S M L

विजय हजारे ट्रॉफी राउंड-अप:  हैदराबाद से हारी धोनी की टीम

चार मुकाबलों में पहली जीत दर्ज करने में कामयाब रही दिल्ली की टीम

Updated On: Mar 03, 2017 08:41 PM IST

Bhasha, IANS

0
विजय हजारे ट्रॉफी राउंड-अप:  हैदराबाद से हारी धोनी की टीम

हैदराबाद ने विजय हजारे ट्रॉफी के एकदिवसीय लीग मैच में झारखंड को 21 रन से हराकर चार मैचों में चौथी जीत दर्ज की. वह ग्रुप डी में 16 अंक से दूसरे नंबर पर है. ग्रुप डी में कर्नाटक ने भी आज अपनी चौथी जीत दर्ज की. उसके भी 16 अंक हैं. लेकिन वह पहले नंबर पर चल रही है.

कोलकाता में खेले गए मैच में हैदराबाद को बल्लेबाजी का न्यौता मिला. उसने कोला सुमंत के 48 रन और बीपी संदीप के 43 रन की मदद से निर्धारित 50 ओवर में आठ विकेट गंवाकर 203 रन बनाए. लक्ष्य का पीछा करने उतरी महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली झारखंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही. लेकिन सौरभ तिवारी ने 102 रन बनाकर शतक जड़ा. उन्होंने 104 गेंद का सामना करते हुए अपनी पारी में पांच चौके और सात छक्के जड़े.

धोनी ने 28 और इशान किशन ने 20 रन का योगदान दिया. इनके अलावा कोई भी दोहरे अंक के स्कोर तक नहीं पहुंच सका. पूरी टीम 44.4 ओवर में 182 रन पर आल आउट हो गई.

यशपाल का शतक बेकार, दिल्ली ने दर्ज की पहली जीत

दिल्ली ने कप्तान ऋषभ पंत (99) के अलावा मिलिंद कुमार (नाबाद 72) और ध्रुव शौरी (74) के अर्धशतकों की मदद से एकदिवसीय लीग मुकाबले में त्रिपुरा को 70 रन से हराकर ग्रुप बी में अपनी पहली जीत हासिल की.

दिल्ली की यह चार मैचों में पहली जीत है. त्रिपुरा की चार मैचों में यह पहली हार है जो 12 अंक से तीसरे स्थान पर बनी हुई है. बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद दिल्ली ने 50 ओवर में पांच विकेट गंवाकर 356 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. विकेटकीपर पंत शतक से एक रन से चूक गए. उन्होंने 72 गेंद का सामना किया, जिसमें नौ चौके और पांच छक्के जड़े थे. मिलिंद ने नाबाद 72 रन की पारी के लिए 48 गेंद खेली. इसमें सात चौके और दो छक्के शामिल थे. शौरी ने 81 गेंद में नौ चौके और दो छक्के से 74 रन बनाए.

त्रिपुरा ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिये अच्छी शुरुआत की. लेकिन मध्यक्रम चरमराने से उसकी उम्मीद पूरी नहीं हो सकी. कप्तान यशपाल सिंह की 115 रन की शतकीय पारी भी टीम के काम नहीं आ सकी. उनके अलावा सलामी बल्लेबाज बिशाल घोष ने 59 रन और स्मित पटेल ने 47 रन का योगदान दिया. दिल्ली के सुबोध भाटी ने तीन विकेट झटके और कुलवंत खोजरोलिया को दो विकेट मिले.

गुजरात की जीत में चमके पार्थिव, बुमराह

कप्तान पार्थिव पटेल (104) और जसप्रीत बुमराह की (29/4) के शानदार प्रदर्शन के दम पर गुजरात ने ग्रुप-सी में आंध्र प्रदेश को 182 रनों से करारी शिकस्त दी. टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी गुजरात ने ऊपरी क्रम में पटेल और निचले क्रम में रोहित दहिया के नाबाद 53 रनों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 288 रन बनाए. जवाब में आंध्र प्रदेश की टीम 31.5 ओवरों में 106 रनों पर ही ढेर हो गई.

बुमराह के अलावा रूजुल भट्ट ने तीन विकेट लिए. दोनों गेंदबाजों ने आंध्र की बल्लेबाजी को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. आंध्र के सिर्फ दो बल्लेबाज ही दहाई के आंकड़े तक पहुंच सके. रवि तेजा ने सर्वाधिक 44 रन बनाए. प्रशांत कुमार (10) दहाई का आंकड़ा छूने वाले दूसरे बल्लेबाज रहे.

ग्रुप-सी के एक अन्य मैच में मध्य प्रदेश ने कप्तान नमन ओझा (नाबाद 104) की कप्तानी पारी के दम पर गोवा को सात विकेट से मात दी. गोवा ने पहले बल्लेबाजी करते हुए स्नेहल कौथांकर के 92, कप्तान शकुन कामत के 63 और सुयश प्रभुदेसाई के 52 रनों की मदद से 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 290 रन बनाए.

मध्य प्रदेश ने यह लक्ष्य 38.1 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया. नमन के अलावा सलामी बल्लेबाज रजत पाटीदार ने 64 रनों की पारी खेली. इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 92 रन जोड़े. पाटीदार के आउट होने के बाद नमन ने हरप्रीत सिंह (83) के साथ दूसरे विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी की.

ग्रुप-सी के तीसरे मैच में बंगाल ने मुंबई को 96 रनों से हराया. बंगाल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अभिमन्यु ईश्वरन (127) की शतकीय पारी के दम पर 230 रन बनाए. हालांकि इस आसान से लक्ष्य को भी मुंबई की टीम हासिल नहीं कर पाई और बंगाल की घातक गेंदबाजी के सामने 36.2 ओवरों में 134 रनों पर ही ढेर हो गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi