S M L

IPL 2018: इन चार अनकैप्‍ड भारतीय खिलाड़ियों से तो शायद इनके कप्‍तान को भी नहीं थी ऐसी उम्‍मीद

सूर्यकुमार यादव ने अपने कंधों पर संभाले रखा मुंबई इंडियंस की बल्‍लेबाजी का जिम्‍मा तो दीपक चाहर ने चेन्‍नई सुपर किंग्‍स को चैंपियन बनाने में दिया अहम योगदान

Updated On: May 28, 2018 02:57 PM IST

FP Staff

0
IPL 2018: इन चार अनकैप्‍ड भारतीय खिलाड़ियों से तो शायद इनके कप्‍तान को भी नहीं थी ऐसी उम्‍मीद

आईपीएल का 11वां सीजन खत्‍म हो चुका है और इस सीजन में अनुभवी खिलाड़ियों सहित कुछ ऐसे भारतीय खिलाड़ियों ने प्रभावित किया है, जिन्‍होंने  अभी तक भारतीय टीम की कैप तक नहीं पहनी. बल्‍लेबाजी से लेकर गेंदबाजी और फील्डिंग तक भारत के ये अनकैप्‍ड प्लेयर्स दिग्‍गजों पर भी हावी रहे और इन चारों खिलाड़ियों से उम्‍मीद से बढ़कर ऐसे प्रदर्शन की उम्‍मीद शायद इनके कप्‍तान को भी नहीं थी.

सूर्यकुमार यादव

SURYA

एक बार फिर आईपीएल में मुंबई इंडियंस की धीमी शुरुआत रही और इस धीमी शुरुआत का हर्जाना उन्‍हें बाद में काफी दबाव वाले मुकाबले खेलकर चुकाना पड़ा. नतीजा पिछली बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस इस बार प्‍लेऑफ में जगह तक नहीं बना पाई. शुरुआती मुकाबलों में तो टीम का कोई भी विभाग चल नहीं सका, हालांकि कुछ मैच गंवाने में टीम अपनी लय में लौटी. इन सबके बावजूद मुंबई इंडियंस के सलामी बल्‍लेबाज सूर्यकुमार यादव ने हर परिस्थिति में खुद का प्रदर्शन जारी रखा और 27 साल का यह खिलाड़ी आईपीएल के किसी एक सीजन में 500 या उससे अधिक रन बनाने वाले पहला अनकैप्‍ड भारतीय खिलाड़ी बन गया है. सूर्य को मिडिल ऑर्डर से प्रमोट कर मुंबई की पारी का आगाज करने का मौका दिया गया और इस खिलाड़ी ने अधिकतर मैच में टीम को मजबूत शुरुआत भी दी. इसी खिलाड़ी के दम में इस सीजन में कमजोर शुरुआत करने के बावजूद भी मुंबई इंडियंस की प्‍लेऑफ में जाने की उम्‍मीद आखिरी क्षण तक बनी रही. पिछले कई सीजन कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए लोअर मिडिल क्रम पर बल्‍लेबाजी करने के लिए आने वाले सूर्य ने इस सीजन में मुंबई की पारी का आगाज किया और चार अर्धशतक सहित 14 मैचों की 14 पारियों में कुल 512 रन जड़े. सूर्य का सर्वाधिक 72 की पारी थी. सूर्य ने जिन 4 मैचों में अर्धशतक लगाए थे, उनमें से तीन में मुंबई ने जीत दर्ज की थी.

सिद्धार्थ कौल

Siddarth Kaul

आईपीएल के पिछले सीजन में 16 विकेट के साथ बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले सनराइजर्स हैदराबाद के सिद्धार्थ कौल ने इस सीजन में अपने प्रदर्शन में सुधार लाते हुए 21 विकेट के साथ इस सीजन में अपना सफर खत्‍म किया. 28 साल के कौल ने इस सीजन में राशिद खान के बाद सबसे ज्‍यादा ओवर फेंके और सबसे ज्‍यादा 547 रन भी लुटाए, लेकिन इनकी स्‍ट्राइक रेट राशिद, जसप्रीत बुमराह और सुनील नारायन की तुलना में काफी बेहतर रही. इसके बावजूद 21 विकेट लेकर वह इस सीजन में सबसे ज्‍यादा विकेट लेने वाले तीसरे खिलाड़ी भी रहे. तीन मैचों को छोड़कर, जिनमें यह कोई विकेट लिए काफी महंगे रहे. उसके अलावा कौल ने पूरे सीजन में काफी कसी गेंदबाजी की और बल्‍लेबाजों को काफी परेशान किया. राजस्‍थान रॉयल्‍स के खिलाफ 17 रन पर दो विकेट लेकर इन्‍होंने मुंबई इंडियंस की नौ विकेट से मिली जीत में काफी अहम योगदान दिया.

दीपक चाहर

Pune: Deepak Chahar of Chennai Super Kings celebrates wicket of Sanju Samson of Rajasthan Royals during an IPL t-20 match in Pune on Friday. PTI Photo/IPL/ SPORTZPICS(PTI4_20_2018_000194B)

इस सीजन में एक और गेंदबाज ने सबका ध्‍यान अपनी ओर खींचा और यह हैं चैंपियन टीम चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के दीपक चाहर, जिन्‍होंने 12 मैचों में 7.28 की इकोनॉमी से 10 विकेट लिए. चेन्‍नई सुपर किंग्‍स की ओर से शुरुआती छह मैच में सात विकेट लेने के बाद चोट के चलते चाहर चार मैच नहीं खेल पाए थे. शुरुआती छह मैचों में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ चाहर की मैच विनिंग गेंदबाजी 15/3 भी शामिल है. चाहर चेन्‍नई के उन तीन गेंदबाजों में से एक हैं, जिनकी इकोनॉमी 8 से कम रही. लुंगी एंगिडी 6 और रवींद्र जडेजा की इकोनॉंमी रेट 7.39 रही. 25 साल के इस खिलाड़ी ने नई गेंद से कई बार आक्रामक प्रदर्शन किया. मुंबई इंडियंस के खिलाफ लीग के पहले मैच में चाहर ने शुरुआती तीन ओवर में 14 रन देकर एक विकेट लिया. अपने इस ओवर में चाहर ने 12 डॉट बॉल फेंकीं. सिर्फ गेंदबाजी में ही नहीं बल्‍लेबाजी में भी निचले क्रम पर टीम को इन पर भरोसा है. लेकिन किंग्‍स इलेवन पंजाब के खिलाफ लक्ष्‍य का पीछा करते हुए होते चाहर ने छठे नंबर पर धोनी से पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 20 गेंदों पर 39 रन की पारी खेली.

अंकित राजपूत

ankit

इस सीजन से पहले किंग्‍स इलेवन पंजाब के अंकित राजपूत ने 2013, 2016 और 2017 में आईपीएल के 11 मैच खेले थे. इस सीजन में राजपूत ने पंजाब के अटैक को मजबूत किया. 24 साल के इस गेंदबाज को पंजाब के पांचवें मैच में जगह मिली और अपने दूसरे ही मैच में 23 पर दो विकेट लेकर पंजाब को दिल्‍ली के खिलाफ चार रन से मिली जीत के अहम योगदान दिया. इस सीजन में राजूपत का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन सबसे मजबूत सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रहा. राजपूत ने 14 रन पर पांच विकेट लेकर हैदराबाद को कम स्‍कोर पर रोक दिया. इसके बावजूद पंजाब ने 13 रन से मैच गंवा दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi