S M L

India vs West Indies, 2nd Test : युवा जोश और अनुभव के मिश्रण ने भारत को दिलाई जीत, सीरीज भी की अपने नाम

भारत को जीत के लिए 72 रन का लक्ष्य मिला. इस लक्ष्य को उसने बिना विकेट गंवाए 75 रन बनाकर हासिल कर लिया

Updated On: Oct 14, 2018 09:55 PM IST

FP Staff

0
India vs West Indies, 2nd Test : युवा जोश और अनुभव के मिश्रण ने भारत को दिलाई जीत, सीरीज भी की अपने नाम

दूसरे और अंतिम टेस्ट मैच के तीसरे दिन शायद ही किसी ने सोचा होगा कि ये मैच रविवार को ही खत्म हो जाएगा. उस समय कर दोनों टीमों की एक एक पारी भी पूरी नहीं हुई थीं. लेकिन तेज गेंदबाज उमेश यादव ने अपने करियर में पहली बार मैच में दस विकेट लेने का कमाल किया, जिससे भारत ने वेस्टइंडीज को रिकॉर्ड दस विकेट से हराकर दो मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप किया. रविवार को कुल 16 विकेट मिले. लेकिन उसमें वेस्टइंडीज की पूरी दूसरी पारी थी तो भारत के पहली पारी के छह विकेट. भारत की जीत में जहां युवा पृथ्वी शॉ और ऋषभ पंत  ने बल्लेबाजी में अहम भूमिका निभाई, तो वहीं गेंदबाजी में उमेश यादव और रवींद्र जडेजा का अनुभव टीम के काम आया.

टेस्ट क्रिकेट में यह आठवां अवसर है जबकि भारत दस विकेट से जीत दर्ज करने में सफल रहा. वेस्टइंडीज के खिलाफ उसने पहली बार यह उपलब्धि हासिल की. भारतीय टीम ने राजकोट में पहले टेस्ट मैच में भी पारी और 272 रन से रिकॉर्ड जीत दर्ज की थी. भारत ने स्वदेश में लगातार दस सीरीज जीतकर ऑस्ट्रेलियाई रिकॉर्ड की बराबरी भी की.

पृथ्वी शॉ ने लगाया विजयी चौका

वेस्टइंडीज की टीम भारत को पहली पारी में 367 रन पर रोकने में सफल रही, लेकिन इसके बाद उसके बल्लेबाज नहीं चले और उसकी टीम दूसरी पारी में 127 रन पर ढेर हो गई. पहली पारी में 56 रन की बढ़त हासिल करने वाले भारत को इस तरह से 72 रन का लक्ष्य मिला. युवा पृथ्वी शॉ (नाबाद 33) और फॉर्म से जूझ रहे केएल राहुल (नाबाद 33) ने 16.1 ओवर में भारत का स्कोर बिना किसी नुकसान के 75 रन पर पहुंचाकर टीम को तीसरे दिन ही जीत दिलाई. अठारह साल, 339 दिन के शॉ ने विजयी चौका लगाया. वह भारत की तरफ से विजयी रन बनाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं.

उमेश ने पहली बार झटके दस विकेट

उमेश ने  दूसरी पारी में 45 रन देकर चार विकेट लिए और इस तरह से मैच में 133 रन देकर दस विकेट लेने में सफल रहे. वह कपिल देव और जवागल श्रीनाथ के बाद घरेलू सरजमीं पर मैच में दस या अधिक विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय तेज गेंदबाज बन गए हैं. उमेश को दूसरी पारी में अन्य तीनों गेंदबाजों रवींद्र जडेजा (3/12), रविचंद्रन अश्विन (2/24) और कुलदीप यादव (1/45) का अच्छा सहयोग मिला.

जूझते नजर आए मेहमान बल्लेबाज

वेस्टइंडीज के बल्लेबाज फिर से जूझते नजर आए. उसकी तरफ से सुनील एंबरीस ने 38 और शाई होप ने 28 रन बनाए. उमेश के पास वेस्टइंडीज की दूसरी पारी के शुरू में ही दो पारियों में बंटी हैट्रिक का मौका था. लेकिन क्रेग ब्रेथवेट (00) पहली गेंद पर बच गए. उन्होंने हालांकि लेग साइड की अगली गेंद पर विकेटकीपर ऋषभ पंत को कैच दे दिया. दूसरे सलामी बल्लेबाज कीरन पावेल (06) ने अश्विन की गेंद पर स्लिप में अजिंक्य रहाणे को कैच दिया. इसके बाद शाई होप और शिमरोन हेटमेयर (17) ने तीसरे विकेट के लिए 39 रन की साझेदारी की. इस बीच होप ने उमेश पर तीन दर्शनीय चौके लगाए. हेटमेयर ने कुलदीप पर करारा शॉट लगाने के प्रयास में प्वाइंट पर चेतेश्वर पुजारा को कैच थमाकर अपना विकेट इनाम में दिया, जबकि होप को जडेजा ने पवेलियन भेजा.

दूसरी पारी में चेस ने किया निराश

वेस्टइंडीज की उम्मीदें पहली पारी के शतकवीर रोस्टन चेस (06) पर थी, लेकिन उमेश की तीखी इनस्विंगर पर वह बोल्ड हो गए. उमेश ने इसके बाद शॉन डॉवरिच (00) को एलबीडबल्यू किया.उमेश के पास हैट्रिक का मौका था, लेकिन होल्डर ने उन्हें यह उपलब्धि हासिल नहीं करने दी. उन्होंने शैनन गैब्रियल को आउट करके कैरेबियाई पारी का अंत करने के साथ मैच में दस विकेट लिए. इससे पहले जडेजा ने होल्डर और एंबरीस को पवेलियन भेजा. इन दोनों ने सातवें विकेट के लिए 38 रन जोड़े थे.

लगातार दूसरे मैच में शतक से चूके पंत 

भारत ने सुबह चार विकेट पर 308 रन से आगे खेलना शुरू किया, लेकिन पंत लगातार दूसरे मैच में शतक से चूक गए. भारत का स्कोर एक समय चार विकेट पर 314 रन था, लेकिन उसने 16.1 ओवर और 25 रन के अंदर पांच विकेट गंवा दिए जिससे स्कोर नौ विकेट पर 339 रन हो गया. इसके बाद अश्विन (83 गेंदों पर 35 रन) ने उपयोगी योगदान दिया. उन्होंने चोटिल शार्दुल ठाकुर (नाबाद 04  के साथ अंतिम विकेट के लिए 28 रन जोड़े.

जेसन होल्डर ने झटके पांच विकेट

वेस्टइंडीज के कप्तान होल्डर (23 ओवर में 56 रन देकर पांच विकेट) ने दूसरी नई गेंद का अच्छा इस्तेमाल किया और अपने टेस्ट करियर में पांचवीं बार पारी में पांच विकेट लिए. शनिवार को कुछ गलतियां करने वाले गैब्रियल ने 107 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. होल्डर ने अपनी उछाल लेती गेंद पर रहाणे (183 गेंदों पर 80 रन) की दसवें टेस्ट शतक की उम्मीदें समाप्त की. रहाणे ने अपनी पारी में सात चौके लगाए. रहाणे और पंत ने पांचवें विकेट के लिए 152 रन जोड़े और यह साझेदारी टूटते ही भारतीय विकेट भी तेजी से निकलने लगे.

अश्विन ने बनाए उपयोगी रन

पंत (92 रन) अपने कल के स्कोर में केवल आठ रन जोड़ पाए. उन्होंने गैब्रियल की शॉर्ट पिच गेंद पर कवर प्वाइंट पर हेटमेयर को आसान कैच दिया. पंत राजकोट में पहले टेस्ट मैच में भी 92 रन पर आउट हो गए थे. उन्होंने 134 गेंद की अपनी पारी में 11 चौके और दो छक्के लगाए. होल्डर ने जडेजा (00) और कुलदीप (02) को जल्द ही पवेलियन की राह दिखाकर अपने पांच विकेट पूरे किए. अश्विन ने हालांकि अपना पहला टेस्ट मैच खेल शार्दुल के साथ कुछ उपयोगी रन बटोरे. शार्दुल मांसपेशियों में खिंचाव के बावजूद क्रीज पर उतरे और उन्होंने अश्विन का अच्छा साथ दिया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi