S M L

कुंबले की तरह 'दस नंबरी' बनते-बनते रह गया यह 'भारतीय' गेंदबाज!

केशव महाराज ने श्रीलंका के खिलाफ एक पारी में नौ विकेट लिए लेकिन वह कुंबले के रिकॉर्ड को तोड़ नहीं पाए

FP Staff Updated On: Jul 21, 2018 05:55 PM IST

0
कुंबले की तरह 'दस नंबरी' बनते-बनते रह गया यह 'भारतीय' गेंदबाज!

कहा जाता है कि रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए हैं, लेकिन कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं जो तोड़े तो नहीं जा सकते लेकिन उनकी बराबरी करना उन्हें तोड़ने जैसा ही है. भारतीय स्पिनर अनिल कुंबले के नाम ऐसा ही एक रिकॉर्ड है जिसकी बराबरी करना किसी भी गेंदबाज के लिए आसान नहीं है. कुंबले ने फरवरी 1999 में दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर पाकिस्‍तान के सभी दस विकेट उखाड़ फेंके थे. उन्‍होंने 26.3 ओवर में 74 रन देकर ऐसा किया था.

इस लिस्ट में केशव महाराज का नाम भी जुड़ जाता लेकिन वो सिर्फ एक विकेट से चूक गए.

साउथ अफ्रीका के कोलंबो में खेले जा रहे दूसरे टेस्‍ट में श्रीलंका के खिलाफ पहली पारी में 9/129 का प्रदर्शन किया. यह श्रीलंकार्इ जमीं पर किसी भी विदेशी गेंदबाज का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है. अगर वह तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा के खाते में जाने वाला एक विकेट भी अपने नाम कर लेते तो वह एक पारी में सभी दस विकेट लेने वाले दुनिया के तीसरे गेंदबाज बन जाते. रबाडा ने रोशन सिल्‍वा को 22 रन के स्‍कोर पर बोल्‍ड किया था.

इस मामले में पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज इमरान खान (58 रन पर आठ विकेट, 1982) दूसरे और वेस्टइंडीज के शैनन गैब्रियल (62 रन पर आठ विकेट,2018) तीसरे स्थान पर हैं. अगर स्पिनर की बात करें तो पाकिस्‍तान के यासिर शाह ने 2015 में गॉल में 76 रन देकर सात विकेट लिए थे, जो कि इससे पहले श्रीलंका में किसी विदेशी स्पिनर का सबसे अच्‍छा प्रदर्शन था.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi