S M L

IPL 2018: शानदार है 'रिटर्न ऑफ चेन्नई सुपर किंग्स'

बैन के दो साल बाद वापसी कर रही चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने अपने प्रदर्शन से साफ कर दिया है कि क्यों वो सफल टीम रही है

Updated On: Apr 21, 2018 06:39 PM IST

Neeraj Jha

0
IPL 2018: शानदार है 'रिटर्न ऑफ चेन्नई सुपर किंग्स'

 

हमेशा से आईपीएल में सबसे सफल टीमों में चेन्नई सुपर किंग्स यानी सीएसके की गिनती होती रही है. मजाक में कहा ये जाता है कि बाकी 7 टीमों में से कौन चेन्नई के खिलाफ फाइनल में खेलेगा लड़ाई इसकी है. स्पॉट फिक्सिंग विवाद में शामिल होने के बाद इस टीम को दो साल के लिए निलंबित कर दिया गया था, लेकिन लीग के इस साल के सीजन में धमाकेदार वापसी की है.

आईपीएल शुरू होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी काफी भावुक हो गए थे उन्होंने कहा था की पूरी टीम के साथ वो वापस आए है. चेन्नई के साथ धोनी का जो अटूट रिश्ता है वो शायद ही किसी और टीम के कप्तान और किसी खिलाडी का होगा. यही वजह है की दो साल बाद भी धोनी और चेन्नई सुपर किंग्स के सिर्फ प्रैक्टिस को देखने के लिए करीब 15000 दर्शक पहुंच गए थे. ऐसे समय में जब आईसीसी टेस्ट मैचों में लोगों को मैदान तक खींचने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रही है, इस तरह दर्शकों का शामिल होना चेन्नई की टीम के लिए यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि है.

वापसी के बाद धुआंधार प्रदर्शन

जहाँ एक तरफ चेन्नई की वापसी हो रही थी वही कप्तान धोनी के लिए भी सब कुछ इतना आसान नहीं था. करीब दो साल बाद वो पहली बार कप्तानी करने जा रहे थे.

चेन्नई के प्रशंसकों के लिए इस से बढ़िया ओपनिंग मैच शायद ही हो सकता था क्योंकि आईपीएल की दो बेहतरीन सफल टीमें मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में एक दूसरे के खिलाफ खेल रही थी. यहां ये बता दूं की चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियन आईपीएल के फाइनल में तीन बार भीड़ चुकी है  2010, 2013 और 2015 में. इस जबरदस्त मैच में सुपर किंग्स ने मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस को मैच की अंतिम गेंद में डवेन ब्रावो की 30 बॉल में मारे गए 68 रनों की बदौलत जीत दर्ज कर सीजन की सफल शुरुआत की.

csk vs mi

दुसरे मैच में उनके सामने दिनेश कार्तिक के नेतृत्व वाले कोलकाता नाइट राइडर्स थे. ये मैच भी उतना ही रोमांचक रहा. सुपर किंग्स ने 19.5 ओवर में 203 के लक्ष्य का पीछा किया और मैच पांच विकेट से जीता. इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज सैम बिलिंग्स ने 23 गेंदों में 56 रनों की शानदार पारी खेली.

तीसरे मैच में टारगेट का पीछा करते हुए चेन्नई ने पांच विकेट खो दिए थे. मोहाली में चेन्नई की टीम को 10 गेंदों में 35 रनों की जरूरत थी. क्रीज पर 'फिनिशर' एमएस धोनी थे और किंग्स इलेवन पंजाब को पता था कि जब तक धोनी है  मैच उनके हाथ से बाहर है. पीठ दर्द से जूझते हुए कप्तान ने तीन छक्के और 2 चौके जड़े लेकिन लक्ष्य से 4 रन कम पीछे रह गए. धोनी ने 44 गेंदों पर 79 रन बनाए. मैच भले ही चेन्नई हार गई लेकिन धोनी ने प्रशंसकों का दिल जीत लिया.

शुक्रवार को खेले गए राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ गए मैच को चेन्नई ने आसानी से जीतकर बाकी तमाम टीमों के सामने एक मजबूत विकल्प के तौर पर अपने आपको खड़ा कर दिया है. शेन वाटसन ने इस मैच में शतक लगाकर ये बता दिया की टीम के सारे खिलाड़ी एक जबस्दस्त लय में है.

कप्तान धोनी ने भी साबित कर दिया की वो अभी भी टीम को लीड करने और रन बनाने की कूबत रखते हैं. पूर्व कप्तान कपिल देव का कहना है की जो लोग उन्हें 2019 वर्ल्ड कप टीम में नहीं देखना चाहते है उनके लिए ये करारा जबाब है.  

चेन्नई फैंस को हाथ लगी निराशा

कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ जब 19.5 ओवर में रवींद्र जडेजा ने छक्का मारकर टीम को जीत दिलाई थी तो शायद ही किसी को पता था की चेपौक स्टेडियम में चेन्नई का ये आखिरी मैच है. कावेरी पानी विवाद को लेकर चल रहे विरोध की वजह से मैनेजमेंट को वेन्यू शिफ्ट करने के लिए मजबूर होना पड़ा. सीएसके का अब पूना होम ग्राउंड है. इसके साथ ही दर्शकों में नाराजगी साफ देखने को मिल रही थी.

ये तो मानना पड़ेगा की चेन्नई के फैंस से ज्यादा बड़ा कोई  फैन नहीं है. उनकी निष्ठा, उनकी तैयारियां और सोशल मीडिया पर उनकी गतिविधियां साफ तौर पर उन्हें नंबर वन फैन बनाती है. चेन्नई टीम मैनेजमेंट ने तो पीले रंग में रंगे दर्शकों की बेहतरीन फौज इकट्ठी कर ली थी, लेकिन उन्हें क्या पता था की उनका होम ग्राउंड पुणे हो जाएगा.

chennai super kings

चेन्नई सुपर किंग्स प्रबंधन ने अक्सर कहा है कि उनके प्रशंसक उनके 'परिवार' का एक अभिन्न अंग है. एमएस धोनी ने इस वर्ष के शुरू में ही उल्लेख किया था कि सीएसके की 'सबसे बड़ी ताकत' उनके प्रशंसक है. और दोनों के बीच संबंध और भी मजबूत हो गए जब मैनेजमेंट ने 1000 फैंस को पुणे में मैच दिखाने के लिए एक विशेष 'व्हिस्टलपॉड एक्सप्रेस' ट्रेन का बंदोबस्त किया. किसी और टीम ने कभी कुछ ऐसा नहीं किया है और यही चेन्नई की टीम और प्रशंसको को बाकी टीमों से अलग करती है.

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi