S M L

जन्मदिन विशेष: भारत के सबसे फिट क्रिकेटर जिसने देश को पहला वर्ल्ड कप दिलाया

खेल | FP Staff | Jan 06, 2019 09:11 AM IST
X
1/ 5
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और विश्व के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंड में से एक में शुमार कपिल देव का जन्म 6 जनवरी 1959 को हुआ था. कपिल देव ने ही अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को पहला विश्व कप दिलाया था.

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और विश्व के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंड में से एक में शुमार कपिल देव का जन्म 6 जनवरी 1959 को हुआ था. कपिल देव ने ही अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को पहला विश्व कप दिलाया था.

X
2/ 5
1978 में कपिल ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया. सीरीज के तीसरे मैच में कपिल ने सिर्फ 33 गेंदों में हाफ सेंचुरी लगाई. कपिल ने पाकिस्तान के खिलाफ ही अपना वनडे डेब्यू किया.

1978 में कपिल ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया. सीरीज के तीसरे मैच में कपिल ने सिर्फ 33 गेंदों में हाफ सेंचुरी लगाई. कपिल ने पाकिस्तान के खिलाफ ही अपना वनडे डेब्यू किया.

X
3/ 5
1983 वर्ल्ड कप के एक अहम मुकाबले में जिम्बाव्वे के खिलाफ 17 रन पर भारत के 5 विकेट गिर गए थे. कपिल देव ने उस मैच में 175* रनों की यादगार पारी खेली थी. कपिल ने सैयद किरमानी के साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए नाबाद 126 रनों की साझेदारी निभाकर भारत को जीत दिलाई थी.

1983 वर्ल्ड कप के एक अहम मुकाबले में जिम्बाव्वे के खिलाफ 17 रन पर भारत के 5 विकेट गिर गए थे. कपिल देव ने उस मैच में 175* रनों की यादगार पारी खेली थी. कपिल ने सैयद किरमानी के साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए नाबाद 126 रनों की साझेदारी निभाकर भारत को जीत दिलाई थी.

X
4/ 5
कपिल देव ने सन् 1983 में भारत को पहला विश्वकप दिलाया था. इसके बाद से ही भारतीय क्रिकेट में बदलाव आने शुरू हुए. खासकर तेज गेंदबाजी में.

कपिल देव ने सन् 1983 में भारत को पहला विश्वकप दिलाया था. इसके बाद से ही भारतीय क्रिकेट में बदलाव आने शुरू हुए. खासकर तेज गेंदबाजी में.

X
5/ 5
अपने 16 साल लंबे इंटरनेशनल करियर में कपिल कभी फ़िटनेस की वजह से ड्रॉप नहीं किए गए. सबसे बढ़कर 184 टेस्ट पारियों में बल्लेबाजी करते हुए कपिल देव कभी रन आउट नहीं हुए. 1984 में इंग्लैंड के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में अगर उन्हें टीम मैनेजमेंट ने ड्रॉप नही किया होता तो 131 लगातार खेलने का कारनामा उनके नाम होता. सनम 1994 में उन्होंने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी.

अपने 16 साल लंबे इंटरनेशनल करियर में कपिल कभी फ़िटनेस की वजह से ड्रॉप नहीं किए गए. सबसे बढ़कर 184 टेस्ट पारियों में बल्लेबाजी करते हुए कपिल देव कभी रन आउट नहीं हुए. 1984 में इंग्लैंड के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में अगर उन्हें टीम मैनेजमेंट ने ड्रॉप नही किया होता तो 131 लगातार खेलने का कारनामा उनके नाम होता. सनम 1994 में उन्होंने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी