S M L

भारत-साउथ अफ्रीका, पहला टेस्ट पहला दिन, Highlights : भारत ने 28 रन पर गंवाए तीन विकेट

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट केपटाउन में खेला जा रहा है, मेजबान टीम की पारी 286 रन पर सिमटी

FP Staff | January 05, 2018, 10:40 PM IST

0
135 / 10 Overs42.4 R/R3.16 Fours17 Sixes0 Extras1

Match Status: Match Ended

Match Result: South Africa beat India by 72 runs

Batsman Status R B 4s 6s
Bhuvneshwar Kumar 13 41 1 0

हाइलाइट

Jan 5, 2018

  • 21:49(IST)

    पहला टेस्ट- पहला दिन
    पहला सत्र- 107/3 (26 ओवर)
    दूसरा सत्र- 123/4 (27 ओवर)
    तीसरा सत्र- 84/6 (31.1 ओवर)

  • 21:45(IST)
  • 21:43(IST)

    पहले दिन का खेल समाप्त. भारत ने 28 रन पर तीन विकेट गंवाए. चेतेश्वर पुजारा और रोहित शर्मा मैदान पर हैं. पुजारा ने पांच रन बनाए हैं जबकि रोहित को अभी खाता खोलना है. भारत दक्षिण अफ्रीका से 258 रन पीछे है. उसके लिए यह काम मुश्किल नजर आ रहा है. भारत को पहले तो विकेटों का पतझड़ रोकना होगा. शुरुआती सफलता के बाद दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों को रोकना उनके लिए आसान नहीं होगा. दूसरे दिन का पहला सत्र मैच की दिशा तय करेगा

  • 21:35(IST)

    भारत की शुरुआत भी कमोबेश दक्षिण अफ्रीका जैसी है. दक्षिण अफ्रीका ने 12 रन पर तीन विकेट खो दिए थे, जबकि भारत ने 27 रन पर शीर्ष तीन बल्लेबाजों को गंवा दिया. उसके मिडिल आर्डर ने स्थिति संभाल ली, लेकिन भारत का क्या होगा, यह अभी सामने आना बाकी है

  • 21:24(IST)

    मोर्ने मोर्कल नौवें ओवर में आए और पहली ही गेंद पर कप्तान विराट कोहली को चलता कर दिया. भारत के लिए करारा झटका. कोहली डिकॉक को कैच थमा बैठे.  कोहली ने 13 गेंद पर महज पांच रन बनाए. उनकी जगह रोहित शर्मा आए हैं

  • 21:16(IST)

    शिखर धवन और मुरली विजय के कंधों पर भारत को अच्छी शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी थी. लेकिन वे असफल रहे. अगर भारत आज का दिन बिना विकेट खोए निकाल देता तो उसके लिए उपलब्धि होती. वो पहले ही दक्षिण अफ्रीका को तीन विकेट पर 12 रन से 286 रन बनाने देकर दबाव बनाने का मौका गंवा चुका था. जल्दी-जल्दी दो विकेट खोकर दबाव अब भारत के ऊपर आ गया है. भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा मैदान पर है. दोनों पर बड़ी जिम्मेदारी

  • 21:08(IST)

    भारत को दूसरा झटका. शिखर धवन भी चलते बने. उन्हें डेल स्टेन ने अपनी ही गेंद पर कैच किया. शिखर धवन ने 13 गेंदों पर 16 रन बनाए. उन्होंने तीन चौके लगाए

  • 21:05(IST)

    मुरली विजय ने 17 गेंदों का सामना किया और केवल एक रन बनाया. टीम इंडिया का नई दीवार कहे जाने वाले चेतेश्वर पुजारा आए

  • 21:02(IST)

    भारत को पहला झटका. वर्नन फिलेंडर ने मुरली विजय को गली में डीन एल्गर के हाथों लपकवा कर दक्षिण अफ्रीका को बड़ी सफलता दिलाई

  • 20:55(IST)
  • 20:46(IST)

    डेल स्टेन दूसरा ओवर लेकर आए हैं. मेजबान टीम भी चार तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ खेल रही है

  • 20:44(IST)

    वर्नन फिलेंडर पहला ओवर डाल रहे हैं. पहले ओवर में ही शिखर धवन के खिलाफ जोरदार अपील. लेकिन भारत नौ रन बनाने में सफल रहा. शिखर धवन ने दो चौके लगाए

  • 20:39(IST)

    भारतीय पारी का आगाज. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और मुरली विजय क्रीज पर

  • 20:33(IST)

    दक्षिण अफ्रीका ने अंतिम विकेट मोर्ने मोर्कल का गंवाया. मोर्ने मोर्कल को अश्विन ने एलबीडब्ल्यू किया. उन्होंने नौ गेंदें खेलीं और दो रन का योगदान दिया. डेल स्टेन 16 रन पर नाबाद रहे. डेल स्टेन ने 31 गेंदें खेलीं और एक चौका लगाया. भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने चार विकेट झटके. अश्विन ने दो विकेट लिए. 

  • 20:29(IST)

    दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 286 रन बनाए

  • 20:21(IST)

    भारतीय विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने दक्षिण अफ्रीका के पांच बल्लेबाजों को विकेट के पीछे कैच किया. निश्चित तौर पर ये प्रदर्शन बेहतरीन कहा जाएगा

  • 20:19(IST)

    70 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्कोर - 282-9 (डेल स्टेन 13, मोर्ने मोर्कल 01)

  • 20:17(IST)

    कैगिसो रबाडा के आउट होने के साथ दक्षिण अफ्रीका ने अपना नौवां विकेट गंवाया. कैगिसो रबाडा 26 रन बनाकर अश्विन का शिकार बने. उन्हें साहा ने विकेट के पीछे लपका. कैगिसो रबाडा ने 66 गेंदें खेली और एक छक्का लगाया. अब अंतिम बल्लेबाज मोर्ने मोर्कल आए हैं. 

  • 20:12(IST)

    केशव महाराज के आउट होने के बाद भी दक्षिण अफ्रीका की रन गति पर लगाम नहीं लग सकी है. वो स्कोर बोर्ड पर 280-8 रन टांग चुका है. अब दक्षिण अफ्रीका की नजर 300 रन से ज्यादा बनाने पर होगी. अगर ऐसा होता है तो इसका मतलब होगा कि भारत ने जो शुरुआती दबाव बनाया था, वो मनोवैज्ञानिक बढ़त खो बैठेगा

  • 19:53(IST)

    65 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्कोर - 271-8 (कैगिसो रबाडा 21, डेल स्टेन 09)

  • 19:48(IST)

    केशव महाराज की जगह डेल स्टेन बल्लेबाजी करने आए हैं. भारत को अब सिर्फ दो विकेट चटकाने की जरूरत है. कैगिसो रबाडा और डेल स्टेन की जोड़ी के बाद मोर्ने मोर्कल को आना है. उम्मीद है कि टीम इंडिया की बल्लेबाजी आज ही आ जाएगी

  • 19:43(IST)

    केशव महाराज रन आउट हुए, दक्षिण अफ्रीका का आठवां विकेट गिरा. भारतीय टीम ने राहत की सांस ली. केशव महाराज जिस तरह खेल रहे थे भारत के लिए खतरा बनता जा रहे थे. 
    केशव महाराज 47 गेंदों पर 35 रन बनाए. उन्होंने तीन चौके और एक छक्का लगाया 

  • 19:39(IST)

    दक्षिण अफ्रीका चार रन प्रति ओवर की दर से रन बना रहा है और वो स्कोर बोर्ड पर 250 से ज्यादा रन टांग चुका है. यह भारतीय टीम थिंक के पेशानी पर बल लाने के लिए पर्याप्त है. भारत पहले ही 30-40 रन ज्यादा दे चुका है, जितने उसे इस समय तक देने चाहिए थे. अगर दक्षिण अफ्रीका 300 रन से ज्यादा बना लेता है तो मैच दिलचस्प होगा. पिच भी अपनी भूमिका निभाएगी

  • 19:33(IST)

    60 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्कोर - 257-7 (केशव महाराज 34, कैगिसो रबाडा 17 )

  • 19:23(IST)

    दक्षिण अफ्रीका की ओर से केशव महाराज अच्छे खेल का मुजाहिरा पेश कर रहे हैं. उन पर लगातार विकेट गंवाने का कोई खौफ दिखाई नहीं दे रहा है. कैगिसो रबाडा भी उनका अच्छा साथ दे रहे हैं. कैगिसो रबाडा ने भुवनेश्वर (58.2 ओवर) पर लांग ऑन पर छक्का जड़ा.

  • साउथ अफ्रीका के यह पुछल्ले बल्लेबाज अगर 300 या उसके आसपास का स्कोर खड़ा करने में कामयाब हो जाते हैं तो फिर भारत के लिए मुश्किल हो सकती है. इस विकेट पर अब भी तेज गेंदबाजों के लिए काफी मदद है . मेजबान टीम का पेस अटैक बेहद खतरनाक है . लिहाजा भारत को साउथ अफ्रीका की पहली पारी को जल्द से जल्द समेटने की कोशिश करनी चाहिए.

  • साउथ अफ्रीका के यह पुछल्ले बल्लेबाज अगर 300 या उसके आसपास का स्कोर खड़ा करने में कामयहाब हो जाते हैं तो फिर भारत के लिए मुश्किल हो सकती है. इस विकेट पर अब भी तेज गेंदबाजों के लिए काफी मदद है . मेजबान टीम का पेस अटैक बेहद खतरनाक है . लिहाजा भारत को साउथ अफ्रीका की पहली पारी को जल्द से जल्द समेटने की कोशिश करनी चाहिए.

  • 19:11(IST)

    कप्तान कोहली ने एक छोर से बुमराह को गेंद थमाई है तो दूसरी ओर से भुवनेश्वर गेंदबाजी कर रहे हैं. मेजबान टीम के यह आखिरी के तीन विकेट जितने कम रन जोड़ सकें भारत के लिए उतना ही सही होगा. केशव महाराज  तीन चौके लगाकर 28 रन पर खेल रहे हैं जबकि रबादा तीन रन पर नाबाद हैं. देखना होगा यब आखिरी की बल्लेबाजी अपनी टीम के स्कोर को कहां तक ले जा पाती है.

  • टीम इंडिया के लिए इस सीरीज की यह बेहतरीन शुरुआत है. भुवनेश्वर कुमार जिस तरह से साउथ अफ्रीका के चार बड़े बल्लेबाजों को पैवेलियन भेजा है उससे टीम इंडिया के हौंसले तो जरूर बुलंदी पर होंगे. वहीं दूसरी ओर साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों को भी उम्मीद बंधी होगी कि इस विकेट पर वह भी कमाल दिखा सकते हैं. भारत की ओर से सभी सात विकेट तेज गेंदबाजों ने ही लिए हैं. 

  • 19:03(IST)

    चायकाल के बाद का खे्ल शुरू होने वाला है. साउथ  अफ्रीका के सात विकेट गिर चुके हैं. पहले टेस्ट के पहले दिन के इस आखिरी सेशन में मेजबान टीम के  पुछल्ले बल्लेबाजों की कोशिश इस सेशन में ज्यादा से ज्यादा रन जोड़ने की होगी.  बुमराह इस सेशन में भारत के आक्रमण की शुरूआत कर रहे हैं. अपना पहला मैच खेल रहे बुमराह ने डि विलीयर्स के तौर पर पहले टेस्ट विकेट हासिल किया है.

भारत-साउथ अफ्रीका, पहला टेस्ट पहला दिन, Highlights :  भारत ने 28 रन पर गंवाए तीन विकेट

पहले दिन का खेल समाप्त. भारत ने 28 रन पर तीन विकेट गंवाए. चेतेश्वर पुजारा और रोहित शर्मा मैदान पर हैं. पुजारा ने पांच रन बनाए हैं जबकि रोहित को अभी खाता खोलना है. भारत दक्षिण अफ्रीका से 258 रन पीछे है. उसके लिए यह काम मुश्किल नजर आ रहा है. भारत को पहले तो विकेटों का पतझड़ रोकना होगा. शुरुआती सफलता के बाद दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों को रोकना उनके लिए आसान नहीं होगा. दूसरे दिन का पहला सत्र मैच की दिशा तय करेगा.

भारत की शुरुआत भी कमोबेश दक्षिण अफ्रीका जैसी है. दक्षिण अफ्रीका ने 12 रन पर तीन विकेट खो दिए थे, जबकि भारत ने 27 रन पर शीर्ष तीन बल्लेबाजों को गंवा दिया. उसके मिडिल आर्डर ने स्थिति संभाल ली, लेकिन भारत का क्या होगा, यह अभी सामने आना बाकी है

मोर्ने मोर्कल नौवें ओवर में आए और पहली ही गेंद पर कप्तान विराट कोहली को चलता कर दिया. भारत के लिए करारा झटका. कोहली डिकॉक को कैच थमा बैठे.  कोहली ने 13 गेंद पर महज पांच रन बनाए. उनकी जगह रोहित शर्मा आए हैं

शिखर धवन और मुरली विजय के कंधों पर भारत को अच्छी शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी थी. लेकिन वे असफल रहे. अगर भारत आज का दिन बिना विकेट खोए निकाल देता तो उसके लिए उपलब्धि होती. वो पहले ही दक्षिण अफ्रीका को तीन विकेट पर 12 रन से 286 रन बनाने देकर दबाव बनाने का मौका गंवा चुका था. जल्दी-जल्दी दो विकेट खोकर दबाव अब भारत के ऊपर आ गया है. भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा मैदान पर है. दोनों पर बड़ी जिम्मेदारी

दक्षिण अफ्रीका ने अंतिम विकेट मोर्ने मोर्कल का गंवाया. मोर्ने मोर्कल को अश्विन ने एलबीडब्ल्यू किया. उन्होंने नौ गेंदें खेलीं और दो रन का योगदान दिया. डेल स्टेन 16 रन पर नाबाद रहे. डेल स्टेन ने 31 गेंदें खेलीं और एक चौका लगाया. भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने चार विकेट झटके. अश्विन ने दो विकेट लिए.

केशव महाराज के आउट होने के बाद भी दक्षिण अफ्रीका की रन गति पर लगाम नहीं लग सकी है. वो स्कोर बोर्ड पर 280-8 रन टांग चुका है. अब दक्षिण अफ्रीका की नजर 300 रन से ज्यादा बनाने पर होगी. अगर ऐसा होता है तो इसका मतलब होगा कि भारत ने जो शुरुआती दबाव बनाया था, वो मनोवैज्ञानिक बढ़त खो बैठेगा

केशव महाराज की जगह डेल स्टेन बल्लेबाजी करने आए हैं. भारत को अब सिर्फ दो विकेट चटकाने की जरूरत है. कैगिसो रबाडा और डेल स्टेन की जोड़ी के बाद मोर्ने मोर्कल को आना है. उम्मीद है कि टीम इंडिया की बल्लेबाजी आज ही आ जाएगी

केशव महाराज रन आउट हुए, दक्षिण अफ्रीका का आठवां विकेट गिरा. भारतीय टीम ने राहत की सांस ली. केशव महाराज जिस तरह खेल रहे थे भारत के लिए खतरा बनता जा रहे थे. केशव महाराज 47 गेंदों पर 35 रन बनाए. उन्होंने तीन चौके और एक छक्का लगाया

दक्षिण अफ्रीका चार रन प्रति ओवर की दर से रन बना रहा है और वो स्कोर बोर्ड पर 250 से ज्यादा रन टांग चुका है. यह भारतीय टीम थिंक के पेशानी पर बल लाने के लिए पर्याप्त है. भारत पहले ही 30-40 रन ज्यादा दे चुका है, जितने उसे इस समय तक देने चाहिए थे. अगर दक्षिण अफ्रीका 300 रन से ज्यादा बना लेता है तो मैच दिलचस्प होगा. पिच भी अपनी भूमिका निभाएगी

दक्षिण अफ्रीका की ओर से केशव महाराज अच्छे खेल का मुजाहिरा पेश कर रहे हैं. उन पर लगातार विकेट गंवाने का कोई खौफ दिखाई नहीं दे रहा है. कैगिसो रबाडा भी उनका अच्छा साथ दे रहे हैं. कैगिसो रबाडा ने भुवनेश्वर (58.2 ओवर) पर लांग ऑन पर छक्का जड़ा.

दूसरे सत्र का खेल समाप्त. पहले सत्र में दक्षिण अफ्रीका ने तीन विकेट खोए थे तो दूसरे में उसने चार विकेट गंवाए. दक्षिण अफ्रीका का स्कोर टी ब्रेक के समय 53 ओवर में सात विकेट पर 230 रन है. केशव महाराज 23 और कैगिसो रबाडा एक रन बनाकर खेल रहे हैं. तीसरे सत्र के पहले घंटे का खेल अहम होगा. भारतीय टीम की कोशिश होगी की वह बचे हुए तीन विकेट जल्द से जल्द निकाल लें. देखते हैं वो अपने इरादों में कितनी कामयाब होती है

दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 200 के पार पहुंचाने के बाद क्विंटन डिकॉक भी चलते बने. डिकॉक ने 40 गेंदों पर 43 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में सात चौके लगाए. दक्षिण अफ्रीका का छठा विकेट 202 रन पर गिरा

क्विंटन डिकॉक और वर्नन फिलेंडर के बीच छठे विकेट पर 50 रन की साझेदारी पूरी हुई. यह साझेदारी महज 39 गेंदों पर हुई. इससे समझा जा सकता है कि दोनों बल्लेबाज कितनी तेज खेल रहे हैं. पांच विकेट खोने का भी उन पर कोई दबाव नहीं है

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहली बार स्पिनर आर अश्विन (41 ओवर बाद) को गेंद थमाई है. अभी तक आक्रमण का जिम्मा तेज और मध्यम तेज गेंदबाजों ने संभाल रखा था. देखते हैं अश्विन विदेशी धरती पर कितने कारगर साबित होते है. यह दौरा अश्विन के लिए भी अग्नि परीक्षा से कम नहीं है

दक्षिण अफ्रीका की पारी के 40वें ओवर में हार्दिक पांड्या पर वर्नन फिलेंडर ने 10 रन बटोरे. फिलेंडर ने इस ओवर में दो चौके भी लगाए. भारतीय गेंदबाजों पर उन पर अंकुश लगाना होगा. वरना भारत के लिए स्थिति नुकसानदेह बन सकती है

जमे जमाए बल्लेबाजों के एक के बाद एक पवेलियन लौटने से दक्षिण अफ्रीकी पारी एक बार फिर  लड़खड़ाती नजर आ रही है. क्विंटन डिकॉक का साथ वर्नन फिलेंडर दे रहे हैं. इन दोनों पर मेजबान टीम का सारा दारोमदार है. इसके बाद केशव महाराज, मोर्ने मोर्कल, डेल स्टेन और कैगिसो रबाडा जैसे पुछल्ले क्रम के बल्लेबाज शेष हैं, जिनसे बहुत ज्यादा उम्मीद नहीं की जा सकती

फाफ ड्यू प्लेसी का अर्धशतक का जश्न अभी थमा भी नहीं था कि वह चलते बने. उन्हें हार्दिक पांड्या ने साहा के हाथों लपकवाया. ड्यू प्लेसी ने 104 गेंदों पर 62 रन बनाए और 12 चौके लगाए. दक्षिण अफ्रीका का पांचवा विकेट 142 रन गिरा. इसके बाद वह गहरे संकट में घिरती नजर आ रही है

बुमराह (32.6 ओवर) ने एबी डिविलियर्स को बोल्ड कर भारत को बड़ी सफलता दिखाई. दक्षिण अफ्रीका ने चौथा विकेट 126 रन पर गंवा दिया. बुमराह का यह पहला टेस्ट विकेट है. एबी डिविलियर्स ने 84 गेंदों पर 65 रन बनाए और 11 चौके लगाए.

एबी डिविलियर्स और फाफ ड्यू प्लेसी के बीच शतकीय साझेदारी पूरी. एबी डिविलियर्स ने 2017 के अंत में जिम्बाब्वे के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में वापसी की थी. उससे पहले उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट 2017 की जनवरी में खेला था. इतने लंबे समय बाद उनकी वापसी वाकई काबिले तारीफ है

लंच तक दक्षिण अफ्रीका ने तीन विकेट पर 107 रन बना लिए हैं. जिस तरह उसकी पारी लड़खड़ाई थी उसे देखते हुए पहले सत्र में मेजबान टीम का यह स्कोर काफी राहत भरा होगा. पहले सत्र का पहला घंटा भारत के नाम रहा तो अगला घंटा दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों ने अपने नाम किया. देखना होगा कि लंच और टी के बीच खेल का रुख क्या रहता है. दक्षिण अफ्रीका का स्कोर - 107-3, 26 ओवर (एबी डिविलियर्स 59, फाफ डु प्लेसी 37)

एबी डिविलियर्स ने करियर का 41वां अर्धशतक पूरा किया. उनकी पारी के दौरान हालांकि कई ऐसे क्षण आए जब वह मुश्किल में नजर आए. डिविलियर्स की पारी की सराहना होनी चाहिए क्योंकि विश्व क्रिकेट में ऐसे बल्लेबाज ज्यादा नहीं हैं, जो इन हालात में खेल सकें

एबी डिविलियर्स का अर्धशतक. दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज ने इसके लिए 55 गेंदें खेलीं और 10 चौके लगाए. एबी डिविलियर्स शमी (22.1 ओवर) पर चौका लगाकर इस मुकाम पर पहुंचे. मेजबान टीम को ऐसी पारी की जरूरत थी

एबी डिविलियर्स और फाफ डु प्लेसी के बीच 50 रन की साझेदारी पूरी. इन दोनों बल्लेबाजों पर मेजबान टीम की पारी का दारोमदार है. देखना ये है कि इस सत्र को को क्या वे और झटका लगे बिना काट सकते हैं या नहीं. इन दोनों के टिकने पर बहुत कुछ निर्भर करेगा

मोहम्मद शमी (16.3 ओवर) की गेंद फाफ डु प्लेसी के बल्ले का किनारा लेकर दूसरी स्लिप में विराट के हाथों में समा गई. भारत की अपील पर मैदानी अंपायर ने नॉट आउट दिया तो कप्तान कोहली ने रिव्यू लिया, जो नाकाम रहा

जसप्रीत बुमराह अपने शुरुआती स्पैल में अच्छे नजर आ रहे हैं. क्योंकि भुवनेश्वर कुमार अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं इसलिए हालात का फायदा बुमराह भी उठा रहे हैं. दक्षिण अफ्रीका को यहां सावधानी बरतने की जरुरत है. बुमराह के खिलाफ एबी संघर्ष करते नजर आ रहे हैं

भुवनेश्वर कुमार अपना स्पैल जारी रखे हुए हैं. उनको आक्रमण से ना हटाने की वजह उनको तीन ओवर में मिले तीन विकेट हैं. अगर यही दबाव बना रहा और इस सत्र में एक-दो सफलता और मिल गई तो दक्षिण अफ्रीका का बैकफुट पर जाना लाजिमी है

एबी डिविलियर्स ने पारी के नौवें ओवर में भुवनेश्वर कुमार पर चार चौके जड़कर यह जतला दिया कि उनकी टीम भले ही तीन विकेट गंवा चुकी हो, लेकिन भारतीय टीम उन्हें कमजोर समझने की गलती न करे. भुवनेश्वर कुमार के इस ओवर में 17 रन गए

भारत को मोहम्मद शमी से भी भुवनेश्वर कुमार सरीखे प्रदर्शन की उम्मीद होगी. वह भी दूसरे छोर से दबाव बनाए हुए हैं. उन्होंने एक ओवर मेडन डाला है. शमी को अपने पहले विकेट का इंतजार है. संभव है कि उन्हें अपनी पहली सफलता जल्द मिलेगी

पांच ओवर में 12 रन पर तीन विकेट गंवाकर दक्षिण अफ्रीका संकट में. ऐसी शुरुआत की उम्मीद भारत ने शायद ही की हो. भुवनेश्वर कुमार ने लगातार तीन ओवरों में तीन विकेट लेकर मेजबान टीम की पहली पारी ध्वस्त करने की शुरुआत कर दी है

 

दक्षिण अफ्रीका को तीसरा झटका,भुवनेश्वर कुमार ने भारत को लगातार तीसरे ओवर में एक और विकेट दिलाया. भुवनेश्वर ने हाशिम अमला को साहा के हाथों कैच कराया. अमला 10 गेंदों पर केवल तीन रन बना सके. उनकी जगह कप्तान फाफ डु प्लेसी आए हैं

साल 2018 में टीम इंडिया की सबसे पहली चुनौती साउथ के शहर केपटाउन में शुरू होने वाली है. तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली शुक्रवार को जब केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान पर टॉस करने उतरेंगे तो उनके सामने इस देश में टीम इंडिया के उस रिकॉर्ड को बदलने की चुनौती होगी जो बताता है कि भारत अबतक यहां से कभी सीरीज जीत कर नहीं लौटा है.

टेस्ट मैचों में टीम इंडिया नंबर वन की हैसियत से साउथ अफ्रीका पहुंची है. भारतीय टीम ने लगातार नौ टेस्ट सीरीज में जीत हासिल की है. लेकिन साउथ अफ्रीका की धरती पर यह रिकॉर्ड उसके कितना काम आएगा यह देखने वाली बात होगी क्योंकि यहां हालात बिलकुल अलहदा है. भारत ने अपने नौ टेस्ट सीरीज में से छह तो अपने घर पर ही जीती हैं जबकि दो सीरीज श्रीलंका में और एक वेस्टइंडीज में.

बात अगर साउथ अफ्रीका में टीम इंडिया के अबतक के प्रदर्शन की करें तो आंकड़े बेहद डराने वाले हैं. भारत ने अब तक साउथ अफ्रीका में कुल छह सीरीज खेलीं हैं जिनमें से पांच में उसे हार का सामना करना पड़ा है जबकि एक सीरीज साल 2011 में ड्रॉ रही थी.

साल 1992 से लेकर अब तक भारत ने साउथ अफ्रीका में कुल 17 टेस्ट खेले हैं जिनमें से उस महज दो टेस्ट मैचों में ही जीत हासिल हुई है. साल 2005-06 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में और 2010-11 में एमएस धोनी की कप्तानी में भारत को एक-एक टेस्ट जीत हासिल हुई थी

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi