S M L

IPL 2018, CSK vs RCB: 'करो या मरो' मुकाबले में विराट कोहली से सामने होगी चेन्‍नई की चुनौती

प्लेआॅफ की उम्मीदें बरकरार रखने के लिए आरसीबी को हर हालत में यह मुकाबला जीतना होगा

Updated On: May 04, 2018 04:32 PM IST

FP Staff

0
IPL 2018, CSK vs RCB: 'करो या मरो' मुकाबले में विराट कोहली से सामने होगी चेन्‍नई की चुनौती

चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज शानदार फार्म में है लेकिन आईपीएल की दो साउथ इंडियन टीमों के मुकाबले में शनिवार को उसका सामना जब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से होगा तो उसके अपनी गेंदबाजी में सुधार करना होगा.

विराट कोहली की अगुवाई वाली आरसीबी ने पिछले मैच में मुंबई इंडियंस को 14 रन से हराया था. अब उसकी नजरें महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई टीम से पिछले मैच में मिली पांच विकेट से हार का बदला चुकता करने पर होगी. दूसरी ओर पिछले तीन में से दो मैच हार चुकी चेन्नई जीत की राह पर लौटना चाहेगी.सितारों से सजी आरसीबी के लिए यह मुकाबला करो या मरो का है और प्लेआॅफ की उम्मीदें बरकरार रखने के लिए उसे हर हालत में जीतना होगा. आठ मैचों में तीन जीतकर आरसीबी पांचवें स्थान पर है जबकि चेन्नई नौ में से छह मैच जीतकर दूसरे स्थान पर हैं.

चेन्‍नई के अटैक में दिखी कमजोरी

पहला मैच चेन्नई में खेलने के बाद यहां आई चेन्नई टीम ने सिर्फ मुंबई इंडियंस के हाथों एक मैच गंवाया है. मुंबई से 28 अप्रैल को आठ विकेट से मिली हार और गुरुवार रात कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों छह विकेट से पराजय झेलने वाली चेन्नई की गेंदबाजी की कमजोरियां उजागर हुई हैं. अंबाती रायडू, ऑस्‍ट्रेलिया के शेन वॉटसन, वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो, कप्तान धोनी और सुरेश रैना समेत चेन्नई के सभी बल्लेबाजों ने रन बनाए हैं. रायडू अभी तक 391 रन बना चुके हैं. चेन्नई के गेंदबाजों में शार्दुल ठाकुर का प्रदर्शन अच्छा रहा है, लेकिन टीम को चोटिल दीपक चाहर की कमी महसूस हो रही है. ऐसे में कोहली की मौजूदगी वाले आरसीबी के बल्लेबाजी क्रम को रोकना उनके लिए बड़ी चुनौती होगी.

आरसीबी को सुधारना होगा अपना बैटिंग लाइन अप

आरसीबी के लिए सिर्फ कोहली लगातार अच्छा खेल रहे हैं जो नौ मैचों में 449 रन बना चुके हैं. साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स ने छह मैचों में 280 रन बनाए हैं. क्विंटन डिकॉक ने आठ मैचों में 201 और ब्रेंडन मैकुलम ने पांच मैचों में 122 रन बनाए हैं. आरसीबी की चिंता का सबब डैथ ओवरों की गेंदबाजी है, जिसमें उसके गेंदबाज महंगे साबित हुए हैं. उमेश यादव ने 11 और युजवेंद्र चहल ने सात विकेट लिए हैं, लेकिन मोहम्मद सिराज और वाशिंगटन सुंदर ( चार विकेट ) अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर पाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi