S M L

शमी की मुश्किलें बढ़ी, गिरफ्तारी का वारंट तक हो सकता है जारी

न्यायिक मजिस्ट्रेट ने मोहम्‍मद शमी को 15 जनवरी 2019 तक अदालत के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया

Updated On: Nov 14, 2018 06:12 PM IST

FP Staff

0
शमी की मुश्किलें बढ़ी, गिरफ्तारी का वारंट तक हो सकता है जारी

भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही. पत्‍नी हसीन जहां के साथ शादी को लेकर चल रहे विवाद के बाद चेक बाउंस होने पर इस तेज गेंदबाज ने खिलाफ उनकी पत्‍नी ने शिकयत दर्ज करवाई थी, जिस मामले में अदालत ने उन्हें पेश होने को कहा. अलीपुर के न्यायिक मजिस्ट्रेट मोहम्मद जफर परवेज ने कहा कि अगर शमी निजी तौर पर उपस्थित नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया जा सकता है.

शमी की पत्नी हसीन जहां ने लिखित पारक्रम्य कानून के अंतर्गत मामला दर्ज कराया था, क्योंकि कथित तौर पर इस क्रिकेटर ने उनके चैक का भुगतान रोक दिया था. जो दोनों के बीच विवाह को लेकर विवाद के बाद मासिक खर्चे के लिए दिया गया था. न्यायिक मजिस्ट्रेट ने बुधवार को अदालत के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया था, क्योंकि अक्टूबर में भी सुनवाई लिए नहीं पहुंचे थे. हालांकि शमी बुधवार को भी सुनवाई के लिए नहीं पहुंचे.

शमी के वकील एसके सलीम हरमान ने न्यायाशी परवेज के समक्ष अपील की थी कि शमी को वकील के जरिए पेश होने की स्वीकृति दी जाए. न्यायाधीश ने हालांकि कहा कि कानून सभी के लिए बराबर है और शमी को निजी तौर पर 15 जूनवरी 2019 को पेश होने का निर्देश दिया.

ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले रणजी ट्रॉफी खेल सकते हैं शमी

मोहम्‍मद शमी को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट टेस्‍ट टीम में मौका दिया गया हैं और शमी ऑस्‍ट्रेलिया रवाना होने से पहले रणजी मैच खेल सकते हैं. तेज गेंदबाज शमी बंगाल की तरफ से केरल के खिलाफ 20 से 23 नवंबर के बीच रणजी ट्रॉफी मैच में खेल सकते हैं. बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने यहां कहा कि शमी ने खेलने में दिलचस्पी दिखाई है.

एजेंसी इनपुट के साथ

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi