S M L

आज का दिन, 04 मार्च: 26 साल पहले भारत ने वर्ल्ड कप में पहली बार दी थी पाकिस्तान को मात

04 मार्च 1992 को सिडनी में खेले गए उस मुकाबले में वर्ल्ड कप में पाकिस्तान पर भारत की जीत के ऐसे सिलसिले का आगाज हुआ था जो अब भी बरकरार है

Updated On: Mar 04, 2018 12:35 PM IST

Sumit Kumar Dubey Sumit Kumar Dubey

0
आज का दिन, 04 मार्च: 26 साल पहले भारत ने वर्ल्ड कप में पहली बार दी थी पाकिस्तान को मात

यूं तो भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट की राइवलरी आजादी के बाद से ही शुरू हो गई थी जिसे पाकिस्तान के बल्लेबाज जावेद मियांदाद ने 1986 में शारजाह में चेतन शर्मा की आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर और परवान चढ़ा दिया था.

लेकिन भारत और पाकिस्तान की राइवलरी को एक नया मुकाम तब हासिल हुआ 26 साल पहले आज ही के दिन यानी चार मार्च 1992 को भारत ने पाकिस्तान को वर्ल्ड कप में पहली बार 43 रन से मात दी. ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में खेले गए इस मुकाबले में भी जावेद मियांदाद मौजूद थे. भारत के विकेटकीपर किरण मोरे के साथ हुई उनकी बहस ने इस मुकाबले को और अधिक रोचक बना दिया.

पहली बार वर्ल्ड कप में आमने-सामने थे भारत-पाकिस्तान

1992 में ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में खेल गए उस वर्ल्ड कप में पाकिस्तान चैंपियन बना और टीम इंडिया सेमीफाइनल तक भी नहीं पहुंच सकी. लेकिन भारत पाकिस्तान के खिलाफ वह मुकाबले जीत लिया जिसे दोनों देशों में प्रतिष्ठा का सवाल माना जा रहा था.

वर्ल्ड कप के इतिहास में यह पहला मौका था जब दोनों टीमें आमने सामने थीं. दोनों ही टीम इससे पहले सभी चारों वर्ल्ड कप खेल चुकी थीं लेकिन ऐसा मौका पहल बार आया था जब एशिया की यह दोनों आमने-सामने थी. इस मैच ने इतनी ज्यादा सुर्खियां बटोरीं कि इसके बाद हर वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच का मुकाबले दोनों देशों के फैंस के लिए फाइनल के समान हो गया.

credit: Twitter/@thebharatarmy

credit: Twitter/@thebharatarmy

18 साल के सचिन ने जड़ा वर्ल्ड कप में अपना पहला अर्द्धशतक  

इसके बाद हर बार वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हुआ लेकिन टीम इंडिया हमेशा अपराजेय ही रही. यही वह मुकाबला था जब भारत के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने वर्ल्ड कप के इतिहास में अपना पहला अर्द्धशतक जड़ा था. उस वक्त 18 साल से सचिन को इसी मुकाबले में पहली बार वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया था.

वर्ल्ड कप में पाकिस्तान पर जीत के सिलसिले का हुआ आगाज

भारत के कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. वसीम अकरम, आकिब जावेद और इमरान खान जैसे बेहतरीन पेस अटैक के सामने भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. सलामी बल्लबाज के श्रीकांत महज पांच रन पर आउट हो गए. दूसरे सलामी बल्लेबाज अजय जडेजा और कप्तान अजहर ने दूसरे विकेट के लिए महत्वपूर्ण 61 रन जोड़कर भारत की पारी को मजबूत आधार दिया.

इसके बाद सचिन ने पहले विनोद कांबली और फिर कपिल देव के साथ मिलकर भारत के स्कोर को 200 रन के पार पहुंचाया. सचिन 54 रन बनाकर नाबाद रहे. जडेजा ने 46 रन, कपिल देव ने 35 रन और अजहर ने 32 रन का योगदान किया. 49 ओवर के इस मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को जीत के लिए 217 रन का टारगेट दिया.

more miadad jumping

पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज आमिर सोहेल ने अर्द्धशतक जड़कर भारत के लिए मुश्किल जरूर खड़ी की लेकिन उनके अलावा कोई और बल्लेबाज ज्यादा टिक नहीं सका. जावेद मियांदाद ने 40 रन बनाए और उन्हें जवागल श्रीनाथ ने बोल्ड किया. इसी दौरान मियांदाद कि किरण मोरे के साथ तीखी बहस भी हुई.

पाकिस्तान की टीम 173 रन पर ऑलआउट हो गई. कपिल देव, मनोज प्रभाकर और जवागल श्रीनाथ ने दो-दो विकेट झटके. आमिर सोहेल को सचिन ने पैवेलियन वापस भेजा. भारत ने यह मुकाबला 43 रन से जीता. इस मैच से वर्ल्ड कप में पाकिस्तान पर भारत की जीत के एक ऐसे सिलसिले का आगाज हुआ जो अब भी बरकरार है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi