S M L

आईपीएल 2017, लगातार खेलते रहने से प्रदर्शन में सुधार हुआ: उमेश

आईपीएल के पहले ही मैच में उमेश ने 4 विकेट लिए

Updated On: Apr 14, 2017 03:03 PM IST

FP Staff

0
आईपीएल 2017, लगातार खेलते रहने से प्रदर्शन में सुधार हुआ: उमेश

अपने पहले ही मैच में 4 विकेट लेकर केकेआर की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले उमेश यादव का मानना है कि भारत के घरेलू स्तर पर सभी टेस्ट मैचों को खेलना बेहद मददगार रहा. इसके अलावा, भारत के लिए इन मैचों में नियमित रूप से खेलने पर उन्हें अपनी मजबूती और कमजोरियों का भी पता चला, ताकि वह उनमें सुधार कर सकें.

हाल ही में खत्म हुई भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट क्रिकेट श्रृंखला में 23.41 की औसत से आठ पारियों में 17 विकेट लेने वाले गेंदबाज उमेश यादव भारतीय गेंदबाजी का मुख्य आधार रहे हैं.

इस दौरान यादव ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया. उनका शानदार प्रदर्शनऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में खेले गए चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में रहा.

इस टेस्ट मैच में यादव ने कुल पांच विकेट लिए. इस प्रदर्शन के जरिए उन्होंने यह भी दर्शाया कि भारतीय गेंदबाजी में अब तेज गेंदबाजों की कमी नहीं है।.

आईपीएल के 10वें सीजन में धर्मशाला टेस्ट मैच में दिखी फार्म को बनाए रखने के बारे में यादव ने कहा, ‘यह सब मेरी कड़ी मेहनत के कारण है. पिछले आठ से 10 माह में मैं नियमित तौर पर भारतीय टीम के लिए खेल रहा हूं. जितनी अधिक आप गेंदबाजी करते हैं, उतना ही आप बेहतर होते हैं.’

यादव ने कहा, ‘नियमित रूप से खेलने पर एक गेंदबाज की लय में सुधार आता है. मुझे लगता है कि जितने भी मैच मैंने खेले हैं, उससे मेरा प्रदर्शन और भी बेहतर हुआ है. अब मुझे अपनी मजबूती और कमजोरियों के बारे में पता है.’

अपने कोचों के बारे में यादव ने कहा, ‘पिछले 10 महीने में हमारे कोच संजय बांगर, अनिल कुंबले के कारण मुझे गेंदबाजी के बारे में कई चीजें सीखने को मिली. संजय सर ने मुझे बताया कि जब आप गेंदबाजी करते हो, तो कभी-कभी आपको गेंद तेज डालने के लिए जरूरत से अधिक तेज भागना पड़ता है. इसके बाद आप दिशा और लंबाई को ताक पर रखते हो. ऐसे में आपको अपने रन-अप का लुत्फ लेना चाहिए. इसका फायदा यह होगा कि आपकी गेदों की दिशा और लम्बाई सही बनी रहेगी.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi