विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

युवराज सिंह को झटका, अदालत ने खारिज की उनके परिवार की खबरें छापने से रोकने की अर्जी

युवराज के परिवार ने पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट से की थी युवराज के छोटे भाई के वैवाहिक विवाद की मीडिया कवरेज को रोकने की मांग

FP Staff Updated On: Sep 19, 2017 01:44 PM IST

0
युवराज सिंह को झटका, अदालत ने खारिज की उनके परिवार की खबरें छापने से रोकने की अर्जी

टीम इंडिया से बाहर चल रहे विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह को घरेलू मोर्चे पर भी झटका लगा है. युवराज सिंह को यह झटका दिया है पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट ने. हालांकि यह केस निजी तौर पर युवराज सिंह के साथ नहीं बल्कि उनके भाई जोरावर सिंह और उनकी पत्नी के बीच विवाद के साथ जुड़ा हुआ है.

दरअसल युवराज सिंह के छोटे भाई जोरावर की पत्नी के बीच पिछले कुछ सालों से विवाद चल रहा है ऐसे में  युवराज और उनका मां शबनम सिंह ने अदालत से दरख्वास्त की थी कि मीडिया को विवाद की कवरेज करने से रोका जाना चाहिए इससे उनके परिवार की ख्याति को नुकसान हो रहा है.

युवराज के परिवार की इस याचिका को अदालत ने खारिज करते हुए कहा इसका कोई औचित्य नहीं है, इसलिए याचिका को खारिज किया जाता है.

युवराज सिंह ने जून 2015 में यह याचिका दायर की थी. तब से अब तक 19 सुनवाई हुई, लेकिन हाई कोर्ट ने किसी पक्ष को नोटिस जारी नहीं किया था. याचिका पर पहली सुनवाई पर ही कोर्ट ने टिप्पणी की थी कि संविधान में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर महज इस अंदेशे के कारण कि मीडिया में समाचार प्रकाशित होने से उनकी साख खराब होगी, रोक नहीं लगाई जा सकती है.

युवराज सिंह, उनकी मां शबनम सिंह और जोरावर सिंह ने हाई कोर्ट में याचिका दायर उनके पारिवारिक मसले पर मीडिया की दखलअंदाजी का आरोप लगाते हुए प्रतिबंध लगाने की मांग की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi