S M L

IPL 2018 Eliminator, RR v KKR : केकेआर को मिला दूसरे क्वालिफायर्स में खेलने का हक, राजस्थान रॉयल्स बाहर

कोलकाता नाइटराइडर्स ने राजस्थान रॉयल्स को 25 रन से हराकर आईपीएल-11 के दूसरे क्वालीफायर्स में खेलने का हक हासिल किया

FP Staff Updated On: May 24, 2018 11:27 AM IST

0
IPL 2018 Eliminator, RR v KKR  : केकेआर को मिला दूसरे क्वालिफायर्स में खेलने का हक, राजस्थान रॉयल्स बाहर

दिनेश कार्तिक (38 गेंदों पर 52 रन) और आंद्रे रसेल (25 गेंदों पर नाबाद 49 रन) की उपयोगी पारियों की मदद से कोलकाता नाइटराइडर्स ने खराब शुरुआत से उबरकर सात विकेट पर 169 रन बनाए. हालांकि बोर्ड पर ये रन इतने नहीं थे कि आप जीत के प्रति आश्वस्त हो सकें. लेकिन बाद में उसके कलाइयों के स्पिनरों की अगुआई में गेंदबाजों के अनुशासित प्रदर्शन से कोलकाता नाइटराइडर्स ने बुधवार को कोलकाता में राजस्थान रॉयल्स को 25 रन से हराकर आईपीएल-11 के दूसरे क्वालीफायर्स में खेलने का हक हासिल किया. इस हार से राजस्थान का वर्तमान आईपीएल में सफर भी समाप्त हो गया, जबकि कोलकाता नाइटराइडर्स दूसरे क्वालीफायर में 25 मई को सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ेगा जो मंगलवार को पहले क्वालीफायर में चेन्नई सुपरकिंग्स से दो विकेट से हार गया था.

दिनेश कार्तिक ने अपनी पारी में चार चौके और दो छक्के जबकि शुरू में जीवनदान पाने वाले रसेल ने तीन चौके और पांच छक्के लगाए. इन दोनों के अलावा शुभमन गिल ने 28 रन का योगदान दिया. कोलकाता नाइटराइडर्स ने अंतिम छह ओवरों में 85 रन बटोरे. राजस्थान को इस मैच में जोस बटलर और बेन स्टोक्स की कमी खली जो इंग्लैंड की टेस्ट टीम से जुड़ने के लिए स्वदेश लौट गए हैं. कप्तान अजिंक्य रहाणे (41 गेंदों पर 46 रन) और संजू सैमसन (38 गेंदों पर 50 रन) ने कुछ समय तक उम्मीद बंधाए रखी, लेकिन कोलकाता नाइटराइडर्स के गेंदबाजों ने उन्हें अपेक्षित तेजी से रन नहीं बनाने दिए. रॉयल्स की टीम आखिर में चार विकेट पर 144 रन तक ही पहुंच पाई.

रहाणे और सैमसन ने दूसरे विकेट पर 62 रन जोड़े

पिच शुरू में गीली थी और उसमें उछाल भी था, लेकिन खेल आगे बढ़ने के साथ वह बल्लेबाजी के अनुकूल हो गई थी. रहाणे ने रसेल के पहले ओवर में प्वाइंट के ऊपर से छक्का जड़कर आत्मविश्वास भरी शुरुआत की. उन्हें पीयूष चावला की गुगली पर पगबाधा आउट दिया गया था, लेकिन डीआरएस में फैसला रहाणे के पक्ष में गया. दूसरे सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी (20) ने चावला को वापस कैच थमाने से पहले सुनील नारायन के पहले ओवर में लगातार दो छक्के लगाए. रहाणे और त्रिपाठी ने पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े. इसके बाद सैमसन ने अपने कप्तान के साथ दूसरे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की. इसमें सैमसन का योगदान अधिक था जिन्होंने जेवोन सियर्ल्स और नारायन पर छक्के लगाए.

रहाणे अर्धशतक से चूके, सैमसन सफल रहे

रहाणे हालांकि कुलदीप यादव की गेंद पर वापस कैच थमाने के कारण अर्धशतक पूरा नहीं कर पाए. सैमसन ने 37 गेंदों पर अपना पचासा पूरा करने के तुरंत बाद लांग ऑन पर कैच दे बैठे. उस समय रॉयल्स को 19 गेंदों पर 44 रन की दरकार थी, लेकिन स्टुअर्ट बिन्नी (00) आते ही पवेलियन लौट गए. रसेल ने 19वें ओवर में केवल छह रन दिए, जिससे अंतिम ओवर में 34 रन बनाने की मुश्किल चुनौती रह गई थी. रॉयल्स की तरफ से पीयूष चावला ने चार ओवर में 24 रन देकर दो, जबकि दूसरे लेग स्पिनर कुलदीप यादव ने 18 रन देकर एक विकेट लिया. तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा ने 28 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

चार ओवर में ही नाइटराइडर्स के तीन बल्लेबाज निपटे

इससे पहले रॉयल्स के गेंदबाजों ने शुरू में धारदार गेंदबाजी की. उसकी तरफ से कृष्णप्पा गौतम, जोफ्रा आर्चर और बेन लागलिन ने दो-दो विकेट लिए, जबकि ईश सोढ़ी ने चार ओवर में केवल 15 रन देकर किफायती गेंदबाजी की. ऑफ स्पिनर गौतम और तेज गेंदबाज आर्चर ने पहले चार ओवर में ही नाइटराइडर्स के तीन बल्लेबाज सुनील नारायन (04), ऱॉबिन उथप्पा (03) और नीतीश राणा (03) को पवेलियन भेज दिया था. ऐसे नाजुक मोड़ पर कार्तिक ने सकारात्मक शुरुआत की जिससे पावरप्ले तक टीम 46 रन तक पहुंचने में सफल रही, हालांकि यह नाइटराइडर्स का इस सत्र में पहले छह ओवरों का न्यूनतम स्कोर है. क्रिस लिन (22 गेंदों पर 18 रन) ने आठ ओवर तक एक छोर संभाले रखा, लेकिन श्रेयस गोपाल की गुगली उनके समझ से परे थी जिस पर उन्होंने गेंदबाज को कैच का अभ्यास कराया. रहाणे ने दोनों छोर से कलाई के स्पिनरों गोपाल (चार ओवर में 34 रन, एक विकेट) और सोढ़ी को लगाया, जिन्होंने रन गति पर अंकुश लगाए रखा.

तेज गेंदबाजों पर खुलकर खेले रसेल

ऐसे में जब 14 ओवर के बाद स्कोर चार विकेट पर 84 रन था तब गिल और कार्तिक ने गोपाल के अगले ओवर में 20 रन जुटाकर रन गति तेज की. आर्चर ने हालांकि अगले ओवर में गिल को विकेट के पीछे कैच करा दिया. कार्तिक ने जयदेव उनादकट पर छक्का जड़कर 35 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन अगले ओवर में उन्होंने हवा में कैच लहरा दिया. आर्चर पर छक्के से खाता खोलने वाले रसेल को सोढ़ी ने परेशान किया, लेकिन मध्यम गति के गेंदबाजों के सामने वह खुलकर खेले. जयदेव उनादकट, लागलिन और आर्चर के खिलाफ उन्होंने अपनी पावर हिटिंग का शानदार नमूना पेश किया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi