S M L

निदाहास ट्रॉफी, भारत- श्रीलंका टी-20 : भारत के युवा खिलाड़ियों के पास खुद को साबित करने का अच्छा मौका

शुरुआती मैच में श्रीलंका के खिलाफ परीक्षा के लिए तैयार है रोहित शर्मा की अगुआई वाली युवा टीम

FP Staff Updated On: Mar 06, 2018 06:53 PM IST

0
निदाहास ट्रॉफी, भारत- श्रीलंका टी-20 : भारत के युवा खिलाड़ियों के पास खुद को साबित करने का अच्छा मौका

भारत के छह शीर्ष खिलाड़ियों को कोलंबो में मंगलवार से शुरू हो रही निदाहास ट्वेंटी-20 ट्रॉफी के लिए आराम दिया गया है, जिससे युवा खिलाड़ियों के पास खुद को साबित करने का यह अच्छा मौका होगा. रोहित शर्मा की अगुआई में भारत की युवा टीम शुरुआती मैच में श्रीलंका से भिड़ेगी. बांग्लादेश इस सीरीज में तीसरी टीम है.

ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा और मोहम्मद सिराज टीम में शामिल हैं जो अगर इसमें नहीं होते तो अपनी संबंधित आईपीएल टीमों के शिविरों में इस लीग के शुरू होने का इंतजार कर रहे होते. जिन खिलाड़ियों को मैच में खेलने का मौका मिलेगा, उनका लक्ष्य सिर्फ एक ही होगा कि वे इस मौके का पूरा फायदा उठा सकें, क्योंकि आईसीसी विश्व कप से पहले उन्हें इतने मौके नहीं मिलेंगे जिसमें बस 16 महीने का समय बचा है.

इसलिए निदाहास ट्रॉफी में इन खिलाड़ियों का लक्ष्य अगले साल होने वाले विश्व कप के लिए चयनकर्ताओं की नजरों में बने रहने का होगा. हालांकि यह टी-20 टूर्नामेंट है, लेकिन वे अच्छे प्रदर्शन से राष्ट्रीय चयन समिति को आकर्षित कर सकते हैं, जो मध्यक्रम में सीमित बल्लेबाजी स्थान और शायद रिजर्व तेज गेंदबाजों के लिए उनके नाम पर विचार कर सकते हैं.

फॉर्म में वापसी को बेताब होंगे रोहित शर्मा

ज्यादातर मौकों पर भारतीय टीम ने श्रीलंका को पस्त किया है और कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा के पास ट्रॉफी घर लाने के कई कारण दिखते हैं. रोहित साउथ अफ्रीका दौरे के खराब प्रदर्शन के बाद फॉर्म में वापसी को बेताब होंगे. वह अफ्रीकी दौरे पर एक वनडे में केवल ही सैकड़ा जड़ सके थे. प्रेमदासा स्टेडियम में रोहित अपने जोड़ीदार शिखर धवन के साथ शानदार प्रदर्शन करना चाहेंगे.

धीरे-धीरे ढल रहे हैं सुरेश रैना

सुरेश रैना फिटनेस और फॉर्म संबंधित मुद्दों के कारण करीब एक साल तक टीम से बाहर रहे, लेकिन वह वापसी के बाद धीरे-धीरे तीसरे नंबर के हिसाब से ढल रहे हैं और सुरंगा लकमल, दुष्मंत चमीरा और दासुन शनाका की तेज गेंदबाजी तिकड़ी से उन्हें ज्यादा समस्या नहीं होगी.

पिछली बार भारत ने किया था श्रीलंका का वाइटवॉश

इस सत्र में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ अपनी और उसकी सरजमीं पर 18 अंतरराष्ट्रीय (छह टेस्ट, आठ वनडे और चार टी-20 ) मैच खेले हैं. पिछली बार जब भारत श्रीलंका में खेला था तो उन्होंने सभी प्रारूपों में 9-0 से वाइटवॉश किया था, लेकिन इस बार यह इतना आसान नहीं होगा.

त्रिकोणीय टूर्नामेंट जीतने से आत्मविश्वास से भरा है श्रीलंका

श्रीलंका ने हाल में बांग्लादेश में त्रिकोणीय वनडे टूर्नामेंट जीता है और इससे टीम के खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे होंगे. दिनेश चंडीमल, उपुल तरंगा, कुसल मेंडिस, कुसल परेरा सभी प्रतिभावान हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से अच्छा नहीं कर सके हैं. लकमल, चमीरा, शनाका और रहस्यमयी स्पिनर धनंजय को मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप के खिलाफ बेहतर गेंदबाजी करनी होगी.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi