S M L

Ranji Trophy 2018-19 : मुंबई हुआ खिताब की दौड़ से बाहर, विदर्भ ने पारी से मात दी

मुंबई को नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखने के लिए ग्रुप ए के इस मैच में जीत की दरकार थी, लेकिन उसका लचर प्रदर्शन जारी रहा

Updated On: Jan 01, 2019 05:53 PM IST

Bhasha

0
Ranji Trophy 2018-19 : मुंबई हुआ खिताब की दौड़ से बाहर, विदर्भ ने पारी से मात दी

रिकॉर्ड 41 बार के चैंपियन मुंबई का रणजी ट्रॉफी में एक और खिताब जीतने का सपना मंगलवार को नागपुर में विदर्भ के हाथों पारी और 145 रन की करारी हार के साथ ही चकनाचूर हो गया. मुंबई को नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखने के लिए ग्रुप ए के इस मैच में जीत की दरकार थी, लेकिन उसका लचर प्रदर्शन जारी रहा. विदर्भ ने बाएं हाथ के स्पिनर आदित्य सरवटे (48 रन देकर छह विकेट) की शानदार गेंदबाजी से फॉलोऑन के लिऩ उतरे मुंबई को दूसरी पारी में 113 रन पर ढेर कर दिया।

पहली पारी में 259 रन से पिछड़ने के बाद मुंबई को फॉलोऑन खेलना पड़ा. उसके बल्लेबाजों ने बेहद खराब प्रदर्शन किया और 34.4 ओवर में पूरी टीम आउट हो गई. मातकर ने सर्वाधिक 35 रन बनाए. विदर्भ के लिए सरवटे के अलावा वाखरे और कर्णवीर ने दो-दो विेकेट लिए.

ये भी पढ़ें- रणजी ना खेलने पर आलोचना झेल रहे धोनी ने दी सफाई!

मुंबई इस सत्र में अब तक एक भी मैच नहीं जीत पाया और विदर्भ के खिलाफ भी उसकी टीम दोयम दर्जे की साबित हुई. विदर्भ ने पहली पारी में 511 रन बनाकर मुंबई को 252 रन पर समेट दिया था. मुंबई ने खेल के तीसरे दिन सुबह अपनी पहली पारी छह विकेट पर 169 रन से आगे बढ़ाई, लेकिन ध्रुमिल मातकर के नाबाद 62 रन के बावजूद वह फॉलोऑन बचाने में नाकाम रहा. विदर्भ की तरफ से ऑफ स्पिनर अक्षय वाखरे ने 85 रन देकर पांच, सरवटे ने 86 रन देकर तीन और अक्षय कर्णवीर ने 59 रन देकर दो विकेट लिए.

मुंबई की सात मैचों में यह दूसरी हार है. उसके पांच ड्रा से केवल 11 अंक हैं. उसे अंतिम दौर में छत्तीसगढ़ से भिड़ना है. दूसरी तरफ विदर्भ को इस जीत से सात अंक मिले और वह सात मैचों में तीन जीत से 28 अंक लेकर ग्रुप ए में शीर्ष पर पहुंच गया है. ग्रुप ए और बी से चोटी पर रहने वाली पांच टीमें क्वार्टर फाइनल में जगह बनाएंगी जो 15 जनवरी से खेले जाएंगे. मुंबई अगले मैच में बोनस अंक सहित जीत दर्ज करने पर भी शीर्ष पांच में शामिल नहीं हो पाएगा.

ये भी पढ़ें- Ranji Trophy 2018-19 : वसीम जाफर ने लगाया प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 55वां शतक

पंजाब ने केरल को दस विकेट से हराया

लेग स्पिनर मयंक मार्केंडेय की शानदार गेंदबाजी और सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल के नाबाद अर्धशतक की मदद से पंजाब ने मंगलवार को मोहाली में केरल को दस विकेट से हराकर रणजी ट्रॉफी के नॉकआउट में पहुंचने की अपनी उम्मीदें जीवंत रखीं. मार्केंडेय ने 56 रन देकर चार विकेट लिए, जबकि मनप्रीत गोनी, बलतेज सिंह और सिद्धार्थ कौल ने दो-दो विकेट लिए जिससे मोहम्मद अजहरूद्दीन के 112 रन के बावजूद केरल की टीम 223 रन पर सिमट गई.

पंजाब को इस तरह से जीत के लिए 128 रन का लक्ष्य मिला. शुभमन (नाबाद 69) और जीवनजोत सिंह (नाबाद 48) ने बिना किसी नुकसान के टीम का स्कोर 130 रन पर पहुंचाकर टीम को बोनस अंक दिलाया. इस जीत से ग्रुप बी में पंजाब के सात मैचों में 20 अंक हो गए हैं. केरल के भी सात मैचों में 20 अंक हैं. पंजाब ग्रुप चरण के आखिरी मैच में बंगाल से भिड़ेगा, जबकि केरल का सामना हिमाचल प्रदेश से होगा.

ये भी पढ़ें- Ranji Trophy 2018-19 : शाहबाज नदीम ने बनाए रखी झारखंड की उम्मीद, सेना को 81 रन 

रसूल की कप्तानी पारी से जम्मू-कश्मीर ने असम को हराया

कप्तान परवेज रसूल (67) और शुभम खजूरिया (67) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर जम्मू-कश्मीर ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी मैच में मंगलवार को तीसरे दिन असम को चार विकेट से शिकस्त दी. जीत के लिए 230 रन का पीछा करने उतरी जम्मू-कश्मीर की शुरुआत खराब रही. उसने 21 रन पर तीन और फिर 64 के स्कोर पर चौथा विकेट गंवा दिया.

रसूल और खजूरिया ने इसके बाद 111 रन की साझेदारी कर टीम को जीत के करीब पहुंचाया. रसूल ने इस दौरान 87 गेंद की पारी में 11 चौके लगाए. खजूरिया ने 194 गेंद में आठ चौके की मदद से 67 रन बनाए. इस साझेदारी के टूटने के बाद इरफान पठान ने नाबाद 33 रन की पारी खेल टीम की जीत सुनिश्चित की. रसूल मैन ऑफ द मैच रहे. उन्होंने असम की दूसरी पारी में तीन विकेट भी चटकाए थे. असम की ओर से अरूप दास ने दूसरी पारी में तीन और मृण्मय दत्ता ने दो विकेट लिए. दोनों टीमें पहले ही क्वार्टर फाइनल की दौड़ से बाहर हो गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi