S M L

पत्रकार रजत शर्मा की नई पारी शुरू, बीसीसीआई कार्यवाहक अध्‍यक्ष की बढ़ सकती है मुश्किलें

पत्रकार रजत शर्मा ने पूर्व क्रिकेटर मदन लाल को 517 वोट के बड़े अंतर से हराकर अपनी नई पारी शुरू की.

Updated On: Jul 02, 2018 04:05 PM IST

FP Staff

0
पत्रकार रजत शर्मा की नई पारी शुरू, बीसीसीआई कार्यवाहक अध्‍यक्ष की बढ़ सकती है मुश्किलें

पत्रकार रजत शर्मा ने पूर्व क्रिकेटर मदन लाल को हराकर दिल्‍ली एवं जिला क्रिकेट संघ डीडीसीए के नए अध्‍यक्ष बन गए हैं. शर्मा ने पूर्व क्रिकेटर मदन लाल को 517 वोट के बड़े अंतर से हराकर अपनी नई पारी शुरू की. रजत शर्मा के समूह ने सभी 12 सीटें जीतीं. शर्मा को 1,531 वोट मिले, जबकि मदन लाल को 1,004 वोट से संतोष करना पड़ा. मुकाबले में खड़े तीसरे उम्मीदवार वकील विकास सिंह को महज 232 वोट मिले. जहां एक ओर दिग्‍गज क्रिकेटर को अध्‍यक्ष पद पर हार का सामना करना पड़ा, वहीं संजय शर्मा  1241 वोटों के साथ डीडीसीए के फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेटर डायरेक्‍टर के पद पर चुने गए, उन्‍होंने अंजलि शर्मा को 350 वोटों के अंतर से हराया.

बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना को चुनाव से बड़ा झटका लगा, क्योंकि उनकी पत्नी शशि राकेश बंसल से उपाध्यक्ष पद का चुनाव हार गई. राकेश डीडीसीए के पूर्व अध्यक्ष स्नेह बंसल के छोटे भाई हैं. राकेश ने शशि को 278 वोट से हराया. उन्हें 1,364 जबकि शशि को 1,086 वोट मिले. हार के साथ डीडीसीए में खन्ना के लिए अब रास्ते बंद हो सकते हैं जहां करीब तीन दशकों से उनका वर्चस्व रहा है.

नरिंदर बत्रा भी कर रहे थे समर्थन 

रजत शर्मा और उनके पैनल की उम्मीदवारी को सत्तारूढ़ दल के एक बड़े नेता का समर्थन हासिल था और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा भी उनका पुरजोर समर्थन कर रहे थे. बत्रा पूर्व में डीडीसीए के कोषाध्यक्ष रहे हैं.

डीडीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम सार्वजनिक ना करने की शर्त पर पीटीआई से कहा कि शर्मा को एक वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री का समर्थन मिलने के साथ ही किसी दूसरे उम्मीदवार के चुनाव जीतने की कोई संभावना ही नहीं थी. हां यह उम्मीद नहीं थी कि एक पैनल सभी सीटें जीत जाएगा. यह अच्छा होगा कि शर्मा पूरी तरह मुक्त होकर डीडीसीए का संचालन करेंगे. इसका यह भी मतलब है कि डीडीसीए में सीके खन्ना के दौर का अंत हो गया .दूसरे उल्लेखनीय विजयी उम्मीदवारों में खेल समिति के पूर्व अध्यक्ष विनोद तिहाड़ा (1,374 वोट) शामिल हैं जिन्होंने सचिव पद के चुनाव में करीबी प्रतिद्वंद्वी मंजीत सिंह (998) को 376 वोटों से हराया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi