In association with
S M L

आईपीएल 2017: कोलकाता और गुजरात में होगी रोमांचक भिड़ंत!

केकेआर की ताकत गेंदबाजी, गुजरात की बल्लेबाजी

FP Staff Updated On: Apr 07, 2017 11:33 AM IST

0
आईपीएल 2017: कोलकाता और गुजरात में होगी रोमांचक भिड़ंत!

आईपीएल 10 के तीसरे मैच में कोलकाता नाइटराइडर्स अपना पहला मैच खेलने के लिये उतरेगी तो उसके सामने सबसे बड़ी चुनौती गुजरात लायंस के शीर्ष क्रम से पार पाना होगा जिसमें कुछ दिग्गज विदेशी बल्लेबाज शामिल हैं.

सुरेश रैना की कप्तानी वाली लायंस की टीम ने अपने पहले ही साल में अच्छा प्रदर्शन किया और वह लीग मैचों में शीर्ष पर रही थी. यह अलग बात है कि क्वालीफायर्स में वह बेहतर खेल नहीं दिखा पाई और आखिर में उसे तीसरे स्थान पर रहना पड़ा.

केकेआर ने भी गौतम गंभीर की कप्तानी में अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा है और पिछले साल वह सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही थी. गुजरात लायंस का बल्लेबाजी क्रम सभी टीमों में सबसे मजबूत है. उनके पास शीर्ष क्रम में ब्रैंडन मैकलम, ड्वेन स्मिथ, एरोन फिंच और रैना शामिल हैं. इन चारों ने पिछले साल 300 से अधिक रन बनाए थे.

मिडिल ऑर्डर में बेहतरीन फार्म में चल रहे दिनेश कार्तिक और ईशान किशन हैं जबकि जेम्स फॉकनर जैसे बिग हिटर डेथ ओवरों में अपनी उपयोगिता साबित कर चुके हैं. ड्वेन ब्रावो और रविंद्र जडेजा के न खेलने से गुजरात को थोड़ा नुकसान हो सकता है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में बल्ले और गेंद दोनों से बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले जडेजा के बारे में लायंस के कोच ब्रैड हॉज भी कह चुके हैं कि उनकी भरपाई कोई अन्य खिलाड़ी नहीं कर सकता है. निश्चित तौर पर केकेआर के खिलाफ लायंस को उनकी कमी खलेगी.

लायंस की गेंदबाजी काफी हद तक घरेलू गेंदबाजों पर निर्भर है जिसमें धवल कुलकर्णी और प्रवीण कुमार प्रमुख हैं. स्मिथ और फॉकनर की उपस्थिति से रैना के पास अधिक विकल्प होंगे. जडेजा की वापसी की तक स्पिन विभाग की जिम्मेदारी शादाब जकाती और शिविल कौशिक पर रहेगी.

लायंस के इन गेंदबाजों की केकेआर के घरेलू बल्लेबाजों के सामने ही परीक्षा होगी जिसकी अगुवाई कप्तान गंभीर करेंगे. उनके अलावा रोबिन उथप्पा, मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, इशांक जग्गी और यूसुफ पठान केकेआर के बल्लेबाजी क्रम में शामिल हैं.

केकेआर को वेस्टइंडीज के आंद्रे रसेल की कमी खलेगी जो एक साल का प्रतिबंध लगने के कारण इस बार आईपीएल में नहीं खेल रहे हैं. इंग्लैंड के क्रिस वोक्स और न्यूजीलैंड के कोलिन डि ग्रैंडहोम पर उनकी कमी पूरी करने की जिम्मेदारी रहेगी.

केकेआर के पास मध्यक्रम में शाकिब अल हसन के रुप में एक अच्छा ऑलराउंडर है लेकिन वह इस मैच में नहीं खेल पाएंगे.

कैरेबियाई स्पिनर सुनील नारायण फिर से गंभीर के लिये तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं. नारायण ने केकेआर की तरफ से अब तक काफी अच्छा प्रदर्शन किया है. स्पिन विभाग में उनका साथ देने के लिये पीयूष चावला और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला टेस्ट मैच में प्रभावशाली डेब्यू किया था. केकेआर की तेज गेंदबाज उमेश यादव शुरुआती दो मैचों में नहीं खेल पाएंगे और ऐसे में टीम न्यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्ट से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर रही होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गणतंंत्र दिवस पर बेटियां दिखाएंगी कमाल!

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi