विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आईपीएल मीडिया राइट्स : एयरटेल और याहू ने भी दिखाई दिलचस्पी

पांच साल के लिए आईपीएल के मीडिया राइट्स से बीसीसीआई को है करीब 20 हजार करोड़ की कमाई की उम्मीद

FP Staff Updated On: Nov 05, 2017 03:17 PM IST

0
आईपीएल मीडिया राइट्स : एयरटेल और याहू ने भी दिखाई दिलचस्पी

भारतीय क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीसीआई के कानूनी दांव-पेंच में फंसे होने के बावजूद आईपीएल के प्रसारण अधिकारों में दिलचस्पी बरकरार है. ऐसी दिलचस्पी दिखाने वालों में कई बड़े नाम हैं. अब दूरसंचार कंपनी एयरटेल और इंटरनेट सेवा प्रदाता याहू ने भी बोली दस्तावेज खरीदे हैं.

डिस्कवरी और यप्प टीवी ने भी कुछ दिन पहले बोली दस्तावेज खरीदे थे. अब तक कुल 24 कंपनियों ने बोली दस्तावेज में रुचि दिखाई है. बीसीसीआई के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसियों को बताया, 'हां, एयरटेल और याहू के अलावा बीएएमटेक और डीएजेडएन जैसी डिजिटल कंपनियों ने भी बोली दस्तावेज खरीदे हैं।'

उन्होंने बताया कि पिछले साल 18 कंपनियों ने बोली दस्तावेज खरीदा था, लेकिन प्रक्रिया रुक गई थी. इस वजह से उनके दस्तावेज को नहीं देखा जा सका था. सभी अधिकार 2018-2022 तक पांच सालों के लिए मान्य रहेंगे. प्रसारण अधिकार को तीन विशेष कैटेगरी में बांटा गया है, जिसमें टेलीविजन, मोबाइल और इंटरनेट शामिल हैं.

अनुमान है कि चकाचौंध भरी इस लीग को टेलीविजन, मोबाइल और इंटरनेट प्रसारण के अधिकार से बीसीसीआई को 20 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा मिलेंगे. टीवी प्रसारण अधिकार के लिए मुख्य मुकाबला स्टार इंडिया और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क के बीच है.

दर्शकों की संख्या में इजाफे और टूर्नामेंट में अधिकांश समय विवाद से दूर रहने के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का ब्रांड मूल्य 10वें टूर्नामेंट के बाद बढ़कर पांच अरब 30 करोड़ डॉलर हो गया है. ग्लोबल वैलुएशन एंड कॉरपोरेट फाइनेंस एडवाइजर डफ एंड फेल्प्स ने यह आकलन किया है. डफ एंड फेल्प्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि व्यवसाय के रूप में आईपीएल की कुल कीमत पिछले साल के चार अरब 20 करोड़ डॉलर की तुलना में बढ़कर पांच अरब 30 करोड़ डॉलर हो गई है जिसमें तीन साल का 13.9 प्रतिशत सीएजीआर भी शामिल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi