S M L

IPL 2018: एक बार फिर 'विराट चैलेंज' देने को तैयार बेंगलुरु

विराट कोहली और एबी डिविलियर्स की 5 बार 100 रन से ज्यादा और दो बार 200 रन से ज्यादा की पाटर्नरशिप की है

Updated On: Apr 04, 2018 10:43 AM IST

Kiran Singh

0
IPL 2018: एक बार फिर 'विराट चैलेंज' देने को तैयार बेंगलुरु
Loading...

रन मशीन भारतीय कप्तान विराट कोहली आईपीएल के पहले सत्र से ही फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के साथ हैं, लेकिन यह कोहली का दुर्भाग्य ही माना जा सकता है कि अपनी कप्तानी के टीम इंडिया को कई खिताब दिलाने वाले वाले विराट कोहली बेंगलुरु को कई बार आईपीएल का खिताब दिलाने से चूक गए. बेंगलुरु तीन बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची. 2009 में डेक्कन चार्जस, 2011 में चेन्नई सुपर किंग्स और 2016 में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों खिताब के काफी करीब पहुंचकर विराट कोहली की टीम को हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इस बार कोहली की टीम इस खिताब को जीतने के लिए और अधिक मजबूत हो गई है.

 

फ्रेंचाइची ने इस बार काफी सोच समझकर खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ा है. टी20 के धाकड़ बल्लेबाज पिछले सीजन फ्लॉप रहे थे और जिस कारण बेंगलुरु ने इस बार उन्हें अपने साथ शामिल नहीं किया. फ्रेंचाइजी ने निलामी में 21 खिलाड़ियों को खरीदा है. उसमें क्रिस वोक्स को 7.4 करोड़ रुपये में अपने साथ जोड़ा है.

 

तिकड़ी से बाकी बल्लेबाजों की मिलेगा मजबूती

 

rcb

बल्लेबाज को मजबूती देने के लिए टीम में विराट कोहली के अलावा साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स और पूर्व न्यूजीलैंड कप्तान ब्रैंडन मैकुलम मौजूद हैं. इस तिकड़ी का बल्ला ज्यादातर मैच में चला ही है. तीनों ही खिलाड़ी अपने आक्रामक खेल से गेंदबाजों को काफी परेशान करते हैं. कोहली 2017 आईपीएल में दूसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे थे. आईपीएल में 4000 रन तक पहुंचने वाले कोहली पहले खिलाड़ी बने थे.

 

कोहली और एबी हैं एक्स फैक्टर

rcb3

कोहली के साथ मैदान पर डिविलियर्स की जोड़ी खूब जमती है. कोहली और डिविलियर्स ने पांच बार 100 रन ज्यादा और दो बार 200 रन से ज्यादा की साझेदारी की. टीम को मजबूत शुरुआत देने में मैकुलम को महारथ हासिल है. इस तिकड़ी के होने से टीम को मजबूती मिलती है. इनके अलावा वहीं मनन वोहरा भी अपने लय में चल रहे हैं. घरेलू सत्र में पंजाब की ओर से खेलते हुए रेलवे के खिलाफ 143 रन और असम के खिलाफ 78 रन की पारी खेली थी.

चहल और साउदी खेल पलटने का रखते हैं दम

गेंदबाजी में बेंगलुरु के पास युजवेंद्र  चहल जैसा स्पिनर और टिम साउदी जैसे तेज गेंदबाज है. चहल ने साउथ अफ्रीका दौरे पर अपनी गेंदबाजी से बल्लेबाजों को काफी परेशान कर डाला था, वहीं न्यूजीलैंड के साउदी ने इंग्लिश बल्लेाबाजें के नाम में दम कर दिया था, टी 20 क्रिकेट में साउदी ने 51 मैच खेले हैं, जिसकी 49 पारियों में 62 विकेट हासिल किए हैं. चहल 2014 से बेंगलुरु का हिस्सा है और 55 मैचों में 70 विकेट हासिल किए हैं. बेंगलुरु ने राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल करके चहल को अपने साथ एक बार फिर शामिल किया था. तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की स्लोअर गेंद चौंका सकती है. वहीं अनुभवी तेज गेंदबाज उमेश यादव की मौजूदगी से टीम के गेंदबाजों मजबूती भी मिलेगी.

 

मैच को घुमा सकते है आॅलराउंडर्स की सेना

 

rcb4

आरसीबी ने बल्लेबाज औ गेंदबाजी खेमे के अलावा इस बार आॅलराउंडर्स पर भी काफी ध्यान दिया है. टीम में 6 आॅल राउंडर्स है क्रिस वोक्स, कोलिन डी ग्रैंडहोम, पवन नेगी, मोइन अली, वाशिंगटन सुंदर शामिल है, जो बल्ले और गेंद दोनों से ही टीम की काफी मदद करने में निपुण हैं. हाल ही में श्रीलंका में खेले गए निदाहास ट्रॉफी में वाशिंगटन ने अपनी गेंदबाजी से सभी को प्रभावित किया था.

 

फोटो साभार : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi