S M L

IPL 2018, MI v RCB : प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद बरकरार रखना होगा मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स का लक्ष्य

लगातार हार से बेजार हैं दोनों टीमें, मुंबई और रॉयल चैलेंजर्स दोनों ही सात मैचों में दो-दो जीत दर्ज कर पाई हैं

Updated On: May 01, 2018 09:00 AM IST

FP Staff

0
IPL 2018, MI v RCB : प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद बरकरार रखना होगा मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स का लक्ष्य

इंडियन प्रीमियर लीग मैच में मंगलवार को बेंगलुरु में दो ऐसी टीमें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस आमने-सामने होंगी, जो लगातार हार से बेजार हैं. दोनों का लक्ष्य इस मैच में जीत दर्ज करके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद बरकरार रखना होगा. अब तक असल में दोनों टीमों का सफर एक जैसा रहा है. मुंबई और रॉयल चैलेंजर्स दोनों ही सात मैचों में दो-दो जीत दर्ज कर पाई हैं, लेकिन रोहित शर्मा की अगुआई वाली टीम बेहतर रन रेट के आधार पर छठे स्थान पर है. स्थिति यह है कि मंगलवार को जो भी टीम हारेगी उसके लिए प्लेऑफ में पहुंचना मुश्किल हो जाएगा

चेन्नई सुपर किंग्स को पुणे में पराजित करने के बाद मुंबई इंडियंस की टीम बढ़े मनोबल के साथ रॉयल चैलेंजर्स का सामना करेगी, जिसकी बल्लेबाजी लाइनअप काफी मजबूत है. रॉयल चैलेंजर्स को चेन्नई और कोलकाता नाइटराइडर्स से लगातार दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा है जिससे उसका आत्मविश्वास हालांकि डिगा हुआ है. अब उसके लिए स्थिति जटिल बन गई है और ऐसे में विराट कोहली की टीम कोई कसर नहीं छोड़ेगी.

दोनों टीमों की पहली भिड़ंत में जीती थी मुंबई

मुंबई वानखेडे स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स के खिलाफ खेले गए अपने मैच से प्रेरणा लेना चाहेगा जिसमें उसने 46 रन से जीत दर्ज की थी. तब रोहित शर्मा और इविन लुईस ने अर्धशतक जमाए थे. लेकिन मुंबई की दिक्कत यह है कि सूर्यकुमार यादव (274 रन) को छोड़कर उसका कोई भी बल्लेबाज निरंतर एक जैसा प्रदर्शन नहीं कर पाया है. कप्तान रोहित पांच मैचों में 20 रन की संख्या पार करने में नाकाम रहे हैं. रोहित फिर से तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतर सकते हैं जैसा कि उन्होंने पिछले मैच में किया था. वह पारी का आगाज भी कर सकते हैं क्योंकि टीम को शीर्ष क्रम में उनकी सख्त जरूरत है. पांड्या बंधुओं हार्दिक और क्रुणाल ने गेंदबाजी में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन उन्हें बल्लेबाजी भी बेहतर प्रदर्शन करना होगा.

अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा मुंबई के गेंदबाजों को

मुंबई के गेंदबाज इकाई के रूप में अच्छा खेल नहीं दिखा पाए हैं. युवा लेग स्पिनर मयंक मार्केंडेय ने सात मैचों में दस विकेट लेकर अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है. डेथ ओवरों के विशेषज्ञ जसप्रीत बुमराह और मुस्तफिजुर रहमान ने क्रमश: सात और छह विकेट लिए हैं और अगर उन्हें रॉयल चैलेंजर्स के बल्लेबाजों को रोकना है तो अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.

डिविलियर्स की वापसी के लिए दुआ कर रहे हैं चैलेंजर्स

दूसरी तरफ रॉयल चैलेंजर्स केवल दो जीत दर्ज कर पाया है और सात मैचों के बाद चार अंक के साथ सातवें स्थान पर बना हुआ है. रॉयल चैलेंजर्स एबी डिविलियर्स की वापसी के लिए दुआ कर रहा होगा, जो बुखार के कारण पिछले मैच में नहीं खेल पाए थे. साउथ अफ्रीका के इस बल्लेबाज ने अब तक अपेक्षा के अनुरूप अच्छा प्रदर्शन किया है. कोहली और क्विंटन डिकॉक से भी टीम अच्छा प्रदर्शन जारी रखने की उम्मीद कर रही है, लेकिन उसके गेंदबाजों और क्षेत्ररक्षकों को बेहतर खेल दिखाना होगा. पिछले मैच में लचर क्षेत्ररक्षण के कारण टीम को हार झेलनी पड़ी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi