In association with
S M L

आईपीएल 2017 Match 13 Preview: जीत को तरसे गुजरात पर पड़ेगा जडेजा की वापसी का असर!

गुजरात लायंस ने नहीं खोला है जीत का खाता, राइजिंग पुणे सुपरजायंट के हैं दो अंक

Bhasha Updated On: Apr 13, 2017 06:31 PM IST

0
आईपीएल 2017 Match 13 Preview: जीत को तरसे गुजरात पर पड़ेगा जडेजा की वापसी का असर!

ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा की वापसी से गुजरात लायंस का मनोबल बढ़ा हुआ है. इससे टीम शुक्रवार को राजकोट में आईपीएल के मैच में राइजिंग पुणे सुपरजायंट के खिलाफ जीत दर्ज करने के लिए बेकरार होगी.

गुजरात लायंस पिछले साल अपने पहले आईपीएल में तीसरे स्थान पर रही थी. हालांकि टूर्नामेंट के इस चरण में उन्हें अच्छी शुरुआत नहीं मिली है. सुरेश रैना की अगुवाई वाली टीम को शुरुआती दो मैचों में दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स और पिछली चैंपियन सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों में शिकस्त मिली है.

गुजरात लायंस की टीम को जडेजा के रूप में बड़ा मनोबल मिलेगा जिनके अपना पहला आईपीएल मैच खेलने की उम्मीद है. पहले दो मैचों में टीम को जडेजा की कमी खली जिन्हें बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की चार मैचों की टेस्ट सीरीज खत्म होने के तुरंत बाद दो हफ्ते के आराम की सलाह दी थी. जडेजा ने भारत के लिए घरेलू सत्र में गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया है. उनकी वापसी से निश्चित रूप से गुजरात लायंस का मनोबल बढ़ेगा.

एक अन्य अहम सदस्य वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो के खेलने पर संदेह बना हुआ है, जो चोट से उबर रहे हैं. हालांकि उन्होंने टीम के अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया था.

गुजरात लायंस का मजबूत पक्ष टीम का बल्लेबाजी विभाग है जिसमें ब्रैंडन मैक्कलम, एरॉन फिंच, जेसन रॉय, रैना और दिनेश कार्तिक जैसे क्रिकेटर मौजूद हैं. हालांकि मैक्कलम और फिंच अभी तक उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके हैं. उन्होंने पहले दो मैचों में क्रमश: 40 और 18 रन ही बनाये हैं. सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय ने केकेआर और हैदराबाद के खिलाफ दोनों मौकों पर पारी में अच्छी शुरुआत की लेकिन इसे बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सके.

केवल कप्तान रैना और कार्तिक ने ही मध्यक्रम में जिम्मेदारी बखूबी संभाली, रैना ने घरेलू मैदान पर केकेआर के खिलाफ नाबाद 68 रन बनाए. वेस्टइंडीज के ड्वेन स्मिथ जिस दिन चल जाएं तो बल्ले से आक्रामक हो सकते हैं. लेकिन गुजरात की मुख्य समस्या उसकी गेंदबाजी हैं, जिसमें अनुभव और पैनेपन की कमी है.

पहले दो मैचों में गुजरात लायंस के गेंदबाज केवल एक ही विकेट हासिल कर पाए हैं जिसमें अनुभवी प्रवीण कुमार ने शिखर धवन का विकेट झटका था. धवल कुलकर्णी पिछले साल लायंस के सबसे सफल गेंदबाज थे. उनके साथ प्रवीण, बासिल थम्पी, लेग स्पिनर तेजस बरोका और बाएं हाथ के चाइनामैन शिविल कौशक पहले दो मैचों में साधारण ही लगे.

जडेजा और अनुभवी मुनाफ पटेल का अंतिम एकादश में शामिल करना निश्चित रूप से टीम के गेंदबाजी आक्रमण को मजबूती देगा. वहीं राइजिंग पुणे सुपरजायंट ने किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ लगातार दो मैचों में हारने के बाद मुंबई इंडियंस को पराजित कर जीत से अपने अभियान की शुरुआत की थी.

सलामी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने पहले मैच में अर्धशतक जड़ा था और वह मयंक अग्रवाल के साथ अच्छी शुरुआत देना चाहेंगे. पेट खराब होने के कारण पिछले मैच में नहीं खेलने वाले कप्तान स्टीवन स्मिथ के अंतिम एकादश में वापसी की उम्मीद है. वहीं मनोज तिवारी पिता के निधन के कारण मैच में नहीं खेल पाए थे. उनके भी शामिल किये जाने की उम्मीद है.

स्मिथ, तिवारी और आईपीएल 10 में बिके सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स में बड़े शॉट खेलने की क्षमता है, लेकिन पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की फॉर्म चिंता का विषय है.

पुणे की गेंदबाजी लेग स्पिनर इमरान ताहिर के इर्द गिर्द घूमती है लेकिन स्मिथ को अशोक डिंडा, दीपक चाहर और स्टोक्स की तिकड़ी से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गणतंंत्र दिवस पर बेटियां दिखाएंगी कमाल!

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi