S M L

टेस्ट में करुण नायर की वापसी का ये था सबसे सही समय: एमएसके प्रसाद

करुण ने रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक की ओर से 600 से अधिक रन बनाए हैं और उन्हें टीम में जगह दी गई है

Updated On: May 08, 2018 09:59 PM IST

Bhasha

0
टेस्ट में करुण नायर की वापसी का ये था सबसे सही समय: एमएसके प्रसाद

चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने कहा कि उनकी समिति ने सोचा कि लंबे प्रारूप में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रहे रोहित शर्मा की जगह यह टेस्ट टीम में करुण नायर को वापसी कराने का ‘ सर्वश्रेष्ठ मौका ’ है.

करुण ने रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक की ओर से 600 से अधिक रन बनाकर भारतीय टीम में वापसी की जबकि सीमित ओवरों के उप कप्तान रोहित शर्मा को लंबे प्रारूप में विदेशी सरजमीं पर प्रदर्शन में निरंतरता की कमी का खामियाजा भुगतना पड़ा. टेस्ट टीम में रोहित को जगह नहीं देने के बारे में पूछने पर प्रसाद ने कहा , ‘यह करुण को मौका देने का हमारे पास सर्वश्रेष्ठ मौका था क्योंकि वह अच्छा प्रदर्शन कर रहा है.’

भारत ए टीम में किसी सीनियर भारतीय खिलाड़ी को जगह नहीं दी गई है और प्रसाद ने कहा कि मुरली विजय, ऋद्धिमान साहा और मोहम्मद शमी वेस्टइंडीज ए के खिलाफ चार दिवसीय ‘ टेस्ट ’ खेलेंगे और फिर एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में भी हिस्सा लेंगे. प्रसाद ने कहा , ‘हमने चर्चा की. विराट , रवि और राहुल के साथ बैठक हुई. साहा, विजय और शमी जैसे टेस्ट विशेषज्ञ वेस्टइंडीज ए के खिलाफ भारत ए के तीसरे टेस्ट में हिस्सा लेंगे, इसके बाद एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच और फिर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट खेलेंगे.’

भारत के पूर्व विकेटकीपर प्रसाद ने एक बार फिर स्पष्ट किया कि फिलहाल महेंद्र सिंह धोनी भारत के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बल्लेबाज हैं. यह पूछने पर कि क्या चयनकर्ताओं ने पूल तैयार किया है , ‘हां, हम इस दिशा में काम कर रहे हैं. पिछले कुछ महीनों में भारत ए की ओर से हमने छह विकेटकीपर को आजमाया है. हम उन्हें अगले स्तर के लिए तैयार कर रहे हैं.’

रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन को टीम में जगह नहीं मिलने के सवाल पर प्रसाद ने कहा , ‘जब उन्हें जगह नहीं दी गई थी तो हमने स्पष्ट किया था कि दो - तीन युवाओं को मौका दिया जाएगा. उन्हें अधिक मौका देना समझदारी है. उनके ( कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ) विकेट उनकी सफलता को दिखाते हैं. वे मैच दर मैच सुधार कर रहे हैं और जब वे स्वदेश और विदेश में मैच जिता रहे हैं तो उन्हें मौके देना समझ आता है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi