ग्रुप में शीर्ष पर रहकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचा. उत्तराखंड इसके साथ ही अगले सत्र में ग्रुप सी में खेलेगा

Updated On: Jan 09, 2019 10:24 PM IST

Bhasha

0
Ranji Trophy 2018-19 : उत्तराखंड की लगातार छठी जीत, क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई

उत्तराखंड ने अपना बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखते हुए बुधवार को देहरादून में मिजोरम को पारी और 56 रन से हराकर अपनी छठी जीत के साथ रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. उत्तराखंड ने अपनी पहली पारी में 388 रन बनाए थे जिसके जवाब में मिजोरम 198 रन ही बना पाया और उसे फॉलोऑन करना पड़ा.

मिजोरम की टीम दूसरी पारी में भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई और खेल के तीसरे दिन ही 123 रन पर आउट हो गई. उत्तराखंड की तरफ से कप्तान रजत भाटिया ने 17 रन देकर चार और मयंक मिश्रा ने 29 रन देकर तीन विकेट लिए.

उत्तराखंड ने इस तरह से लीग चरण में आठ मैचों में 44 अंक के साथ अपने अभियान का अंत किया. वह प्लेट ग्रुप में शीर्ष पर रहकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचा. उत्तराखंड इसके साथ ही अगले सत्र में ग्रुप सी में खेलेगा.

उत्तर प्रदेश का विशाल स्कोर, क्वार्टर फाइनल में पहुंचना तय

अच्छी फॉर्म में चल रहे रिंकू सिंह (149) और विकेटकीपर बल्लेबाज उपेंद्र यादव (138) के शतकों की मदद से उत्तर प्रदेश ने असम के खिलाफ बुधवार को कानपुर में अपनी पहली पारी में विशाल स्कोर बनाकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की तरफ मजबूत कदम बढ़ाए. उत्तर प्रदेश ने असम के 175 रन के जवाब में अपनी पहली पारी में 619 रन बनाकर 444 रन की विशाल बढ़त हासिल की.

असम ने अपनी दूसरी पारी में अच्छी शुरुआत की तथा तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के 102 रन बनाए. वह अब भी उत्तर प्रदेश से 342 रन पीछे है. स्टंप उखड़ने के समय ऋषभ दास 37 और राहुल हजारिका 56 रन पर खेल रहे थे.

उत्तर प्रदेश को ग्रुप सी से दूसरा स्थान पाने के लिए पहली पारी में बढ़त हासिल करके मैच ड्रॉ कराना पर्याप्त है. उत्तर प्रदेश के अभी 38 अंक हैं जबकि उसके निकटतम प्रतिद्वंद्वी झारखंड के 33 अंक हैं. राजस्थान ग्रुप सी में 51 अंक के साथ चोटी पर रहकर पहले ही क्वार्टर फाइनल में पहुंच चुका है.

मुंबई ने जीत से अभियान का अंत किया

क्वार्टर फाइनल की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी 41 बार की चैंपियन मुंबई ने बुधवार को मुंबई में छत्तीसगढ़ को नौ विकेट से हराकर अपने अभियान का जीत से अंत किया. मुंबई को जीत के लिए 91 रन का लक्ष्य मिला था. उसने तीसरे दिन अपनी दूसरी पारी बिना किसी नुकसान के 77 रन से आगे बढ़ाई और विक्रांत औती (34) का विकेट गंवाकर बाकी बचे रन केवल 2.4 ओवर में बना दिए. जय बिस्टा 49 रन बनाकर नाबाद रहे.

छत्तीसगढ़ ने अपनी पहली पारी में 129 रन बनाए जिसके जवाब में मुंबई 188 रन पर आउट हो गया. छत्तीसगढ़ ने दूसरी पारी में 149 रन बनाए. मुंबई ने एक विकेट पर 92 रन बनाकर जीत दर्ज की. मुंबई की यह वर्तमान सत्र में पहली जीत है. इस बीच उसने दो मैच गंवाए जबकि पांच मैच ड्रॉ खेले, उसने ग्रुप ए में आठ मैचों में 17 अंक के साथ अपने अभियान का अंत किया.

हरियाणा ने सेना को छह विकेट से हराया

अंकित कुमार के नाबाद 72 रन की मदद से हरियाणा ने बुधवार को लाहली में सेना को छह विकेट से हराकर अपने अभियान का जीत से अंत किया. ग्रुप सी के इस अनौपचारिक मैच में हरियाणा के सामने 102 रन का लक्ष्य था और उसने मैच के तीसरे दिन चार विकेट पर 104 रन बनाकर जीत दर्ज की. हरियाणा का स्कोर एक समय चार विकेट पर 52 रन था, लेकिन अंकित ने एक छोर संभाले रखा और टीम को आसानी से लक्ष्य तक पहुंचाया. सेना की तरफ से नवनीत सिंह ने 22 रन देकर तीन विकेट लिए.

सेना ने अपनी पहली पारी में 170 रन बनाकर हरियाणा को 149 रन पर आउट कर दिया था. सेना की टीम हालांकि दूसरी पारी में 79 रन ही बना पाई थी. ये दोनों टीमें पहले ही क्वार्टर फाइनल की दौड़ से बाहर हो गई थी. हरियाणा के 22 और सेना के 19 अंक रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi