S M L

IPL 2018, KXIP VS CSK :  अभी भी प्लेऑफ में पहुंच सकता है किंग्स इलेवन पंजाब

पंजाब को रविवार को होने वाले मैच में हर हाल में चेन्नई सुपर किंग्स को मात देनी होगी

Updated On: May 20, 2018 02:01 PM IST

FP Staff

0
IPL 2018, KXIP VS CSK :  अभी भी प्लेऑफ में पहुंच सकता है किंग्स इलेवन पंजाब

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में किंग्स इलेवन पंजाब को अगर प्लेऑफ में जगह बनानी है तो उसे रविवार को महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम में होने वाले मैच में हर हाल में चेन्नई सुपर किंग्स को मात देनी होगी. पंजाब के सामने अंतिम राउंड रॉबिन मैच में सिर्फ सुपरकिंग्स को हराने की ही चुनौती नहीं होगी, बल्कि उम्मीद बनाए रखने के लिए उसे नेट रन रेट को बढ़ाने पर भी ध्यान लगाना होगा.

पंजाब ने सत्र की शुरुआत लगातार जीत से की थी, लेकिन अब वह 12 अंक लेकर सातवें स्थान पर बनी हुई और उसके पास प्लेऑफ में पहुंचने का मौका है. मुंबई इंडियंस, राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के भी 12-12 अंक हैं और उन्हें एक मैच खेलना बाकी है. लेकिन पंजाब को इस बात का फायदा मिलेगा कि प्लेऑफ स्थान हासिल करने के लिए उसे अपनी जरूरत पता चल जाएगा, क्योंकि यह अंतिम लीग मुकाबला होगा.

 

व्यक्तिगत प्रदर्शन ज्यादा हावी रहा पंजाब पर

पंजाब बतौर टीम चलने में असफल रही है, जबकि उसके लिए व्यक्तिगत प्रदर्शन ज्यादा हावी रहा है. केएल राहुल (652 रन) काफी रन जुटा रहे हैं लेकिन किसी अन्य बल्लेबाज ने लगातार काबिलियत के हिसाब से प्रदर्शन नहीं किया है. अंतिम मुकाबले में वह गत चैंपियन मुंबई इंडियंस से करीबी मैच में अंतिम ओवर में तीन रन से हार गई. टूर्नामेंट के शुरू में क्रिस गेल ने कुछ शानदार पारियां खेली, लेकिन वह इसके बाद निरंतर प्रदर्शन नहीं कर पाए. एरोन फिंच, करुण नायर, मार्कस स्टोइनिस, मयंक अग्रवाल और युवराज सिंह जरूरत के समय रन नहीं बना सके.

एंड्रयू टाई का गेंदबाजी में प्रभावी खेल

गेंदबाजी में केवल एंड्रयू टाई (24 विकेट) ने अच्छा प्रदर्शन किया. अफगानिस्तान के लेग स्पिनर मुजीब उर रहमान भी अच्छे रहे, लेकिन उनके चोटिल होने से टीम को नुकसान होगा. आर अश्विन की टीम अपने अंतिम लीग मैच में गेंदबाजों और बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन से की उम्मीद करेगी.

शीर्ष दो में रहने की कोशिश करेगी सुपरकिंग्स

वहीं दूसरी ओर चेन्नई सुपरकिंग्स पहले ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी है और वह शीर्ष दो में रहने की कोशिश करेगी. हालांकि उसे शुक्रवार रात दिल्ली डेयरडेविल्स से 34 रन से हार मिली जिससे उसकी कमजोरियां उजागर हुईं. लेकिन एक जीत उसे शीर्ष दो में पहुंचा देगी और वह 22 मई को मुंबई में होने वाले पहले क्वालीफायर में स्थान सुनिश्चित कर लेगी.

अंबाती रायुडू रहे पूरे सत्र में शानदार

चेन्नई के लिए अंबाती रायुडू (585 रन) पूरे सत्र में शानदार रहे हैं.  जिन्हें जिस भी स्थान (पारी का आगाज करने और चौथे नंबर) पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया, वहां अच्छा प्रदर्शन किया. वह और शेन वॉटसन (438 रन) टीम को मजबूत शुरुआत देना चाहेंगे. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (430 रन ) ने कुछ अच्छी पारियां खेली हैं जिससे उन्होंने अपने आलोचकों को भी चुप कर दिया है। उनकी भूमिका कल के मैच में भी अहम होगी. वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो और रवीद्र जडेजा को भी महत्वपूर्ण पारियां खेलने की जरूरत है. दीपक चाहर के चोट से वापसी करने के बाद चेन्नई का गेंदबाजी आकमण मजबूत हुआ है जो शार्दुल ठाकुर तथा हरभजन सिंह और जडेजा की स्पिन जोड़ी पर भी निर्भर होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi