S M L

IPL 2018, MI vs KKR : जीत का सिलसिला जारी रखना चाहेगी मुंबई इंडियंस 

रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई का सामना दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली टीम कोलकाता नाइट राइडर्स से

Updated On: May 08, 2018 04:11 PM IST

FP Staff

0
IPL 2018, MI vs KKR : जीत का सिलसिला जारी रखना चाहेगी मुंबई इंडियंस 

रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस  ने अपने पिछले तीन मैचों में लगातार जीत हासिल कर इंडियन प्रीमियर लीग 2018 में अपनी उम्मीद बरकरार रखी है. बुधवार को उसका सामना दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली टीम कोलकाता नाइट राइडर्स से होगा. इस मैच में नाइट राइडर्स की टीम मुंबई इंडियंस से अपनी हार का बदला लेने उतरेगी, जबकि मुंबई का लक्ष्य एक बार फिर कोलकाता को हराना होगा. नाइटराइडर्स पिछले तीन साल से मुंबई इंडियंस के हाथों लगातार हार झेल रही है. नाइटराइडर्स ने अब तक आईपीएल के 11 सत्रों में मुंबई इंडियंस के खिलाफ जो 21 मैच खेले हैं उनमें से 17 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यह किसी एक आईपीएल टीम का किसी भी प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ सबसे खराब रिकॉर्ड है.

तीन दिनों में दूसरी बार आमने-सामने

पिछले तीन दिनों में दूसरी बार कोलकाता का सामना मुंबई से होगा. वानखेडे स्टेडियम में छह मई को खेले गए मैच में भी नाइटराइडर्स को 13 रन से हार का सामना करना पड़ा जो उसकी मुंबई के हाथों लगातार सातवीं हार है. असल में नाइटराइडर्स पिछले 1125 दिन से मुंबई को हराने में नाकाम रहा है. उसने मुंबई इंडियंस के खिलाफ आखिरी जीत आठ अप्रैल, 2015 को हासिल की थी. आईपीएल में अब तक कोलकाता 22 बार मुंबई का सामना कर चुकी है और ऐसे में मुंबई ने सबसे अधिक 17 मैच जीतते हुए बढ़त बना रखी है. अगर खिताबी जीत की उम्मीद बनाए रखनी है, तो दोनों टीमों को बुधवार का मैच हर हाल में जीतना होगा.

मुंबई को जीत का चौका लगाने की उम्मीद

मौजूदा विजेता मुंबई ने अपने पिछले तीन मैचों में किंग्स इलेवन पंजाब, चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ जीत हासिल की थी. वो आठ अंकों के साथ पांचवां स्थान पर मौजूद है. वह चौथे स्थान पर काबिज कोलकाता से दो अंक दूर है. कोलकाता ने अब तक खेले गए 10 मैचों में से पांच में जीत हासिल की है और इतने ही मैचों में हार का सामना भी किया है. वहीं मुंबई ने भी 10 मैच खेले हैं और उसे चार में जीत मिली है. यही नहीं कोलकाता की लय जहां गड़बड़ा रही है वहीं आईपीएल की सबसे सफल फ्रेंचाइजी मुंबई ने सही समय पर लय हासिल की है. इससे पहले 2015 में भी रोहित शर्मा की अगुआई वाली टीम ने अपने आखिरी आठ में से सात मैच जीतकर खिताब जीता था और इस बार भी टीम वही चमत्कार दोहराने की कोशिश में होगी.

सूर्यकुमार यादव हैं मुंबई का ट्रप कार्ड

पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में रोहित और क्रुणाल पांड्या ने अहम भूमिका निभाते हुए मुंबई को जीत दिलाई थी. कोलकाता के खिलाफ हार्दिक पांड्या ने बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में कमाल दिखाया था. इस मैच में सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे सूर्यकुमार यादव ने 59 रनों की अर्धशतकीय पारी खेल मुंबई को अच्छी शुरुआत दी थी. वह इस सीजन में मुंबई के सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने 39.90 की औसत से 399 रन बनाए हैं. हालांकि, मध्यम क्रम में बल्लेबाजी करने आए कप्तान रोहित खास कमाल नहीं कर पाए. यहां हार्दिक ने टीम की बल्लेबाजी को संभाला. मुंबई की गेंदबाजी मजबूत नहीं है और पिछले मैच में कोलकाता की ओर से 54 रनों की शानदार पारी खेलने वाले रॉबिन उथप्पा ने इसे साफ जाहिर कर दिया था.

शिवम मावी चोटिल, खेलना तय नहीं

अपने घर में मुंबई को हराने का इंतजार कर रही कोलकाता की टीम के युवा तेज गेंदबाज शिवम मावी चोटिल हैं. बुधवार के मैच में उनका मैदान पर उतरना तय नहीं है. ऐसे में आईपीएल में पदार्पण करने वाले प्रसिद्ध कृष्णा को इस मैच में मौका मिल सकता है. कोलकाता की गेंदबाजी वेस्टइंडीज के गेंदबाज सुनील नारायन संभाल रहे हैं और इसमें चाइनामैन कुलदीप यादव और लेग स्पिन गेंदबाज पीयूष चावला भी अहम भूमिका निभा रहे हैं. ये गेंदबाज मुंबई के लिए मजबूत स्कोर बनाने का लक्ष्य मुश्किल कर सकते हैं.

कार्तिक के अच्छे प्रदर्शन का सिलसिला जारी

अपने बल्ले के साथ कप्तान कार्तिक ने नियमित रूप से अच्छा प्रदर्शन जारी रखा है. वह अन्य बल्लेबाजों को भी अच्छा प्रदर्शन करते देखना चाहते हैं. इसमें नीतीश राणा और आंद्रे रसेल के साथ-साथ युवा बल्लेबाज शुभमन गिल और क्रिस लिन के नाम शामिल हैं. बेन कटिंग पिछले मैच में महंगे साबित हुए थे और ऐसे में मुंबई उनकी जगह मुस्तफिजुर रहमान को अंतिम एकादश में रख सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi