S M L

एकता बिष्ट से बदसलूकी, विशिष्ट अतिथि होने के बावजूद मंच पर जगह नहीं मिली

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम में महिला क्रिकेटर से बदसलूकी, विशिष्ट अतिथि होने के बावजूद मंच पर जगह नहीं मिली

Updated On: Sep 18, 2017 02:16 PM IST

FP Staff

0
एकता बिष्ट से बदसलूकी, विशिष्ट अतिथि होने के बावजूद मंच पर जगह नहीं मिली

भारत को विश्वकप फाइनल में पहुंचाने वाले में अहम भूमिका निभाने वाली एकता बिष्ट के साथ उन्हीं के राज्य में शर्मानक व्यवहार किया गया. देहरादून के रेसकोर्स मैदान में पीएम मोदी के जन्मदिन पर 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ' कार्यक्रम में एकता रविवार को शिरकत करने पहुंचीं थीं. कार्यक्रम में एकता को विशिष्ट अतिथि के तौर पर बुलाया गया था लेकिन बीजेपी नेता और मंत्रियों के स्टेज पर पूरी जगह घेर लेने के कारण सुरक्षाकर्मियों ने धक्के देकर एकता को मंच से नीचे उतार दिया.

कार्यक्रम सुबह करीब नौ बजे शुरू हुआ था. उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, राज्य सरकार में मंत्री धनसिंह रावत और रेखा आर्य स्टेज पर पहुंचे. उनके साथ बीजीपी के कई कार्यकर्ता भी मंच पर चढ़ गए और स्टेज पूरी तरह भर गया. जब एकता बिष्ठ मंच पर जाने लगी तो सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें मंच पर जाने से रोक दिया.

एकता को जब सुरक्षाकर्मियों ने मंच से धक्का देकर नीचे उतार दिया तो वह मंच के सामने जनता के लिए लगाई गई कुर्सियों में से एक पर जाकर बैठ गईं. प्रोग्राम शुरू हो गया. इसी बीच  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंच से एकता बिष्ट का नाम लिया. एकता का नाम लेते ही आयोजकों की हालत खराब हो गई. मुख्यमंत्री द्वारा एकता का नाम लिए जाने के बाद एकता को जनता के बीच से मंच पर लेकर आया गया. महिला क्रिकेट विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ एकता बिष्ट ने पांच विकेट लिए थे.  एकता ने 46 वनडे इंटरनेशनल मैचों में कुल 71 विकेट लिए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi