S M L

निदाहास ट्रॉफी, भारत- श्रीलंका टी-20 : शुरुआती मैच में की गई गलतियों में सुधार करना चाहेगी रोहित की टीम

शिकस्त का बदला चुकता करने के साथ फाइनल में जगह पक्की करने पर होगी टीम इंडिया की नजर

FP Staff Updated On: Mar 12, 2018 08:52 AM IST

0
निदाहास ट्रॉफी, भारत- श्रीलंका टी-20 : शुरुआती मैच में की गई गलतियों में सुधार करना चाहेगी रोहित की टीम

भारतीय टीम सोमवार को कोलंबो में निदाहास त्रिकोणीय टी-20 सीरीज में अपने तीसरे मैच में मेजबान श्रीलंका के खिलाफ हर हालत में जीत दर्ज करना चाहेगी. भारतीय टीम की नजर मेजबान श्रीलंकाई टीम से पहले मैच में मिली शिकस्त का बदला चुकता करने के साथ फाइनल में जगह पक्की करने पर होगी. भारत की दूसरे दर्जे की टीम के लिए इस टूर्नामेंट में शुरुआत अच्छी नहीं रही, क्योंकि उन्हें पहले मैच में मेजबानों से पांच विकेट की पराजय झेलनी पड़ी थी. लेकिन रोहित की अगुआई वाली टीम ने अगले मैच में शानदार वापसी करते हुए बांग्लादेश को छह विकेट से मात दी

जीते तो शीर्ष पर पहुंचेगी टीम इंडिया

वहीं, श्रीलंका को पिछले मैच में बांग्लादेश के खिलाफ पांच विकेट से हार झेलनी पड़ी थी जिससे वह फाइनल में स्थान पक्का करने से चूक गया. सोमवार को होने वाले मैच में अब दोनों ही टीमों के पास फाइनल में जगह पक्की करने का बराबरी का मौका है. सभी ने दो मैचों में से एक-एक मैच जीते हैं. लेकिन श्रीलंकाई टीम नेट रन रेट में भारत और बांग्लादेश से आगे शीर्ष पर है. लेकिन सोमवार की जीत श्रीलंका को हटाकर भारत को शीर्ष पर पहुंचा देगी.

शिखर धवन शानदार फॉर्म में

इसलिए सोमवार का मैच भारत को शुरुआती मैच में की गई गलतियों को सुधार करने का मौका प्रदान करेगा. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन शानदार फॉर्म में हैं.  उन्होंने अभी तक टूर्नामेंट में लगातार दो अर्धशतक जड़े हैं. श्रीलंका के खिलाफ सलामी बल्लेबाज ने 49 गेंद में 90 रन बनाए और इसके बाद 43 गेंद में 55 रन की पारी से भारत ने दूसरे मैच में बांग्लादेश को आसानी से शिकस्त दी. साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में धवन का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा, लेकिन प्रोटियाज के खिलाफ सीमित ओवर के शुरू में उन्होंने फॉर्म हासिल कर ली. जिसके बाद से उन्होंने अंतिम पांच टी-20 में 55, 90, 47, 24 और 72 रन बनाए.

रोहित की फॉर्म चिंता का विषय

लेकिन रोहित की फॉर्म चिंता का विषय बनी हुई है. कप्तान रोहित श्रीलंका के खिलाफ फॉर्म में वापसी को बेताब होंगे. कार्यवाहक कप्तान रोहित की खराब फॉर्म साउथ अफ्रीका सीरीज के शुरू से चल रही है. वह आत्मविश्वास हासिल करने के लिए तेजी से रन जुटाना चाहेंगे. जिन्होंने अंतिम पांच टी-20 मैचों में 17, शून्य, 11, शून्य और 21 रन बनाए हैं.

उनादकट को सुधार की जरूरत

गेंदबाजी में जयदेव उनादकट को लगातार प्रदर्शन करने की जरूरत है. इस गेंदबाज ने दो मैचों में अभी तक चार विकेट चटकाए हैं, लेकिन काफी रन भी लुटाए जिसकी अगुआई करने वाले गेंदबाज से उम्मीद नहीं की जाती. युवा और गैर अनुभवी भारतीय गेंदबाजों ने अभी तक अच्छी गेंदबाजी की, जिसमें वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल और विजय शंकर उम्मीदों पर खरा उतर रहे हैं.

कुसल मेंडिस और कुसल परेरा बन सकते हैं खतरा

वहीं, श्रीलंकाई टीम शनिवार रात बांग्लादेश से मिली पांच विकेट से उबर रही है. बांग्लादेश ने मुशफिकुर रहीम की 35 गेंद में 72 रन की पारी से 215 रन के लक्ष्य को पांच विकेट गंवाकर 19.4 ओवर में हासिल कर लिया. बांग्लादेश के बल्लेबाजों ने श्रीलंकाई गेंदबाजों के खिलाफ शानदार खेल दिखाया जिससे मेजबान टीम सुधार करने की उम्मीद करेगी. वहीं बल्लेबाजी में कुसल मेंडिस और कुसल परेरा शानदार फॉर्म में हैं जिससे भारतीय गेंदबाजों को सतर्क रहना होगा. विशेषकर परेरा के खिलाफ, जिन्होंने अभी तक दो मैचों में 66 और 74 रन बनाए हैं, जबकि मेंडिस ने शनिवार को 57 रन जुटाए.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi