S M L

आज का दिन, 10 मार्च: भारत-पाकिस्तान का वो मैच जब मैदान पर ऑडी में घूमी थी पूरी भारतीय टीम

1985 में वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतने के बाद रवि शास्त्री को मैन ऑफ द सीरीज के तौर पर ऑडी गाड़ी मिली थी

FP Staff Updated On: Mar 10, 2018 05:34 PM IST

0
आज का दिन, 10 मार्च: भारत-पाकिस्तान का वो मैच जब मैदान पर ऑडी में घूमी थी पूरी भारतीय टीम

भारत ने जब 1983 में वर्ल्ड कप जीता उस वक्त बहुत से लोगों को ऐसा लगता था कि भारत की यह जीत महज तुक्का है. उसके दो साल बाद आज के ही दिन यानी 10 मार्च 1985 को भारत ने वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतकर एक बार फिर अपनी काबिलियत साबित की.

बेंसन एंड हेजेस वर्ल्ड चैंपियनशिप 17 फरवरी 1985 से लेकर 10 मार्च 1985 तक ऑस्ट्रेलिया में हुई. इसका फाइनल मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच हुआ था. भारत ने पाकिस्तान को हराकर टूर्नामेंट की शुरुआत की थी. उसके बाद इंग्लैंड को मात दी. उसके बाद ऑस्ट्रेलिया . सेमीफाइनल में भारत ने न्यूजीलैंड को हराया और पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को मात दी. इस तरह फाइनल में भारत-पाकिस्तान आमने-सामने आए.

कपिल देव ने बिगाड़ा था पाकिस्तान का खेल

पाकिस्तान ने टॉस जीता और पहले बैटिंग करने का फैसला किया था. टीम का यह फैसला उन्हें जल्द ही भारी पड़ गया .कपिल देव ने पाकिस्तान के टॉप ऑर्डर को तबाह करके रख दिया. 33 रन पर पाकिस्तान के चार विकेट गिर चुके थे. वहां से पाकिस्तान तमाम कोशिशों के बावजूद वापसी नहीं कर पाई, और बस 176 रन ही बना सकी.

Indian bowler Kapil Dev raises his arms after taking his 400th test wicket during the fifth test against Australia in Perth 03 February 1992. / AFP PHOTO / GREG WOOD

जवाब में 177 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को शानदार शुरुआत मिली. पहले विकेट के लिए रवि शास्त्री(63) और श्रीकांत(67) ने 103 रन जोड़े. टीम इंडिया का दूसरा विकेट 142 पर गिर गया. इसके बाद टीम इंडिया का कोई विकेट नहीं गिरा.टीम इंडिया ने 47.1 ओवरों में मैच 2 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया और वर्ल्ड चैंपियनशिप जीत ली. 1983 वर्ल्ड कप जीतने के बाद भारत ने यह चैंपियनशिप जीतकर साबित किया कि वह वो जीत महज तुक्का नहीं थी.

रवि शास्त्री को मिली ऑडी में घूमी थी टीम इंडिया

रवि शास्त्री को मैन ऑफ दी सीरीज अवॉर्ड मिला. अवॉर्ड में मिली ऑडी कार जो कि उस जमाने में आम बात नहीं थी. उस टूर्नामेंट में रवि शास्त्री ने 12 मैचों में 45.50 की औसत से 182 रन बनाए थे. 20.75 की औसत से 8 विकेट भी लिए. जीत के बाद पूरी टीम ने ऑडी गाड़ी में बैठकर चक्कर लगाया था. यह तस्वीर आज भी लोगों के जहन में है.

ravi-shastri-audi

इस सीरीज से पहले ही गावस्कर ने घोषणा कर दी थी कि वो आगे कप्तानी नहीं करेंगे. ये उस दौर की बात है, जब गावस्कर और कपिल देव के बीच तनातनी की खबरें आती थीं.

(फोटो साभार- यूट्यूब)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi