S M L

IPL 2018, KKR Vs CSK : क्या चेन्नई सुपर किंग्स का विजय रथ थाम पाएंगे नाइट राइडर्स!

कोलकाता की टीम भले ही अपने घर ईडन गार्डेंस स्टेडियम में खेल रही होगी, लेकिन उसके लिए शीर्ष पर कायम चेन्नई की चुनौती से पार पाना आसान नहीं होगा

Updated On: May 03, 2018 08:21 AM IST

FP Staff

0
IPL 2018, KKR Vs CSK : क्या चेन्नई सुपर किंग्स का विजय रथ थाम पाएंगे नाइट राइडर्स!

दो साल बाद वापसी करने वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने जिस तरह का प्रदर्शन किया है, उससे बाकी टीमों के लिए वो अभी तक की सबसे बड़ी बाधा साबित हुई है. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में गुरुवार को दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स के सामने विजय रथ पर सवार सुपर किंग्स को थामने की चुनौती होगी. कोलकाता की टीम भले ही अपने घर ईडन गार्डेंस स्टेडियम में खेल रही होगी, लेकिन उसके लिए अंकतालिका में शीर्ष पर कायम चेन्नई की चुनौती से पार पाना आसान नहीं होगा.

दोनों टीमों के बीच की बात की जाए तो चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ कोलकाता नाइट राइडर्स का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. दोनों के बीच खेले गए 19 मैचों में से 12 में चेन्नई को जीत मिली है.

बल्लेबाजी मजबूत है नाइट राइडर्स की

नाइट राइडर्स ने अपने पिछले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को मात दी थी. उस जीत से निश्चित ही टीम के आत्मविश्वास को बल मिला होगा. टीम की बल्लेबाजी मजबूत है. टीम को अच्छी शुरुआत देने की जिम्मेदारी क्रिस लिन पर रहेगी. लिन को रोकना महेंद्र सिंह धोनी के लिए भी एक बड़ी चुनौती रहेगी. अगर लिन के साथ सुनील नारायन पारी की शुरुआत करने आते हैं तो यह जोड़ी कुछ भी करने में समर्थ है. इनके अलावा कप्तान दिनेश कार्तिक और उपकप्तान रॉबिन उथप्पा भी अच्छी फॉर्म में हैं.

स्पिन तिकड़ी है पर होगा दारोमदार

टीम की ताकत उसकी स्पिन तिकड़ी है जिसमें कुलदीप यादव, पीयूष चावला और नरेन हैं. अपने घर में यह तीनों बेहद खतरनाक साबित होते हैं. काफी हद तक कोलकाता की जीत का दारोमदार इन तीनों पर ही रहेगा. तेज गेंदबाजों में उसके पास मिचेल जॉनसन, शिवम मावी, टॉम कुरैन हैं.

पुराने रंग में आ गए हैं महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली सुपर किंग्स ने इस सीजन में कई रोमांचक मैचों में शानदार जीत दर्ज की है और उसके लिए सबसे अच्छी बात यह है कि कप्तान धोनी बल्ले से अपने पुराने रंग में आ गए हैं. उन्होंने 71.50 की औसत से कुल 286 रन बनाए हैं. धोनी के अलावा मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस से चेन्नई में आए अंबाती रायुडू का बल्ला भी जमकर बोल रहा है. उन्होंने अभी तक कुल 370 रन बनाए हैं. चेन्नई ने उन्हें शुरुआत में सलामी बल्लेबाज के तौर पर इस्तेमाल किया था, लेकिन फाफ डुप्लेसी को शामिल करने के बाद वह मध्यक्रम में भी खेल रहे हैं और यहां भी उनका बल्ला शांत नहीं है.

सुरेश रैना का ना चलना चिंता का सबब

शेन वॉटसन पर सलामी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी है जिसे उन्होंने बखूबी निभाया है. उनकी और डुप्लेसी की सलामी जोड़ी किसी भी विपक्षी टीम को अच्छी शुरुआत से वंचित रख सकती है. आईपीएल इतिहास के सबसे सफल बल्लेबाज सुरेश रैना हालांकि अपने प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रख पाए हैं. निचले क्रम में चेन्नई के पास ड्वेन ब्रावो जैसा बल्लेबाज भी है जो तेजी से रन बटोरने और बड़े शॉट लगाने में माहिर है.

चेन्नई की गेंदबाजी भी धारदार है

बल्लेबाजी के अलावा चेन्नई की गेंदबाजी भी शानदार है जिसमें ब्रावो की भी अहम भूमिका रही है. पिछले मैच में साउथ अफ्रीका के लुंगी एंगिडी ने आईपीएल पदार्पण कर काफी प्रभावित किया था. उम्मीद है धोनी उन्हें इस मैच में भी मौका देंगे. उनके अलावा केएम आसिफ ने भी पिछले मैच में पदार्पण करते हुए प्रभावित किया था. कोलकाता के लिए यह जोड़ी घातक साबित हो सकती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi