S M L

आईपीएल 2017, मैच 13: क्या हो सकती है पुणे सुपरजायंट की प्लेइंग इलेवन?

क्या इस मैच में कप्तान स्टीवन स्मिथ पूरी तरह फिट है.?

FP Staff Updated On: Apr 14, 2017 02:04 PM IST

0
आईपीएल 2017, मैच 13: क्या हो सकती है पुणे सुपरजायंट की प्लेइंग इलेवन?

पहला मैच जीतने के बाद लगातार दो मैच हार चुकी पुणे सुपरजायंट की नजर दोबारा से जीत से ट्रैक पर लौटने पर होगी. पुणे आज रात 8 बजे गुजरात लांयस से उसी के घर में टक्कर लेगा. तो क्या लगातार दो हार के बाद पुणे की टीम में बदलाव होगा.आइए देखते हैं.

अजिंक्य रहाणे- पुणे टीम के भरोसेमंद ओपनर अजिंक्य रहाणे ने पहले मैच में अर्धशतक लगा कर फॉर्म में वापसी की थी लेकिन उसके बाद दोनों मैच में फिर से फेल होने के बाद उनके फैंस चितिंत हो गए. लेकिन रहाणे एक शानदार खिलाड़ी है और एक दो मैचों में फेल होने के बाद ज्यादा परेशानी नहीं होनी चाहिए. उम्मीद है पिछले मैच की निराशा को भूल रहाणे अपनी टीम को जीत दिलाएंगे.

मयंक अग्रवाल- कर्नाटक के इस आक्रामक बल्लेबाज ने पिछले तीनों मैचों में काफी निराश किया है. दोनों ही मैच में वह गैर जिम्मेदाराना शॉट खेल कर आउट हुए. अब अगर वह इस मैच में भी फेल रहते है तो टीम मैनेजमेंट उन्हे बाहर का रास्ता भी दिखा सकती है.

स्टीवन स्मिथ- टीम के कप्तान और सबसे सफल बल्लेबाज से पुणे टीम को काफी उम्मीद होगी. पहला मैच अपने दम पर जीताने वाले स्मिथ दूसरे मैच में ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और तीसरे मैच में वह बीमारी की वजह से बाहर हो गए अब स्मिथ फिट है और स्मिथ शानदार फॉर्म में होना पुणे के लिए सबसे अच्छी चीज है.

बेन स्टोक्स-  इस आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने तीनों मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है. इस प्रदर्शन से उन्होने बता दिया कि उन पर जो विश्वास दिखाया गया था वह बिल्कुल सही था. हालांकि गेंजबाजी अब तक उनकी फ्लॉप रही है.

एमएस धोनी- भारतीय इतिहास से सबसे सफल कप्तान और बेस्ट फिनिशर रहे महेंद्र सिंह धोनी का बल्ला अब तक शांत ही रहा है. पहले मैच में उन्होने 12 गेंद पर 12 ही रन बनाए, वहीं दूसरे मैच में भी वह केवल 5 रन ही बना पाए. तीसरे मैच में जब उनकी टीम संकट में थी तो भी वह कुछ नहीं कर पाए और केवल 11 रन बनाकर आट हो गए. अब अगर पुणे को जीतना है तो धोनी का बल्ला हर हाल में चलना होगा.

मनोज तिवारी- दूसरे मैच में स्टोक्स के साथ शानदार साझेदारी करने वाले बंगाल के मनोज तिवारी इस समय पूरी लय में हैं.हालांकि तीसरे मैच में वह पिता के निधन के बाद नहीं खेल पाए थे लेकिन ब वह चयन के लिए उपलब्ध है. घरेलू सीजन में रनों की बारिश करने के बाद तिवारी ने दूसरे मैच में भी 40 रन की नाबाद पारी खेली थी. उम्मीद है उनका ये प्रदर्शन आगे भी जारी रहेगा.

रजत भाटिया- पुणे टीम के इस अनुभवी खिलाड़ी का अब तक का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. रजत दूसरे और तीसरे मैच में अपना स्पैल तक पूरा नहीं कर पाए. अब उन्हे अपनी जिम्मेदारी संभालनी होगी और अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना होगा.

डेनियल क्रिस्टियन- ऑस्ट्रेलिया के इस ऑलराउंडर ने दूसरे मैच में बल्लेबाजी तो ताबड़तोड़ की लेकिन एक गेंदबाज के रूप में वह बुरी तरह फ्लॉप रहे. इसी कारण उन्हे तीसरे मैच से बाहर बैठना पड़ा हालांकि पिच को देखते हुए इन्हे इस मैच में मौका मिल सकता है.

दीपक चाहर- राजस्थान का ये तेज गेंदबाज अब तक आईपीएल में कुछ कमाल नहीं कर पाया है, दीपक न तो रन रोक पा रहे हैं और न ही विकेट ले रहे हैं. इसलिए उन्हे जल्दी ही अपने प्रदर्शन करना होगा, नहीं तो टीम से उनकी छुट्टी हो सकती है.

इमरान ताहिर- इस गेंदबाज की जितनी तारीफ की जाए कम होगी. नीलामी में न बिकने के बाग भी इस खिलाड़ी का आत्मविश्वास कम नहीं हुआ और तीनों ही मैच में उनका प्रदर्शन जबरदस्त रहा है.

ईश्वर पांडे- पिछले तीनों मैचों में अशोक डिंडा के खराब प्रदर्शन के बाद मध्यप्रदेश के इस तेज गेंदबाज को इस मैच में मौका मिल सकता है. ईश्वर शुरुआती ओवर में स्विंग से विरोधी बल्लेबाजों को काफी परेशान कर सकते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi