S M L

अपनी शानदार फॉर्म से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के 'जले पर नमक' छिड़क रहे हैं ये खिलाड़ी

जिन तीन बड़े खिलाड़ियों को आरसीबी ने नीलामी में नकारा था, वह अपनी-अपनी टीमों को शीर्ष पर ले जा रहे हैं

FP Staff Updated On: Apr 22, 2018 05:30 PM IST

0
अपनी शानदार फॉर्म से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर  के 'जले पर नमक' छिड़क रहे हैं ये खिलाड़ी

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इस सीजन में अब तक कुल पांच मैचों में से सिर्फ दो ही मैचों में जीत हासिल की है. मगर रॉयल चैलेंजर्स के खेल प्रेमी इस टीम की हार से इतना दुखी नहीं होंगे जितना उन खिलाड़ियों के प्रदर्शन से हो रहे होंगे जिन्हें इस बार टीम प्रबंधन ने बोली लगाने के लायक तक नहीं समझा था. पिछले सीजन में बैंगलोर की तरफ से कुछ खास प्रदर्शन ना करने के चलते इस बार कई दिग्गज खिलाड़ियों पर नीलामी के दौरान बोली तक नहीं लगाई. हालांकि वे सभी इस सीजन में अपने शानदार प्रदर्शन से अपनी-अपनी टीमों को जीत दिला रहे हैं.

नीलामी में जिस गेल को नकारा, वह बल्ले से आग उगल रहा है

उन खिलाड़ियों में पहला नाम आता है कैरेबियाई बल्लेबाज क्रिस गेल का. पिछले कई सीजनों में आरसीबी की तरफ से खेल रहे गेल को नीलामी के दो राउंड तक कोई खरीददार तक नहीं मिला था. जिसके बाद आखिर में किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें बेस प्राइज पर खरीदा. अब टूर्नामेंट के शुरू होने के साथ ही गेल ने अपने बल्ले से आग उगलना भी शुरू कर दिया, जिसके लिए वह मशहूर हैं. वह इस टूर्नामेंट में अब तक 3 मैचों में कुल 229 रन जड़ चुके हैं और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में दूसरे स्थान पर हैं. वह इस सूची में शीर्ष पर चल रहे विराट कोहली से महज दो रन पीछे हैं.

केएल राहुल को ना खरीदने का फैसला भी गलत

सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में पांचवें स्थान पर बैंगलोर  के ही एबी डिविलियर्स का नाम आता है, लेकिन उनसे ठीक ऊपर यानी चौथे स्थान पर हैं लोकेश राहुल. जिन्हें नीलामी में रॉयल चैलेंजर्स की टीम ने नकार दिया था. राहुल अब पंजाब की तरफ से शानदार फॉर्म में हैं. उन्होंने अब तक खेले पांच मैचों में कुल 213 रन बनाए हैं.

अखर रहा होगा वॉटसन को ना खरीदना

इन दो खिलाड़ियों ने सिर्फ बल्लेबाजी में शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन तीसरा खिलाड़ी ऐसा है जिसने ना सिर्फ बल्ले से बल्कि गेंद से भी अपनी टीम को कई मैचों में जीत दिलाई है. वह हैं चेन्नई सुपरकिंग्स के शेन वॉटसन, जो कि पिछले सीजन तक रॉयल चैलेंजर्स के साथ थे. वॉटसन को ना खरीदने का फैसला रॉयल चैलेंजर्स को सबसे ज्यादा परेशान कर रहा होगा, क्योंकि इस खिलाड़ी ने अपने शानदार खेल की बदौलत सीएसके को अंंकतालिका में दूसरे स्थान तक पहुंचा दिया है.

वॉटसन ने इस टूर्नामेंट में अब तक पांच मैचों में छह विकेट चटकाए हैं और बल्लेबाजी में भी 176 रनों के साथ वह सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में नौवें स्थान पर हैं. इतना ही नहीं वह अब तक चेन्नई की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं.

आरसीबी की किस्मत या गलत फैसलों का परिणाम

पिछले सीजनों में जिन खिलाड़ियों के बूते रॉयल चैलेंजर्स ने तमाम खेलप्रेमियों के दिल में जगह बनाई थी वह इस सीजन में उन खिलाड़ियों को गंवा बैठी. जिसका खामियाजा रॉयल चैलेंजर्स को भुगतना भी पड़ रहा है. जिस टीम में उनके खिलाड़ी खेल रहे हैं वह टीमें काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहीं हैं. जबकि रॉयल चैलेंजर्स में विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे शानदार खिलाड़ी होने के बाद भी यह टीम अब तक इस टूर्नामेंट में प्रभावित करने में नाकाम रही है. अब इसे रॉयल चैलेंजर्स की किस्मत कह लो या नीलामी में लिए गए गलत फैसले का परिणाम.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi